Daily Archive: March 26, 2018

बीजेपी नेता शिव कुमार हत्याकांड में वांछि त 50 हज़ार ईनामी बदमाश शेरू भाटी ने नॉएडा पुलिस को किया सरेंडर

गौतम बुद्ध नगर में लगातार हो रहे एनकाउंटर से बदमाशों को डर लगने लगा है | आपको बता दे की गौतम बुद्ध नगर में अभी कुछ दिन में करीब सात एनकाउंटर हो चुके है , जिसमे नामी बदमाश भी ढेर हो चुके है | वही आज इस डर से 50 हज़ार ईनामी बदमाश शेरू भाटी ने पुलिस को सरेंडर कर दिया | दरअसल बीजेपी नेता शिव कुमार सहित दो गनर की हत्या के मामले में बदमाश शेरू भाटी फरार चल रहा था , जिसको लेकर काफी समय से क्राइम ब्रांच और नोएडा पुलिस इस बदमाश की तलाश में जुटी हुई थी |

साथ ही खौफ का पर्याय रहे शेरू का जो वीडिया पुलिस ने जारी किया है वो उसमें हाथ जोडकर अपने गुनाह का इकबाल भी कर रहा है। शेरू ने कहा कि वो हत्या और हत्या की साजिश रचने का आरोपी है। वही बात करे तो श्रवण चैधरी के एनकाउंटर के 24 घंटे बाद ही हुए शेरू के सरेंडर को कई मायनों में अहम माना जा रहा है। वही दूसरी तरफ ये घंघौला गांव के सुंदर भाटी का भतीजा भी बताया जाता है। शेरू पर पुलिस ने 50000 का इनाम घोषित कर रखा था। पुलिस इसकी पटकथा लिखने जा रही थी कि उसने पुलिस के सामने खुद ही घुटने टेक दिए।

शराब तस्करी रोकने को पुलिस सख्त, 40 पेटी अवै ध शराब बरामद

नॉएडा में शराब तस्करों के खिलाफ पुलिस की धरपकड़ शुरू हो गयी है। गौतमबुद्धनगर में शराब का कारोबार बड़े पैमाने पर फल फूल रहा है। जिसके चलते पुलिस द्वारा लगातार चैकिंग अभियान चलाया जा रहा है। जिसके तहत कल देर रात को नोएडा थाना सेक्टर-20 ने चैकिंग के दौरान एक गाड़ी से 40 पैट्टी अवैध शराब बरामद की हैं। आपको बता दें कि कुछ दिन पहले ग़ाज़ियाबाद के खोड़ा कॉलोनी में जहरीली शराब से 4 लोगो की मौत हो गयी थी।

जिसके चलते उत्तरप्रदेश में अलर्ट किया गया था। जिसके बाद जहरीली शराब की धरपकड़ अभियान एसएसपी के निर्देशन में चलाया जा रहा है। जिसमे थाना सेक्टर-20 ने कल देर रात हरियाणा से लाई जा रही हरियाणा मार्का की 40 पेटी शराब ओर एक महिंद्रा टीयूवी कार के साथ 1 अपराधी को नोएडा के सेक्टर-5 स्थित हरौला गांव से गिरफ्तार किया है। बाजार में शराब की कीमत लाखों में है।

नोएडा प्राधिकरण और प्रशासन के खिलाफ अपनी माँगो को लेकर किसानों ने किया अनिश्चितकालीन धरना

नोएडा के दोस्तपुर मंगरौली गांव के किसानों का अनिश्चितकालीन धरना आज भी जारी रहा। आपको बता दे की किसानों का शोषण किए जाने के आरोप में नोएडा प्राधिकरण और जिला प्रशासन के खिलाफ धरने पर बैठे लोगों ने जमकर नारेबाजी की। साथ ही प्रदर्शन कर रहे किसानों का कहना है की नोएडा प्राधिकरण और जिला प्रशासन ने फार्म हाउस की आपा-धापी में किसानों की जमीन को हड़पने के लिये षड्यंत्र रचा है। यह जानते हुए कि उनकी जमीन पर उच्च न्यायालय का स्टे लगा हुआ है, लेकिन सत्ता में बैठे लोगों को खुश करने के लिए नोएडा और जिला प्रशासन ने जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया को पूरी किए बिना ही उनकी जमीन का अधिग्रहण कर लिया है। वही इस मामले में किसानों ने आरोप लगाया है की दोस्तपुर मंगरौली गांव का अधिग्रहण ही गलत तरीके से हुआ है।

इसे ठीक करना होगा। उन्होंने आरोप लगाया कि एडीएम ने साजिश के तहत उनके जमीन का अवॉर्ड घोषित दर मात्र 118 रुपये प्रति वर्ग मीटर कर दिया है। लेकिन नोएडा और जिला प्रशासन यह जानते हुए भी मामले को दबाए बैठे हैं। जबकि दूसरे गांव के किसानों को 5060 रुपये प्रति वर्ग मीटर की दर से मुआवजा दे रहा है। दोस्तपुर गांव के किसानों को भी बढ़ी हुई दर से मुआवजा देना ही होगा। तभी हमारा आंदोलन खत्म होगा। अन्यथा आंदोलन जारी रहेगा।