Daily Archive: November 27, 2017

नॉएडा : एनआरआई के बैंक खाते से 90 हजार की लगा ई सेंध

नोएडा : आजकल लोगो के अपने पैसे भी सुरक्षित नहीं है और चोरो की निगाहे आपके बैंक खातों पर भी लगी हुई है. कब कौन आपके बैंक अकॉउंट हेंक कर पैसे उड़ा दे। ऐसा ही एक मामला थाना 39 का है। कनाडा में रहने वाले एनआरआई के खाते से 90 हजार रुपये ट्रांसफर करके ऑनलाइन शॉपिंग किए जाने का मामला सामने आया है। पीड़ित के मोबाइल पर जब मेसेज आया तब ठगी का पता चला। इसके बाद कस्टमर केयर सेंटर पर फोन करके खाते को ब्लॉक कराया गया। इस मामले में सेक्टर 39 थाने में शिकायत देकर कार्रवाई की मांग की गई है। पुलिस के मुताबिक, सेक्टर 41 निवासी मनजीत सोढी के बेटे दलजीत सिंह कनाडा के एक अस्पताल में डॉक्टर हैं। इन दिनों वह परिजनों के साथ समय बिताने के लिए घर आए हुए हैं। दलजीत के मुताबिक , 24 नवंबर की रात में उनके मोबाइल फोन पर 90 हजार रुपये निकलने का मेसेज आया। कस्टमर केयर सेंटर पर कॉल करने पर पता चला कि दुबई में किसी अज्ञात शख्स ने उनके खाते से ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करके ऑनलाइन शॉपिंग की है। पीड़ित की शिकायत पर पुलिस मामले की जांच कर रही है।

नॉएडा : युवक को नकली डिप्टी सीएम बनना पड़ा म हंगा, पुलिस ने किया गिरफ्तार

नॉएडा – नॉएडा में एक व्यक्ति को रौब जमाना काफी महंगा पड़ा और पहुंच गया सलाखों के पीछे। यूपी के डिप्टी सीएम बनकर नोएडा अथॉरिटी के एसीईओ आर. के. मिश्रा को फोन कर टेंडर की जानकारी मांगने वाले को पुलिस ने दबोच लिया है। आरोपित ग्रेटर नोएडा की एक कंपनी में सिक्यॉरिटी गार्ड है। दोस्तों पर रौबजमाने के लिए उसने एसीईओ को फोन किया था। पुलिस के मुताबिक, पकड़े गए सिक्यॉरिटी गार्ड का नाम अशोक वर्मा है। वह मूलरूप से हरदोई का रहने वाला है। वह इन दिनों ग्रेटर नोएडा की एक कंपनी में तैनात है। इससे पहले वह नोएडा अथॉरिटी में ठेके लेकर काम करने वाली कंपनी में ड्यूटी कर चुका है। इस कंपनी में काम करते हुए उसे कुछ अधिकारियों के फोन नंबर हाथ लग गए थे, जो उसके मोबाइल में फीड थे। वह अपने सहकर्मियों और परिचितों से अक्सर बड़े अधिकारियों और नेताओं से जान-पहचान की बात करता था। सेक्टर-20 थाना पुलिस के मुताबिक, मोबाइल की लोकेशन के आधार पर आरोपित गार्ड को शनिवार देर रात सेक्टर-15 से गिरफ्तार कर लिया गया।
एसएचओ अनिल कुमार शाही के मुताबिक, सिक्यॉरिटी गार्ड ने ही डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य बनकर एसीईओ राकेश मिश्र को कॉल किया था और टेंडर के बारे में पूछा था। कुछ देर बाद जब एसीईओ ने कॉल बैक किया तो उसने खुद को कैबिनेट मंत्री बताते हुए फोन काट दिया था। कॉल करने के बाद मोबाइल से सिम निकालकर दूसरा सिम लगा लिया था। मोबाइल लोकेशन के आधार पर सेक्टर-15 के आरोपी को दबोच लिया गया। पुलिस के मुताबिक, आरोपित गार्ड स्नातक पास है और इससे पहले भी किसी को धमकाकर कोई काम करा चुका है। फोन करने के लिए वह अपने पास अलग-अलग सिम कार्ड रखता था

नॉएडा : युवक को नकली डिप्टी सीएम बनना पड़ा म हंगा, पुलिस ने किया गिरफ्तार

नॉएडा – नॉएडा में एक व्यक्ति को रौब जमाना काफी महंगा पड़ा और पहुंच गया सलाखों के पीछे। यूपी के डिप्टी सीएम बनकर नोएडा अथॉरिटी के एसीईओ आर. के. मिश्रा को फोन कर टेंडर की जानकारी मांगने वाले को पुलिस ने दबोच लिया है। आरोपित ग्रेटर नोएडा की एक कंपनी में सिक्यॉरिटी गार्ड है। दोस्तों पर रौबजमाने के लिए उसने एसीईओ को फोन किया था। पुलिस के मुताबिक, पकड़े गए सिक्यॉरिटी गार्ड का नाम अशोक वर्मा है। वह मूलरूप से हरदोई का रहने वाला है। वह इन दिनों ग्रेटर नोएडा की एक कंपनी में तैनात है। इससे पहले वह नोएडा अथॉरिटी में ठेके लेकर काम करने वाली कंपनी में ड्यूटी कर चुका है। इस कंपनी में काम करते हुए उसे कुछ अधिकारियों के फोन नंबर हाथ लग गए थे, जो उसके मोबाइल में फीड थे। वह अपने सहकर्मियों और परिचितों से अक्सर बड़े अधिकारियों और नेताओं से जान-पहचान की बात करता था। सेक्टर-20 थाना पुलिस के मुताबिक, मोबाइल की लोकेशन के आधार पर आरोपित गार्ड को शनिवार देर रात सेक्टर-15 से गिरफ्तार कर लिया गया।
एसएचओ अनिल कुमार शाही के मुताबिक, सिक्यॉरिटी गार्ड ने ही डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य बनकर एसीईओ राकेश मिश्र को कॉल किया था और टेंडर के बारे में पूछा था। कुछ देर बाद जब एसीईओ ने कॉल बैक किया तो उसने खुद को कैबिनेट मंत्री बताते हुए फोन काट दिया था। कॉल करने के बाद मोबाइल से सिम निकालकर दूसरा सिम लगा लिया था। मोबाइल लोकेशन के आधार पर सेक्टर-15 के आरोपी को दबोच लिया गया। पुलिस के मुताबिक, आरोपित गार्ड स्नातक पास है और इससे पहले भी किसी को धमकाकर कोई काम करा चुका है। फोन करने के लिए वह अपने पास अलग-अलग सिम कार्ड रखता था