सरकार दुवारा जारी निर्देश पर जनपद में वाहनों से सेफ्टी गार्ड हटवाने के लिए परिवहन विभाग के द्वारा विशेष अभियान चलाया जायेगा । इस संबंध में एआरटीओ प्रवर्तन एस के सिंह के द्वारा जानकारी देते हुए अवगत कराया गया है कि वाहनों में जनसामान्य के द्वारा सेफ्टी गार्ड लगवाए जा रहे हैं जो परिवहन एक्ट के विरुद्ध हैं। उन्होंने जनसामान्य का आह्वान करते हुए कहा है कि "समस्त जन सामान्य अपने वाहनों से सेफ्टी गार्ड हटवाए जाने की कार्य सुनिश्चित करें, अन्यथा की स्थिति में जिला प्रशासन की ओर से सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।"

उन्होंने बताया कि "पहले चरण में जनता को इस संबंध में जागरुक किया जाएगा। उसके उपरांत परिवहन विभाग के माध्यम से इस एक्ट के पालन करने के संबंध में अभियान चलाकर सेफ्टी गार्ड लगे वाहनों का चालान किया जाएगा, और परिवहन एक्ट में जुर्माने की व्यवस्था के तहत सेफ्टी गार्ड लगे वाहनों के स्वामियों से जुर्माना वसूल करने की कार्रवाई की जाएगी।" उन्होंने यह भी बताया कि एक सप्ताह के उपरांत चेकिंग अभियान के दौरान यदि किसी वाहन पर सेफ्टी गार्ड लगा हुआ पाया जाता है तो उसे गैस कटर से कटवाने की कार्रवाई परिवहन विभाग के माध्यम से की जाएगी और उसका शुल्क संबंधित वाहन स्वामी से प्राप्त किया जाएगा। उसके अलावा परिवहन एक्ट के तहत जुर्माने की जो व्यवस्था होगी उसके अनुसार जुर्माना भी वसूल किया जाएगा। अब देखना ये होगा की परिवहन विभाग इस में कितनी सख्ती दिखाता है।