Daily Archive: September 14, 2017

नोएडा : एसएसपी लव कुमार ने लापरवाही और भ्र ष्टाचार के आरोप में 3 पुलिसकर्मियों को किया नि लंबित, एक को लाइनहाजिर

नोएडा : नोएडा के लापरवाह पुलिसकर्मियों पर एसएसपी का शिकंजा कसता नज़र आ रहा है। लापरवाही और भ्रष्टाचार के मामले में शिकायत मिलने पर एसएसपी लव कुमार द्वारा दोषी पुलिसकर्मियों को सीधे निलंबित किया जा रहा है, जिससे पुलिसकर्मियों में हडकंप मचा हुआ है। ऐसे हीं एक मामले में आज एसएसपी ने बड़ी कार्यवाही करते हुए 3 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है, जबकि 1 पुलिसकर्मी को लाइन हाज़िर किया गया है। इन पुलिसकर्मियों को मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में निलंबित व लाइन हाज़िर किया गया है।दरअसल दिनांक 09/9/ 2017 को रवि कांता चनम द्वारा अपने भाई प्रदीश चनम की गुमशुदगी के संबंध में थाना नॉलेज पार्क पर सूचना दी गई, किंतु थाना नॉलेज पार्क द्वारा नियंत्रण कक्ष को इस संबंध में सूचना नहीं दी गई, जिसके कारण अन्य थानों को गुमशुदगी की सूचना नहीं हो पायी। एक एनी मामले में दिनांक 09/9/2017 को ही थाना सेक्टर 20 अंतर्गत मुर्गा मार्केट निठारी के पास अज्ञात व्यक्ति का शव मिला, जिसे 72 घंटे तक रखने के उपरांत अंतिम संस्कार अज्ञात में करा दिया गया। गुमशुदा प्रदीश के परिजनों के द्वारा थाना सेक्टर 20 अंतर्गत प्राप्त अज्ञात शव की शिनाख्त कपड़ों व फोटो के आधार पर प्रदीश के रूप में की गई। उपरोक्त प्रकरण में थाना सेक्टर 20 व नॉलेज पार्क के बीच समन्वय ना होने के कारण मृतक प्रदीश की शिनाख्त समय से नहीं हो सकी।

प्रकरण में बरती गई लापरवाही के कारण उप-निरीक्षक किशोरी रमण, आरक्षी संजीव कुमार थाना नॉलेज पार्क, व उप निरीक्षक राकेश बाबू, प्रभारी चौकी निठारी थाना सेक्टर 20, को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है तथा थाना प्रभारी नॉलेज पार्क अखिलेश त्रिपाठी को शिथिल पर्यवेक्षण के कारण तत्काल प्रभाव से लाइन हाजिर किया गया है।

पंचशील बालक इंटर कॉलेज में मनाया गया धूमध ाम से हिंदी दिवस

नोएडा : आज दिनांक 14 सितम्बर 2017 को नोएडा के सेक्टर-91 के पंचशील बालक इन्टर कॉलेज में “हिंदी दिवस” मनाया गया। इस अवसर पर नोएडा एवं ग्रेटर नोएडा शिक्षा समिति की शिक्षा अधिकारी डॉ. मीना सिंह, प्रधानाचार्य डॉ. नीरज टंडन व उपस्थित शिक्षकों ने माँ सरस्वती की प्रतिमा के समक्ष पुष्प अर्पित कर व दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया।इसके बाद कक्षा 12 के छात्र अमन शर्मा ने लय-ताल के सुन्दर सामंजस्य द्वारा माँ सरस्वती की वंदना प्रस्तुत की। इसके बाद कक्षा 6 से 8 तक के विभिन्न छात्रों ने हिन्दी भाषा में कविता पाठ किया। कक्षा 9 के छात्रों, शिवम सिंह और सिद्धार्थ ने हिंदी दिवस पर अपने विचार सभी के सम्मुख रखे और हिंदी के विकास पर जोर देने की बात कही। कक्षा 8 के छात्रों, उफ्फैफ़, अमन गर्ग और अभिषेक भाटी ने क्रमश: कबीर, रहीम और तुलसी के जीवन परिचय के साथ दोहे कहे और उनका अर्थ भी समझाया।

किसानों पर हो रहे अत्याचारों के खिलाफ प्रा धिकरण पर भारतीय किसान यूनियन का दसवे दिन भी ज ारी रहा धरना

नोएडा प्राधिकरण द्वारा नोएडा के ग्रामीणों व किसानों पर हो रहे अत्याचारों के खिलाफ भारतीय किसान यूनियन भानू आज दसवै दिन भी अनिश्चितकालीन धरना जारी रहा आज धरने की अध्यक्षता विजेंद्र अवाना व संचालन ओम दत्त चौहान ने किया
जिला उपाध्यक्ष चौधरी बाली सिंह ने बताया कि 2006 मे आवासीय स्कीम आई थी उसमें लगभग डेढ़ सौ प्लॉट को प्रोविजन बता कैंसी लेसन में डाल दिया था लेकिन कुछ प्लाँटो में भारी पैसों के लेन-देन की वजह से उनको बहाल कर दिया गया था जिन किसानों ने पैसे नहीं दिए उनके फोटो को कैंसीलेसन में डाल दिया गया 2006 की स्कीम की जांच सी बी आई द्वारा कराई जाए इसमें लिफ्ट अधिकारियों की संपत्ति की जांच जरुर होनी चाहिए यह भी बताया जाए कि किस नियम के तहत बाकी प्लाँटो का निस्तारण हुआ नोएडा प्राधिकरण के अधिकारी किसानों का कोई भी काम नहीं कर रहे हैं उलटा किसानों को भूमाफिया बता कर शोषण कर रहे हैं किसानों को 10%के प्लॉटों को अतिक्रमण का बहाना बता कर नहीं दे रहे हैं 41 वर्ष से आज तक पुरानी आबादियों का निस्तारण नहीं किया है और ना ही करने को तैयार है शुरू से लेकर आज तक किसानों की समस्या बढ़ती ही जा रही हैं नोएडा प्राधिकरण के खिलाफ एक बड़े आंदोलन की जरूरत है जो भाइयों भाई द्वारा जल्द होगा। भारतीय किसान यूनियन भानू का चौदह सूत्रिय मांगों को लेकर आंदोलन के तहत 10 दिन से अनिश्चितकालीन धरना जारी है और धरने का आज दसवां दिन है धरना जब तक जारी रहेगा तब तक किसानों की समस्याओं का हल नहीं हो जाता । अधिक नोएडा के अधिकारी बिल्कुल संवेदनशील हो चुके हैं अगर भविष्य में कोई भी अनहोनी होती है तो उसके लिए नोएडा प्राधिकरण के अधिकारी वहां का प्रशासन जिम्मेवार होगा पीछे चले 17 दिन अनिश्चितकालीन धरने में भारतीय जनता पार्टी की विधायक ने किसानों की सभी समस्याओं का समाधान कराने का आश्वासन दिया था किसी असुविधा के किसानों ने जनता पार्टी को भारी बहुमत से जिताएं था लेकिन अब ऐसा महसूस होता है कि यह जनता के साथ बहुत बड़ा धोखा है और अगर किसान वे ग्रामीणों की समस्याओं का समाधान नहीं हुआ तो भविष्य में सत्ताधारी पार्टी को इश्के गंभीर परिणाम भुगतने होंगे अतः अपने वह क्षेत्र के भविष्य को सुनिश्चित करने के लिए और आंदोलन में आगे की योजना बनाने के लिए राष्ट्रीय कार्यालय मथुरा में मीटिंग जारी है। आज धन्य में मुख्य रुप से बेगराज गुर्जर राजेश उपाध्याय विकास चौधरी राजेंद्र चौहान नरेश त्यागी देवेंद्र कश्यप महेंद्र चौहान सुंदर सिंह रोहतास प्रधान बलराज कर्मवीर सिंह विनोद कुमार चौहान कालूराम सुरेंद्र सिंह चंद्रू कश्यप श्री पाल सिंह हर की सत्य प्रकाश सवाना नरेंद्र भाटी सोनू यादव प्रदीप यादव की ले चौधरी हर वीर बाबा बृजपाल जितेंदर अशोक राजवीर मुख्य संतराम ज्ञानेंद्र पंडितो आसिफ देशराज कोंसिंदर यादव, याद राम आदी भारी संख्या में किसान मोजूद हे

नोएडा: मोदी समर्थकों ने सेक्टर 74 के चौराहे पर दिग्विजय सिंह का फूंका पुतला

नोएडा : कांग्रेस पार्टी के महासचिव दिग्विजय सिंह के द्वारा पीएम मोदी के खिलाफ किये गए आपत्तिजनक ट्वीट से गुस्साए मोदी समर्थको ने आज नोएडा के सेक्टर 74 स्थित चौराहे पर दिग्विजय सिंह का पुतला फूंका। मोदी समर्थकों ने दिग्विजय सिंह के खिलाफ जम कर नारेबाजी की, साथ जुते-चप्पलों से दिग्विजय सिंह के पुतले को पीटा और पुतले को आग लगा कर हाय-हाय के नारे लगाये।वही मोदी समथकों का कहना है दिग्विजय सिंह को पीएम मोदी से माफ़ी मांगनी चाहिए और आगे से इस तरह के बयान न देने का आश्वाशन दे। अगर ऐसा नही किया तो सभी मोदी समर्थक पुरे जिले में जगह-जगह दिग्विजय सिंह के इसी तरह पुतले फूकेंगे और दिग्विजय सिंह के खिलाफ एफआईआर भी कराएँगे।

बता दें कि दिग्विजय सिंह ने ट्विटर पर एक पोस्ट शेयर किया था, जिसमें लिखा था कि ‘मेरी दो उपलब्धियां भक्तों को चू*** बनाया और चू*** भक्त बनाया’, साथ ही इसके बगल में पीएम की तस्वीर को लगाया गया था जिसमें पीएम मोदी पगड़ी बांधे हुए थे और दो उंगली दिखा रहे थे। इस ट्वीट को लेकर काफी बवाल मचा था, जिसके बाद दिग्विजय सिंह ने अपनी पोस्ट में लिखा कि यह मेरा नहीं है, लेकिन मैं इसे शेयर करने से खुद को नहीं रोक सकता। हालांकि विवाद बढ़ने के बाद दिग्विजय सिंह ने इस ट्वीट को डीलीट कर दिया था।

नोएडा: जिला प्रशासन ने सभी स्कूलों को व्यव स्था सुधारने का 15 दिन के अंदर का दिए निर्देश ,

नोएडा : स्कूलों में मासूम बच्चों के साथ बढ़ती घटनाओं के मद्देनजर नोएडा में जिला प्रशासन और पब्लिक स्कूलों के प्रबंधक के बीच एक बैठक हुई। बैठक में नोएडा के 77 स्कूलों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। प्रशासन की तरफ से CBSE और सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन को स्कूलों में लागू करने के लिए जोड़ दिया गया है, जिसके लिए सभी स्कूलों को 15 दिन का वक्त दिया है। 15 दिन बाद किसी भी स्कूल में कोई भी कमियां पाई जाती है तो स्कूल के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।