आज नेफोवा प्रतिनिधिमंडल ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के कार्यालय जाकर सीईओ श्री अमित मोहन प्रसाद से मिला तथा ग्रेटर नोएडा वेस्ट के विभिन्न प्रोजेक्ट के स्टेटस तथा कम्पलीशन डेट के संबंध में जानकारी ली। साथ ही ग्रेटर नोएडा वेस्ट में हो रही तमाम असुविधाओं, मेट्रो परियोजना तथा ट्रैफिक संबंधी समस्याओं को लेकर चर्चा की।
मुख्य मुद्दे जो नेफोवा प्रतिनिधियों ने सीईओ के सामने रखे वे इस प्रकार हैं –

1. ग्रेटर नोयडा वेस्ट में मेट्रो परियोजना की मंजूरी को प्राधिकरण द्वारा क्यों रद्द किया गया। अगले साल तक क्षेत्र में काफी संख्या में लोग रहना शुरू कर देंगे। इलाके की आबादी में तेजी से वृद्धि होगी और मेट्रो की सुविधा जल्द नही शुरू होने से लोगो को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। इस पर श्री अमित मोहन जी का जवाब था कि फिलहाल प्राधिकरण के पास फण्ड की कमी है, इसलिए जो मेट्रो प्रोजेक्ट पर पहले से काम चल रहा है, पहले उसे पूरा करने पर प्राधिकरण ध्यान देगी, उसके बाद ही नए प्रोजेक्ट लो मंजूरी दी जाएगी।

2. ग्रेटर नोयडा वेस्ट तक बस तथा अन्य शेयर गाड़ियों की सुविधा नही होने से वहां रह रहे लोगों को नोएडा तथा आसपास कही भी आने जाने में काफी दिक्कत का सामना करना पड़ता है। सीईओ अमित मोहन ने बताया कि जल्द ही आवजाही संबंधी इस समस्या से निपटा जाएगा।

3. ग्रेटर नोयडा वेस्ट में हो रही ट्रैफिक संबंधित असुविधाओं से निपटने के लिए प्राधिकरण के पास क्या योजनायें है, नेफोवा ने इसकी जानकारी भी सीईओ अमित मोहन से मांगी। गौरतलब है कि क्षेत्र में कही भी ट्रैफिक लाइट की व्यवस्था नही है। जिससे मुख्य चौराहों पर बारबार जाम लगने से लोगों को काफी असुविधा हो रही है। इस संबंध में जल्द ही कार्रवाई किये जाने का आश्वासन सीईओ ने दिया।

4. गौर सिटी तथा किसान चौक के पास फुट ओवर ब्रिज बनाये जाने की मांग रखी गई। क्योंकि सुबह शाम वहाँ ट्रैफिक काफी ज्यादा होता है, जिसकी वजह से रोड पर करने में काफी दिक्कत का सामना करना पड़ता है।

5. ग्रेटर नोएडा वेस्ट के तमाम प्रोजेक्ट के बिल्डर द्वारा प्रधिकरण में जमा की गई कम्पलीशन डेट की जानकारी मांगी गई, जिस संबंध मे श्री अमित मोहन ने बताया कि आम्रपाली तथा अन्य प्रोजेक्ट के ऑडिट का काम अभी चल रहा है तथा उनकी कम्पलीशन डेट जल्दी वेबसाइट पर अपलोड कर दी जाएगी।

6.स्काई वाक प्रोजेक्ट के बायर भी मीटिंग मौजूद थे। जिनका बिल्डर भाग चुका है। उपस्थित तमाम बायर ने को डेवलपर को बुलाकर प्रोजेक्ट कम्पलीट कराए जाने की बात सीईओ के सामने रखी। उन्होंने भरोसा दिया है कि इस संबंध में जल्द ही कोई निर्णय लिटा जाएगा।

7. नेफोवा ने यह भी मांग रखी कि जिन प्रोजेक्ट को कम्पलीशन सर्टिफिकेट मिल गए हैं , उनकी रजिस्ट्री जल्द से जल्द शुरू कराई जाए।

आज ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के कार्यालय के हुई मीटिंग के दौरान नेफोवा अध्यक्ष अभिषेक कुमार, सामाजिक कार्यकर्ता शैलेन्द्र बरनवाल के अलावा सुपरटेक Eco-Village 2 के निवासी, Gaur City के निवासी आम्रपाली प्रोजेक्ट के बायर, स्काई वाक प्रोजेक्ट के बायर आदि उपस्थित थे।