ATTACHOWK.COM

Noida news, events, developments, issues, comments on issues

जिला कारागार के कैदियों की पेंटिंग्स राष् ट्रीय अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर करेंगी देश ना म रोशन

गौतमबुद्ध नगर -जिला कारागार में प्रवेश के साथ ही हर व्यक्ति की निगाहें दीवारों पर बनी वॉल पेंटिंग्स पर ठहर जाती हैं। हर पेंटिंग अपने आप में कुछ भाव बयां करती है। ये पेंटिंग्स किसी प्रोफेशनल्स ने नहीं बल्कि कारागार में विभिन्न अपराधों में बंद कैदियों ने बनाई हैं। कारागार प्रशान ने कैदियों की प्रतिभा को तराशने के लिए एक आर्ट गैलरी का भी निर्माण कराया है, जिसमें प्रतिभाशाली चित्रकार तैयार हो रहे हैं।

कारागार प्रशासन ने जिला प्रशासन की पहल पर कैदियों द्वारा बनाई गई पेंटिंग्स को राष्ट्रीय और अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित होने वाली प्रदर्शनियों में पेश करने की तैयारी कर रहा है। आगामी एक्सपोमार्ट में आयोजित होने वाली प्रदर्शनी में कारगार की आर्ट गैलरी का भी एक स्टाल लगाया जायेगा, जहां ये पेंटिंग्स सजाई जाएंगी। जिला कारागार अधीक्षक एमएल यादव ने बताया कि कैदियों की सकारात्मक ऊर्जा के सदउपयोग के लिए प्रशिक्षण की व्यवस्था की गई है। इससे अभी तक दर्जनभर से अधिक कैदियों ने पेंटिंग बनाने की कला सीख ली है। जिलाधिकारी बीएन सिंह से बातचीत के बाद इन पेंटिंग्स को लोगों के सामने लाने का प्रयास किया जाएगा। पेंटिंग्स की बिक्री के बाद होने वाली कमाई को कैदियों के कल्याण पर खर्च किया जाएगा और उनके खातों में जमा किया जाएगा।

एमएल यादव ने बताया कि 2 साल पूर्व जेल में हत्या के आरोप में बंद मिथुन नामक एक कैदी ने पेंटिंग बनानी शुरू की थी। जेल प्रशासन के सहयोग से उसको प्रोत्साहन मिला। इसी का परिणाम रहा है कि वर्तमान में लगभग एक दर्जन कैदी प्रोत्साहन प्राप्त कर प्रोफेेसनल्स की तरह पेंटिंग बना रहे हैं। बहरहाल, मिथुन जमानत पर रिहा हो चुका है, लेकिन उसकी प्रेरणा से दीपक और जेके नामक कैदी अन्य कैदियों के लिए प्रेरणा स्रोत बने हुए हैं। उनके अनुसार दीपक नाबालिग से रेप के आरोप में जेल में बंद है।

साढ़े 7 हजार की बिक चुकी है 4 पेंटिंग्स

जेल अधीक्षक के अनुसार ग्रेटर नोएडा में पिछले दिनों आयोजित की गई एक प्रदर्शनी में कैदियों द्वारा बनाई गई पेंटिंग्स को प्रस्तुत किया गया था। इनमें से 4 पेंटिंग्स साढ़े सात हजार रुपयें में बिकी थी। इसकेे बाद इन पेंटिंग्स को बड़े मंचों पर पेश करने का विचार मन में आया है जिसको जिलाधिकारी बीएन सिंह के सहयोग से स्वीकृति मिल चुकी है।

आपसी विवाद के चलते चाचा भतीजे पर चाकू से हम ला

नॉएडा -कोतवाली क्षेत्र के तालडा गांव में रविवार शाम पुरानी रंजिश को लेकर पड़ोस के आरोपियों ने चाचा-भतीजे को चाकू मारकर घायल कर दिया। दोनों घायलों का प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में इलाज चल रहा है। इस मामले में पीड़ित परिवार ने 4 लोगों के खिलाफ नामजद शिकायत कोतवाली में दी है।
तालड़ा गांव निवासी बुजुर्ग कन्नी ने बताया कि रविवार की शाम वह अपने भतीजे संदीप के साथ किसी काम से खेत पर जा रहा था। आरोप है कि रास्ते में पहले से ही घात लगाए खड़े गांव के 4 आरोपियों ने दोनों चाचा-भतीजे पर चाकू से जानलेवा हमला कर दिया।

इस घटना में दोनों पीड़ित बुरी तरह से लहूलुहान होकर जमीन पर गिर पड़े। बाद में राहगीरों को आता देख आरोपी मौके से धमकी देते हुए भाग गए। पीड़ित पक्ष का आरोप है कि आरोपियों से कई दिन पहले उनका विवाद हो गया था।

जिसके चलते ही आरोपी गुट ने उन पर जानलेवा हमला किया है। दनकौर कोतवाल फरमूद अली पुंडीर ने बताया कि पीड़ित पक्ष की शिकायत के आधार पर मामले में जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

आम्रपाली में अपनी खून पसीने की कमाई गवा चु के सैकड़ो बायर्स ने नोएडा स्टेडियम से डीएम चौ क तक कैंडल मार्च निकाला

नोएडा : हाईटेक सिटी नोएडा को मीडिया की सुर्ख़ियों में लाने वाले आम्रपाली बिल्डर के खिलाफ चल रहे धरना प्रदर्शन को आज पुरे महीना भर हो चला है, लेकिन अपने आशियाने का सपना संजोये इन बायर्स की सुध लेने को न तो सरकार ही तैयार हो रही है और ना ही नोएडा प्राधिकरण, बिल्डर कंपनी ने तो अपने हाथ खड़े कर हीं दिए हैं। आज महीने भर बाद भी सैकड़ों बायर्स सड़क पर धरना दे रहे हैं। सरकार के नुमाइंदे इनसे मुलाकात जरुर करते हैं और इन्हें आश्वासन भी देते हैं, लेकिन नतीजा हर बार सिफर ही रहता है।हजारों बायर्स को सड़कों पर ला देने वाले इन चोर और लूटेरे बिल्डर्स के खिलाफ FIR भी डेढ़ हुई, लेकिन जब कई दिन बीत जाने के बाद कोई कार्यवाही नहीं हुई तो सैकड़ों बायर्स सड़क पर उतरने को मजबूर हो गये। आम्रपाली में अपनी खून-पसीने की कमाई गँवा चुके सैकड़ों बायर्स ने नोएडा स्टेडियम से लेकर डीएम कार्यालय तक कैंडल मार्च निकाला। बायर्स का कहना है कि सरकार और प्रशासन की उदासीनता के चलते अब उनके सब्र का बांध टूटने लगा है, जिसकी वजह से उन्हें सड़कों पर उतरने के लिए मजबूर होना पड़ा। अब यदि सरकार ने कोई कदम नहीं उठाया तो उनका प्रदर्शन अब उग्र रूप धारण कर लेगा।

कुछ दिनों पहले जे. पी. बिल्डर के खिलाफ धरना करने वालों सैकड़ों निवेशकों का धैर्य जवाब दे गया था, जिसके बाद बायर्स ने अपना गुस्सा जे. पी. के दफ्तर पर निकाला और दफ्तर पर जम कर तोड़ फोड़ की गयी। वहीँ महीने भर से शान्तिपूर्ण तरीके से विरोध प्रदर्शन कर रहे आम्रपाली बायर्स का धैर्य भी अब टूटने लगा है। ऐसे में सवाल ये है कि आखिर क्या वजह है कि सरकार इनके सब्र की परीक्षा ले रही है ? अब देखना ये होगा कि आने वाले दिनों में इन बायर्स का प्रदर्शन क्या रूप लेता है।

खोड़ा में हुई बीजेपी नेता की हत्या का हुआ खु लासा

गाजियाबाद पुलिस ने खोड़ा में हुए भाजपा नेता गजेंदर उर्फ़ गज्जी की हत्या के आरोपियों को पकड़ लिया और आरोपियों द्वारा की गई गजेंद्र की हत्या के पीछे की वजह का किया खुलासा। जिन आरोपियों ने बीजेपी नेता गजेंद्र को गोली मारी थी उनसे पुलिस ने पूछताछ की तो बताया कि उन्होंने 10 लाख की सुपारी लेकर भाजपा नेता की हत्या की थी और उन्हें इस हत्या की सुपाड़ी पूर्व विधायक अमरपाल शर्मा ने दी थी। आरोपियों ने यह भी कबूला है कि अमरपाल के कहने पर ही उन्होंने पूर्व में प्रदीप उर्फ़ टीटी की भी हत्या की थी और बताया कि अमरपाल एक और हत्या कराना चाहता था। पूर्व में अमरपाल बसपा से विधायक था और इस बार वो कांग्रेस के टिकट पर साहिबाबाद से चुनाव लड़ा था और हार गया था।

KHODA BJP LEADER GAJENDER’s SHARP SHOOTERS ARRESTTED

Big breaking News..
गाजियाबाद पुलिस ने खोड़ा में हुए भाजपा नेता गजेंदर उर्फ़ गज्जी की हत्या का खुलासा किया है। शूटर पकडे गए है। पूछताछ में शूटरों ने बताया है कि उनोहने 10 लाख की सुपारी लेकर भाजपा नेता की हत्या की थी और ये सुपारी उन्हें पूर्व विधायक अमरपाल शर्मा ने दी थी। बदमाशो ने कबूला है कि अमरपाल के कहने पर ही उनोहने पूर्व में प्रदीप उर्फ़ टीटी की भी हत्या की थी। अमरपाल एक और हत्या कराना चाहता था। अमरपाल बसपा से विधायक था और इस बार वो कांग्रेस के टिकट पर साहिबाबाद से चुनाव लड़ा था और हार गया था।

Kartik Kunj Noida — Zhuggies menace on rise

Pics dated 08/09/2017. New jhuggies are rebuilding after demolushing drive by NA dated 07/05/2017 after lot of followup with a request to provide hygenic condition to nearby residents. Jhuggi clysters are increasing day by day, but no action taken by NA for the last 4 months. However, drive for removal of jhuggi clusters was stopped midway by NA, reasons best known to them.

Now, with a gr8 hope, I once again humble request to NA Managemt and MLA, Shri Pankaj ji to provide us hygenic conditions, so that our suffeeing for the last 10-12 can be over. Lot of pigs and animals are retained by jhuggi clusters.

Above place was marked as park as per NA map.

Thanks,

Secretary
Kartik Kunj Society RWA
Plot D13
Sector 44

अवैध खनन पर जिला प्रशासन ने कसा शिंकजा, बाल ू से भरी 5 ट्रालियो को किया जप्त

जिला प्रशासन ने एक बड़ी कार्यवाही करते हुए अवैध खनन पर शिंकजा कसा | दरसल जिलाधिकारी गौतम बुद्ध नगर बीएन सिंह के निर्देश पर जनपद में अवैध खनन पर अंकुश लगाने के लिए निरंतर रूप से कार्यवाही की जा रही है। इसी कड़ी में उप जिलाधिकारी सदर अंजनी कुमार तथा उनकी टीम के द्वारा गांव मुरशद पुर अट्टा गुजरान तथा जगनपुर अफजलपुर में बड़ी कार्रवाई करते हुए अवैध खनन में प्रयोग की जा रही बालू से भरी 5 ट्रालियो को जप्त किया गया है और रेत के ढेर भी जब्त करने की कार्रवाई की गई है ।

राष्ट्रीय शैक्षणिक छात्रवृत्ति परीक्षा म ें सिद्धार्थ यादव ने राष्ट्रीय स्तर पर प्रथम स्थान प्राप्त कर गौतम बुद्ध नगर का नाम किया र ोशन

राष्ट्रीय शैक्षणिक छात्रवृत्ति परीक्षा में सिद्धार्थ यादव ने राष्ट्रीय स्तर पर प्रथम स्थान प्राप्त किया । जिसको लेकर सिद्धार्थ यादव को पुरस्कार स्वरूप रुपये 50000/ नगद एवम प्रसस्ति पत्र प्रदान किया जाएगा।

सिद्धार्थ यादव एक ऐसे छात्र है जो यूपी के हाईटेक जिला गौतम बुद्ध नगर का नाम रोशन किया है | साथ ही सिद्धार्थ यादव पहले ही बहुत सारे पुरस्कार जीते है जैसे की वह नेशनल साइंस ओलिंपियाड में भी प्रथम स्थान पर रहे है।

इसके पूर्व 10 वर्ष की उम्र में 2010 में national igenius multi talent competition में ,जिसमें 14 लाख प्रतियोगियों ने भाग लिया था जिसमे सिद्धार्थ यादव ने प्रथम स्थान प्राप्त किया था | पुरस्कार स्वरूप रुपये 10,00,000/ दस लाख ,ट्रॉफी,एवम प्रसस्ति पत्र प्रदान किया गया।हलाकि सिद्धार्थ इस प्रतियोगिता में भाग लेने वाला सबसे कम उम्र का प्रतियोगी थे | वही पुरस्कार वितरण के समय इसकी जानकारी रस्किन बांड ,डेरेक ओ ब्रायन एवम संगीतकार पलास सेन ने मंच से दी थी।

सिद्धार्थ वर्तमान में आई आई टी दिल्ली में बीटेक का छात्र है। सिद्धार्थ के पिता एम एल यादव वर्तमान में जेल अधीक्षक के पद पर जनपद गौतमबुद्ध नगर व बागपत उ0प्र0 में तैनात है।

Vacancy at Ten News – English News Reporter / Content Writer

Job Description

NEWS REPORTING, NEWS CONTENT WRITING, NEWS EDITING, ONLINE NEWS CONTENT MANAGEMENT AND DOING SPECIAL FEATURES

Salary: INR P.A. 2,25,000 – 3,00,000

Industry:Media / Entertainment / Internet

Functional Area:Journalism , Editing , Content

Role Category:Journalist/Writer

Role:Journalist

Employment Type:Temporary/Contractual Job, Full Time

Desired Candidate Profile

MASS COMM / JOURNALISM POST GRADUATE WITH FLUENCY IN ENGLISH , 2 – 3 YEARS EXPERIENCE IN ENGLISH NEWS REPORTING AND CONTENT WRITING FOR NEWS PAPER .

CANDIDATES WHO MUST BE LOYAL TO THE COMPANY, CAN WORK DEDICATEDLY AND CAN WORK WITH SPEED OF INTERNET NEED APPLY.

QUALIFICATION AND EXPERIENCE COULD BE GIVEN RELAXATION IF A CANDIDATE HAS POTENTIAL TO BE A NEWS WRITER, ENERGETIC AND TALENTED

Education-

UG:Other Graduate

PG:Other

Doctorate:Doctorate Not Required

Company Profile:

TEN NEWS

tennews.in : Indian News Portal was launched by Union Minister of State for Tourism & Culture (IC) and Civil Aviation Dr Mahesh Sharma on the day of Diwali 2013. For more visit tennews.in

Recruiter Name:SUNITA MALI

Contact Company:TEN NEWS

Address:8TH FLOOR KASANA TOWERALPHA COMM BELTGREATER NOIDANOIDA,Uttar Pradesh,India 201306

Email Address: sunita

Website:http://tennews.in

Reference Id:NR03

नोएडा ऑथोरिटी के नए सीईओ आलोक टंडन ने संभा ला पदभार

नोएडा। शहर की औद्योगिक छवि को लौटाने, बिल्डर बायर्स मुद्दों को निस्तारित करने के ठोस इरादों के साथ शनिवार को आलोक टंडन ने नोएडा प्राधिरकण में मुख्य कार्यपालक अधिकारी का पादभार ग्रहण किया। नवनियुक्त मुख्य कार्यपालक अधिकारी ने प्राधिकरण के सभी विभागों के अधिकारियों के साथ एक-एक कर वार्ता की। फाइलों का आकलन किया। साथ ही शहर के विकासीय कार्यो का जाएजा लिया। इस दौरान प्राधिकरण एम्पलॉयज एसोसिएशन के अध्यक्ष कुशलपाल चौधरी समेत अन्य अधिकारियों ने नए सीईओ का स्वागत किया।

इस समय शहर में बिल्डर- बायर्स का मुद्दा काफी जोरो पर है। लगातार बायर्स बिल्डर, प्रशासन, सरकार व प्राधिकरण के खिलाफ सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे हैं। शहर में बने इस विपरीत माहौल को ही पुराने सीईओ के तबादले का कारण माना जा रहा है। सरकार की मंशा के अनुकूल, शहर की छवि को सुधारने व औद्योगिक विकास को मजबूती देना ही नए मुख्य कार्यपालक अधिकारी की प्राथमिकता रहेगी। इसकी शुरुआत शनिवार को पदभार ग्रहण करने के साथ हुई। सीईओ ने आवासीय, व्यवसायिक, औद्योगिक, उद्यान, विद्युत यांत्रिकी के अधिकारियों के साथ अलग-अलग बैठक की। इसके बाद प्राधिकरण एसीईओ, वित्तीय नियंत्रक के साथ बैठक हुई। इस मौके पर प्राधिकरण की गिरती वित्तीय स्थिति की पूरी रिपोर्ट मांगी गई। शहर की भौतिक स्थिति, अवैध निर्माण पर की जा रही कार्यवाही की जानकारी भी ली गई। दिनभर चली बैठकों के बीच मंशा स्पष्ट होती दिख रही है। प्राधिकरण की गिरती वित्तीय स्थिति को सुधारना, पैसों की रिकवरी करना साथ ही बिल्डर बायर्स मुद्दों को प्राथमिकता के तौर पर निस्तारित करना रहेगी। इसके अलावा सीईओ के पास एनएमआरसी का भी चार्ज है। लिहाजा मेट्रो से जुड़ी परियोजनाओं की जानकारी भी ली गई।