Daily Archive: March 25, 2018

Fraud calls received to Noida political leader

फ्रॉड काल से सावधान
आज दिनांक 25-03-2018 को सुबह लगभग 8:15 बजे सपा नोएडा महानगर के पूर्व छात्रसभा अध्यक्ष पिंटू यादव पर 7456948033 से काल आती है। हेलो- पहचाना ,इधर से पिंटू यादव ने कहा नहीं, फिर उसने कहा पहचानों तब पिंटू यादव ने कहा कि राघवेंद्र दुबे जी बोल रहे हो उसने कहा हाँ। पिंटू यादव से काल करने वाले ने कहा कि अपना नंबर बदल दिया है , पिंटू यादव ने कहा नहीं , पिंटू यादव ने कहा आप दूसरे नंबर से फ़ोन कर रहे हो तो उसने कहा कि हां जिओ नंबर का फायदा उठा रहा हूँ। काल करने वाले ने कहा कि मैं परेशानी में फॅसा हूँ मुझे पेटीएम से रुपये भेज दो ,पिंटू यादव ने कहा कि मैं पेटीएम नहीं चलाता हूँ तब उसने कहा कि एटीएम कार्ड से भेज दो और पासवर्ड बात दो। पिंटू यादव जो कि सर्फाबाद गांव में रहते हैं उन्हें संदेह हुआ तो उन्होंने फोन काट दिया। फोन काटने के बाद मुझे फोन किया और सारी घटना बताई और कहा कि मुझे संदेह हो गया कि दुबे जी तो ऐसे नहीं कह सकते। मैने जब उस नंबर पर फोन मिलाया तो उसने उठाया नहीं। मैने पिंटू यादव को कोतवाली में तहरीर देने को कहा है जिससे धोखाधड़ी करने वाले को पकड़ा जा सके। मैने यह पोस्ट सभी को सावधान करने के लिए डाली है क्योंकि इस समय फ्रॉड करने वालों का गैंग सक्रिय है। जो स्वयं कहते हैं कि पहचाना इसके बाद एक नाम आपके द्वारा बताए जाने पर हाँ कहकर ठगी को अंजाम देते हैं। फ्रॉड काल एवं ठगी करने वालों से सावधान रहें।
सादर
राघवेंद्र दुबे
निवर्तमान महासचिव एवं प्रवक्ता
सपा नोएडा महानगर

नॉएडा : महिलाओ को हेलमेट पहनना होगा अनिवार ्य ,उलंघन करने पर होगा चालान

नॉएडा :

एआरटीओ प्रशासन ने दोपहिया सावरियो के साथ साथ महिलाओ के लिए सख्त कदम उठाया है अब नॉएडा शहर में टू व्हीलर सवार महिलाओं के लिए अब हेलमेट पहनना अनिवार्य कर दिया गया है। अर्थात जिसका नियम ना माने पर सख्त कारवाई करते है चालान किया जायेगा। और नए नियम के तहत केवल सिख महिलाओं को हेलमेट नहीं पहने की छूट प्रदान की गई। बाकी को पीछे बैठने पर हेलमेट लगाना होगा। यह नियम तत्काल प्रभाव से लागू हो गया है। जानकारी के अनुसार एआरटीओ प्रशासन एके पाण्डेय ने बताया कि अब से टू व्हीलर चलाते समय या पीछे बैठी महिलाओं को भी सुरक्षाा के लिए हेलमेट लगाना जरूरी है। मोटर व्हीकल एक्ट के तहत केवल सिख महिलाओं को इसमें छूट दी गई है। इसके अलावा सभी महिलाओं को टू व्हीलर चलाते या पीछे बैठते समय हेलमेट लगाना अनिवार्य है। ऐसा ना करने पर मोटर व्हीकल एक्ट का उल्लंघन मानते हुए उनके चालान का प्रावधान है।

नॉएडा : नकली करेंसी चलाने वाले गिरोह का कि या पर्दाफास , पांच को किया गिरफ्तार ,

नॉएडा : उत्तर प्रदेश एटीएस ने असली करेंसी के बदले नकली करेंसी चालने वाले एक गिरोह के पांच लोगो गिरफ्तार करने में सफलता पायी है इनके पास 13 हज़ार के नकली नोट बरामद किये है। एटीएस ने सेक्टर-45 के सोम बाजार में दबिश देकर 13 हजार रुपये के नकली नोट बरामद किए हैं। इस मामले में 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। बदमाशों को पकड़ने के बाद एटीएस ने उन्हें थाना सेक्टर-39 को सौंप दिया। सभी को जेल भेज दिया गया है। पुलिस जानकारी के अनुसार इस गिरोह का सरगना हर हफ्ते पश्चिम बंगाल के माल्दा से नकली नोट लेकर आता था।

दिल्ली-एनसीआर में नकली नोटों की बढ़ती आमद की सूचना के बाद यूपी एटीएस ने दो टीमों का गठन कर जांच शुरू की थी। और मुखबिरों की सूचना के आधार पर कारवाई करते हुए सेक्टर-45 सोम बाजार के पास खुले ठेके के पास अक्सर कुछ लोग शराब पीने के बाद नकली नोट चलने की बातें करते हैं। इस सुराग के हाथ लगते ही टीम ने शुक्रवार रात 8 बजे मुखबिर को साथ लेकर ठेके के पास जाल बिछाया।
रात करीब 11 बजे दादरी रोड की ओर से 5 लोग आए और शराब लेने के बाद कुछ दूर जाकर बातें करने लगे। इसी दौरान मुखबिर की निशानदेही पर एटीएस इंस्पेक्टर विश्वजीत सिंह की टीम ने पांचों को पकड़ लिया। उनके पास 44 हजार 600 रुपये के असली और करीब 13 हजार रुपये के नकली नोट बरामद हुए। पूछताछ में उन्होंने अपना नाम मोहम्मद मंटू उर्फ आबिद, जाहिद आलम, शाहनवाज अंसारी उर्फ बंटी, असलम और वासिब बताया। ये सभी सेक्टर-63 की बंगाली कॉलोनी, चोटपुर में रहते हैं।
वही गिरफ्तार हुए आरोपियों ने बताया कि बंगाली कॉलोनी में रहने वाला शाहिद उन्हें नकली नोट लाकर देता है। वह हर सप्ताह माल्दा जाता है और वहां से 40 हजार रुपये के असली और एक लाख रुपये के नकली नोट लाकर उन्हें देता था। इनमें ज्यादातर 2-2 हजार रुपये के नोट होते हैं।
इसके बाद वे किसी भी दुकान पर जाकर 200-300 रुपये का सामान खरीदते और दुकानदार को 2 हजार रुपये का नोट थमा देते। बदले में दुकानदार से असली नोट लेकर वहां से खिसक जाते। उनकी जेब से मिले नोट वे बाजार में चला नहीं पाए थे। अभी मुख्य आरोपी शाहिद फिलहाल पुलिस की गिरफ्त से बहार बताया जा रहा है। पुलिस उसकी भी तलाश कर रही है।