Monthly Archive: May 2018

नोएडा पुलिस ने पाँच शातिर चोरों को किया गि रफ्तार , एक दर्जन से ज्यादा चोरी के मोबाइल फ़ोन बरामद

नोएडा के सेक्टर 58 थाना की पुलिस ने 5 शातिर चोरों को गिरफ्तार किया है , जिनसे पुलिस ने एक दर्जन से ज्यादा चोरी के मोबाइल फ़ोन , 2 मोटरसाइकिल बरामद की है | आपको बता दे की सेक्टर 58 पुलिस ने इन शातिर चोरो को सेक्टर 55 में चेकिंग के दौरान गिरफ्तार किया है | वही इस मामले में पुलिस के अधिकारीयों का कहना है की ये 5 आरोपी शातिर चोर है , ये चोर नोएडा के विभिन्न थाना इलाकों में लूट और चोरी जैसी गंभीर वारदात को अंजाम दिया करते थे | ये शातिर चोर

मोटरसाईकिलो पर सवार होकर राह चलते लोगो से मोबाईल फोन छीनते थे | वही इन शातिर चोरों का नाम सोनू , धर्मेन्द्र , मोनू, गौतम , राजू बताया है |

नोएडा बाल कारागार में बंदी नाबालिग की बीम ारी से मौत, इलाज पर उठ रहे सवाल।

नोएडा के बाल कारागर में उस समय हड़कंप मच गया, जब एक बच्चे की बीमारी के दौरान मौत हो गई | आपको बता दे की हत्या के मामले में एक नाबालिग बच्चे को पुलिस ने गिरफ्तार करके बाल कारागार में भेज दिया था | बताया जा रहा है की कुछ दिन से उस आरोपी बच्चे की तबियत ठीक नहीं रह रही थी, जिसको देखते हुए पुलिस प्रशासन ने उचित कदम नहीं उठाए |

सूत्रों ने बताया है कि उस आरोपी बच्चे का इलाज तक नहीं कराया गया| कुछ दिन बाद आरोपी बच्चे के तबियत ज्यादा ख़राब होने लगी , जिसको देखते हुए पुलिस प्रशासन ने किसी नजदीक अस्पताल में भर्ती न कराकर मेरठ के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उस बच्चे की इलाज के दौरान मौत हो गई |

वही इस मामले में एक सवालिया निशान खड़ा होता है की नोएडा के बाल कारागार के पास इतने अच्छे अस्पताल है , आखिर उस बच्चे का इलाज के लिए मेरठ क्यों भेजा गया ?

नोएडा : सेक्टर 18 के रेस्ट्रोरेन्ट में लगी अ चानक आग , मौके पर पहुंची दमकल की गाड़िया

नॉएडा में एक बार फिर शॉट सर्किट के कारण रेस्ट्रोरेन्ट में आग लग गयी | आपको बता दे की नॉएडा के सेक्टर 18 में स्थित

वॉक इन वुड्ज़

रेस्ट्रोरेन्ट में अचानक से शॉट सर्किट होने के कारण आग लग गयी। आग इतनी भयानक थी कि देखते ही देखते आग ने पुरे रेस्ट्रोरेन्ट को घेर लिया। आस पास के लोगो ने दमकल विभाग को सूचित किया मोके पर पहुचे दमकल कि करीब 2 गाडियो ने आग पर काबू पाने में लगी हुई है | वही घटना के वक़त इस जगह करीब एक दर्जन लोग काम कर रहे थे , किसी तरह से लोग यहा से आपनी जान बचा कर बहार निकले | वही अग्निसमन अधिकारी कि माने तो यहा सॉर्ट सर्किट के चलते आग लगना माना जा रहा है |

नोएडा पुलिस ने फ़र्ज़ी विधायक को किया गिरफ् तार , फ़ोन करके अधिकारीयों पर बनाता था दवाब

नोएडा पुलिस ने दादरी के फ़र्ज़ी विधायक को गिरफ्तार किया | दरअसल सोमवार को एक युवक ने नोएडा के एसपी सिटी से जबरन काम कराने के लिए अपने आप को दादरी विधायक तेजपाल नागर बनकर फ़ोन किया | वही जब नोएडा के एसपी सिटी अरुण कुमार ने फ़र्ज़ी विधायक को पहचानने से इंकार कर दिया , तो उस फ़र्ज़ी विधायक ने दवाब बनाने और सरकार से शिकायत करने की चेतावनी दे डाली | जिसको लेकर एसपी सिटी ने दादरी के विधायक तेजपाल नागर से इस मामले में बात करके पूरी जानकारी दी |

वही तेजपाल नागर ने थाना 20 में इस मामले की शिकायत दी की , जिसके बाद पुलिस ने कार्यवाही करते हुए फ़र्ज़ी विधायक को गिरफ्तार कर लिया | वही नोएडा थाना सेक्टर 20 पुलिस ने फ़र्ज़ी विधायक से पूछताछ के दौरान पता चला की दो दिन पहले चेकिंग के दौरान एक युवक को पुलिस ने पकड़ा था , साथ ही उसकी बाइक को भी जब्त कर लिया , जिसके लिए इस युवक ने फ़र्ज़ी विधायक बनकर एसपी सिटी को बाइक छोड़ने के लिए फ़ोन किया | साथ ही पुलिस ने बताया की इस फ़र्ज़ी विधायक की पहचान नागपुर का रहने वाला पीयूष है |

नोएडा पुलिस ने अन्तर्राज्यीय वाहन चोर को किया गिरफ्तार , चोरी की गाड़िया बरामद

नोएडा के सेक्टर 39 थाना पुलिस ने वाहन चोरी और लूट के मामले में खुलासा करते हुए अन्तर्राज्यीय

वाहन चोर को गिरफ्तार किया है | वही इस वाहन चोर से नोएडा पुलिस ने

एक कार और 4 मोटरसाइकिल बरामद की है | आपको बता दे की ये शातिर वाहन चोर पुरे यूपी में सक्रिय था | खासबात ये है की ये

अन्तर्राज्यीय

वाहन चोर ने अब तक 1000 से ज्यादा गाड़ी चोरी की घटनाओं को अंजाम दे चुका है | वही इस आरोपी के खिलाफ

हत्या ,लूट, चोरी करीब 31 मुकदमे दर्ज है | वही इस मामले में नोएडा पुलिस के अधिकारीयों का कहना है की थाना 39 पुलिस ने एक वाहन चोर को गिरफ्तार किया है , जिसने अभी तक एक हज़ार से ज्यादा

गाड़ी चोरी की घटनाओं को अंजाम दे चुका है | साथ ही ये वाहन चोर मणिपुर में

चोरी की गाड़ियों के फ़र्ज़ी कागज बनवा कर लोगों को बेच देता था |

खनन में लिप्त 5 आरोपी गिरफ्तार, मशीनें और स ामान जब्त

नोएडा की फेस 3 पुलिस ने खनन माफियों के खिलाफ बड़ी कार्यवाही करते हुए 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया है | जिनसे नोएडा पुलिस ने एक डम्पर , जेसीबी , पोकलैंड समेत कई मशीन बरामद की है | आपको बता दे की ये गिरोह थाना फेस 3 के अंतर्गत हिण्डन पुस्ता रोड के किनारे अनल यादव के खेत के पास हिण्डन नदी में खनन का काम चल रहा था , जोकि अवैध था | वही इस मामले की पुलिस को सुचना मिलते ही मौके पर पहुँची पुलिस ने अवैध खनन कर पत्थर की चोरी करके मशीन से पिसाई कर डम्फरो में भरकर बेचने के लिये जाते समय मौके से गिरफ्तार किया | वही इस मामले में पुलिस के अधिकारीयों का कहना है की अवैध खनन होने की पुलिस को सुचना मिली थी | वही पुलिस ने इन सभी खनन कर्ता को मौके पर गिरफ्तार किया है , जिनका नाम ब्रजेश, जितेन्द्र , संजीव , रामविलास , सुदीप है | ये सभी अवैध खनन का काम करते है , साथ ही इन सभी ने पूछताछ के दौरान बताया की इस खनन में अभी बहुत लोग तिप्त है , जो अभी फरार चल रहे है | जिनको जल्द ही पुलिस गिरफ्तार कर लेगी |

नोएडा के पीसीआर चालकों का तनख्वाह न मिलने के कारण प्रदर्शन

नोएडा के पीसीआर चालकों ने सैलरी न मिलने पर नोएडा प्राधिकरण के खिलाफ प्रदर्शन किया | आपको बता दे की ये पीसीआर चालक नोएडा प्राधिकरण के संविदा कर्मचारी है , जिनको नोएडा प्राधिकरण ने पुलिस की पीसीआर चालक के पद पर तैनात किया है | आज ये संविदा कर्मचारी अपनी माँगो को लेकर सड़को पर उतरना पड़ा | पीसीआर चालकों का कहना है की नोएडा प्राधिकरण की तरफ से तीन महीने की सैलरी नहीं मिली है , वही जब सभी कर्मचारी इस मामले में प्राधिकरण के अधिकारीयों से बात करते है , तो सिर्फ आश्वासन ही मिलता है |

नॉएडा : एसएसपी ने किया आधी रात में शहर का नि रक्षण , लापरवाही के चलते सब इंस्पेक्टर को किय संस्पेंड

नॉएडा : जनपद की पुलिस कारोबारियों से उगाही के मामलो में लगे आरोपों के बाद अलर्ट हो गयी है इसी को संज्ञान लेते हुए गौतमबुद्ध नगर के एसएसपी अजयपाल शर्मा भ्रष्ट पुलिसकर्मियों के खिलाफ कमर कस ली है। एसएसपी ने बीती रात सादे कपड़ों में अपने इलाके का औचक निरीक्षण भी किया।पूरी रात सादे कपड़ों में यह देखते रहे कि कोई पुलिसकर्मी वसूली तो नहीं कर रहा। वह कभी फॉर्चूनर तो कभी ऑटो में सवार होकर घूमते रहे। इस बीच रात में ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियो की चौकसी देखने के लिए उन्होंने वायरलेस पर एक संदिग्ध फॉर्चूनर गाड़ी गुजरने की सूचना फैलाई। उस फॉर्चूनर गाड़ी में एसएसपी खुद सवार थे। इस दौरान एक बैरिकेड पर पुलिसकर्मियों ने गाड़ी रोकी, इशारे के बाद भी गाड़ी नहीं रुकी तो एक कांस्टेबल दौड़कर गाड़ी के नजदीक आया। उसने एसएसपी अजयपाल शर्मा पर अपनी एके-47 तान दी और गाड़ी से उतरने को कहा। गाड़ी से नीचे उतरने के बाद एसएसपी अजय पाल शर्मा ने अपने जवान की तारीफ की। इस घटना से पहले ही एसएसपी को बीच राह में एक पीसीआर वैन भी मिली थी। अलर्ट के बाद भी उसने संदिग्ध फॉर्चूनर गाड़ी को नहीं रोका। इससे नाराज होकर एसएसपी ने उस पुलिस वैन में सवार एक सब इंस्पेक्टर राजवीर को सस्पेंड कर दिया।