Daily Archive: July 17, 2017

डीएम बी एन सिंह ने आज विकास कार्यों की समी क्षा करते हुए बैठक में सभी अधिकारियों को दिए निर्देश

गौतमबुद्ध नगर- जिलाधिकारी बीएन सिंह ने समस्त जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देश देते हुए उन को स्पष्ट किया है कि विकास से जुड़े समस्त अधिकारी गाणी अपनी विकास योजनाओं की किरण पूरे जनपद में जन जन तक पहुंचाने के लिए अपने स्तर पर विशेष प्रयास करेंगे, और उनके द्वारा जो विकास कार्यक्रम संपादित किए जा रहे हैं उनका व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार करने की कार्रवाई करेंगे और अपनी प्रगति के संबंध में जिला सूचना अधिकारी को निरंतर रूप से अवगत कराएंगे । उन्होंने समस्त अधिकारियों को यह भी निर्देश दिया कि सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न विकास योजनाओ में आधार कार्ड की आवश्यकता है अतः सभी विभागीय अधिकारीगण अपने अपने स्तर पर कैंपों को आयोजित करते हुए अपने पात्र लाभार्थियों का आधार कार्ड बनवाए जाने की कार्य योजना बनाकर तत्काल प्रभाव से सभी का आधार कार्ड बनवाने की कार्रवाई करेंगे। उन्होंने किसानों की ऋण माफ योजना के संबंध में भी कृषि विभाग तथा बैंकर्स के अधिकारियों को निर्देश दिए कि उनके द्वारा पूरे जनपद में इस योजना को सफल बनाने के लिए अपनी कार्य योजना व्यापक स्तर पर तैयार कर ली जाए और जो किसान पात्र हैं उनके ऋण माफ करने की कार्यवाही की जाए।

जनपद गौतम बुद्ध नगर के अधिकारी एवं कर्मचारियों को IT में किया जाएगा दक्ष नैसकॉम के माध्यम से जिलाधिकारी के प्रयास पर दिया जाएगा प्रशिक्षण।

जिलाधिकारी के निर्देश सभी विभाग के अधिकारी आईजीआरएस के संबंध में 30 जून तक के सभी लंबित प्रकरण 19 जुलाई तक करेंगे समाप्त, अन्यथा रोका जाएगा वेतन।

डीएम बी एन सिंह ने की विकास कार्यों की समीक्षा, दिया आईजीआरएस सम्बन्धी

पिता की हैवानियत के बाद हर जगह सहारे के नाम पे लूटी इज्जत

क्राइम पेट्रोल और सावधान इंडिया सीरियल में वारदात को देखकर आपकी रूह काँप जाती होगी | ऐसा ही एक ताजा मामला बिहार से लेकर गाज़ियाबाद तक देखने को मिला जिसे पढ़कर आपकी रूह काँप जाएगी | जब किसी परिवार में बेटी का जन्म होता है तो कहते है की पिता के लिए स्वर्ग के दरवाजे खुल जाते है | लेकिन कुछ ऐसे हैवान पिता होते है जो अपनी ही बेटी को डस लेते है | जी हाँ एक ऐसा ही हैवानियत भरे घटना क्रम ने सबको चौंका दिया है जिसमे कलयुगी पिता अपनी ही मासूम बेटी को हवस का शिकार बनता था | मां की असमय मौत होने पर पिता ने शारीरिक शोषण शुरू कर दिया। बचने के लिए नाबालिग भाग कर मां की सहेली के पास गई तो वहां भी वह सुरक्षित नहीं रह पाई। सहेली के पति ने भी उसके साथ दुष्कर्म किया | आखिर उस मासूम बेटी को क्या पता था की जिस जगह अपने आप को सुरक्षित मान रही थी वो लोग भी उसे हवस का शिकार बनाएंगे |

इस मासूम युवती की दर्द भरी दांस्तां खत्म नहीं हुई परन्तु जब इससे बचने के लिए उसने इसकी शिकायत घर की महिला से की तो उन्होंने उसे अपनी बहन के यहाँ नोएडा भेज दिया….. नोएडा आने के बाद भी युवती का सौदा उसी महिला ने करने की कोशिश की जहाँ उसे सुरक्षित रखने के लिए भेजा गया था।

थक हार किसी तरह ये नौजवान लड़की नोएडा से अपने आप को बचाकर ग़ाज़ियाबाद रेलवे स्टेशन पहुंची जहाँ पुलिस को उसकी पूरी दास्ताँ का पता चला। जिसके बाद पुलिस ने उसे चाइल्ड वेलफेयर सोसायटी दिल्ली भेज दिया। चाइल्ड वेलफेयर सोसायटी के द्धारा बख्तियारपुर थाने में पिता, सौतेली मां, मां की सहली और उसके पति के खिलाफ मामला दर्ज किया गया।

नोएडा सेक्टर 78 में बनी अवैध झुग्गियों पर प ्रशासन का चला बुलडोजर

नोएडा। प्राधिकरण ने शहर से अवैध अतिक्रमण को हटाने के आदेश जारी किए हैं। जिसके चलते सोमवार सुबह अधिकरियों ने पुलिस बल की सहायता से सेक्टर-78 में बनी झुग्गियों पर बुलडोजर चला दिया। दरअसल, हाल ही में सुर्खियों में आई महागुण सोसायटी के सामने करीब 100 एकड़ जमीन खाली पड़ी हुई है जिसपर कुछ लोगों सब्जी, फल आदि की दुकानें लगाते थे। यहां करीब 40-50 दुकानें थी जिन्हें आज तोड़ दिया गया।
वहां मौजूद एक अधिकारी ने बताया कि ये सभी दुकाने अवैध रूप से यहां बनी हुई थी और शहर से अतिक्रमण हटाने के चलते ये कार्रवाई की गई है।
यही रोजगार था और अब वह भी तोड़ डाला
प्राधिकरण द्वारा की गई इस कार्रवाई पर वहां दुकान लगाने वाले एक व्यक्ति ने कहा कि हमारे पास एक यही रोजगार था और वह भी सरकार ने तोड़ डाला। उन्होंने कहा कि अब हमार इस नुकसान की भरपाई कौन करेगा? हम सभी गरीब लोग हैं और बड़ी मुश्किल से सब्जी बेचकर अपना और बच्चों को भरन-पोशण करते थे लेकिन अब कहां से खाना खाएंगे?

राघव नामक दुकानदार ने बताया कि हमारी दुकानों को तोड़ने की पीछे सोसायटी की दुकानवालों का हाथ है क्योंकि सोसायटी के लोग वहां से सब्जी लेने के बजाय हम लोगों से सब्जी ले जाया करते थे।

साजन भाटी नॉएडा हत्या कांड का खुलासा, चचेर े भाई सहित दो गिरफ्तार

नोएडा : ग्यारह जुलाई को सलारपुर में जिम ट्रेनर साजन भाटी हत्या मामले में नोएडा थाना 39 पुलिस ने 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। बाकी 5 आरोपियों की तलाश में पुलिस जगह जगह छापा मार रही है। एस.पी. सिटी अरुण कुमार सिंह ने बताया कि हत्या कांड में मुख्य आरोपी प्रदीप भाटी है जो कि साजन भाटी के परिवार का ही सदस्य है। प्रदीप भाटी अपने एक साथी मलखान सिंह के साथ जो कि बिहार का रहने वाला है। उसके साथ बिज़नेस करता था। प्रदीप ने पुलिस पूछताछ में बताया कि साजन भाटी ने प्रदीप भाटी और उसके पार्टनर के बीच पार्टनरशिप तुड़वा के अपना काम जमाना चाहता था। और इसके अलावा सलारपुर गांव में आबादी की जमीन को लेकर भी पुरानी रंजिश चल रही थी। प्रदीप भाटी कुछ दिन पहले अपने परिवार के साथ ग्रेटर नोएडा शिफ्ट हो गया था। इस हत्या कांड में कुल 7 अरोपी है। जिनमे से एक कॉन्ट्रैक्ट किलर भी है। पुलिस ने मुख्य अरोपी प्रदीप भाटी के साथ उसका साथी आमिर को भी गिरफ्तार किया है। आमिर ने ही साजन भाटी की लोकेशन ट्रेस किया था। पुलिस ने आरोपी प्रदीप भाटी और आमिर को मुखबिर की सूचना पर हाजीपुर अंडरपास के सर्विस रोड पर स्विफ्ट गाड़ी सहित गिरफ्तार किया। हत्या में इस्तेमाल पिस्टल भी बरामद कर लिया है। एस.पी. सिटी ने बताया कि प्रदीप भाटी और आमिर पर पहले भी कई आपराधिक मामले दर्ज है। पुलिस पूरे मामले की तहकीकात में लगी हूवी है। आरोपियों को जेल भेज दिया गया है। बाकी बचे आरोपियों की तलाश में छापेमारी जारी है।

एन पी सिंह ने बताई नॉएडा के लिए फोनरवा की प ्राथमिकताऐं

[5:01 PM, 7/16/2017] पत्रिका कॉम राहुल, नोएडा: नोएडा। फेडरेशन ऑफ नोएडा रेजिडेंट वेलफेयर एसोशियशन ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर आगामी चुनाव के लिए अध्यक्ष पद के उम्मीदवार का ऐलान कर दिया है। हालांकि बाकी उम्मीदवारों की लिस्ट अभी जारी नहीं की गई है। जानकारी के लिए बता दें कि फोनरवा के लिए 30 जुलाई को चुनाव होना है।
फोनरवा के संस्थापक सुशील अग्रवाल ने जानकारी देते हुए कहा कि मैं मीडिया के माध्यम से कहना चाहता हूं कि एन.पी सिंह जो कि मौजूदा फोनरवा अध्यक्ष हैं वह एक और टर्म के लिए चुनाव लडेंगे। उन्होंने कहा कि हमने नोएडा की बहतरी के लिए बहुत काम किया। फोनरवा की पूरी टीम ने शहर की हर समस्या के लिए लड़ाई लड़ी है और ये लड़ाई जारी रहेगी। इस दौरान अग्रवाल ने कहा कि 23-23 जुलाई को वह अपना वीजन डॉक्यमेंट जारी करेंगे।
फोनरवा के मौजूदा अध्यक्ष एन.पी सिंह ने कहा कि मेरी कोशिश में कभी कोई कमी नहीं रही है। हमने अपने कार्यकाल में शहर की बहतरी के लिए कर जरूर प्रयास किए हैं। हमारी सबसे बड़ी उपलब्धी DND को टोल फ्री कराना है। इसके लिए हमने किसी से कोई चंदा नहीं लिया है। वकीलों की फीस का पैसा फेडरेशन के लोगों ने ही दिया। फिलहाल यह मामला सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है और हमारी ये लड़ाई जारी रहेगी। अभी नोएडा की कई समस्याएं हैं जिनका सुलझाना है इसके लिए हमारी पूरी टीम काम कर रही है।
– इन मुद्दों को किया शामिल
एन.पी सिंह ने कहा कि शहर को फ्री होल्ड कराना, लीज होल्ड न बढ़ाना जैसे मुद्दे हमारी लिस्ट में शामिल हैं। उन्होंने कहा कि नोएडा प्राधिकरण में जब तक सौम्य श्रिवास्तव जी थे तक तक लोगों की सुनवाई हो रही थी लेकिन आज ऐसी स्थिती है कि लोगों को ये ही नहीं पता कि वह अपनी समस्या को लेकर किसके पास जाए। प्राधिकरण में ऐसे ही 4-6 आई.ए.एस आकर बैठ जाते हैं जिनपर बहुत खर्चा होता है। इसलिए हम चाहते हैं कि प्राधिकरण के चेयरमैन को चुनने का अधिकार जनता के पास हो। फोनरवा को नोएडा प्राधिकरण में हिस्सेदारी चाहिए। हम चाहते हैं कि हमारे लोग भी प्राधिकरण की टीम में रहे। तभी लोगों की सुनवाई हो पाएगी। इस दौरान उन्होंने कहा कि नोएडा का दुर्भागय है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री यहां आने से डरते हैं। हम मुख्यमंत्री जी से मिलकर निवेदन करेंगे कि वह नोएडा आएं।