Daily Archive: May 5, 2018

नॉएडा : नौकरी दिलाने के नाम पर दिल्ली के व्य ापारी ने महिला को बनाया अपनी हवस का शिकार , पु लिस जाँच में जुटी

नॉएडा – शहर एक बार फिर बलात्कार की घटना से शर्मशार हो गया, जहा एक

व्यवसायी ने नौकरी दिलाने के नाम पर महिला को अपनी हवस का शिकार बनाया , घटना थाना 20 की है जहां बीती रात पीड़ित महिला ने पुलिस को शिकायत दर्ज कराई थी कि दिल्ली के एक व्यापारी ने नौकरी दिलाने के नाम पर मुझे सेक्टर 20 स्थित एक गेस्ट हाउस में बुलाया और कोल्डड्रिंक में नशीला

पदार्थ मिलकर बेहोश कर दिया और उसके बाद मेरे बलात्कार किया और रात में मुझे बेहोशी की हालत में सड़क के किनारे फेककर चला गया। थाना 20 पुलिस ने महिला की शिकायत के आधार पर दिल्ली के व्यापारी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर महिला को मेडिकल के लिए भेज दिया है। और पुलिस मामले की जाँच में जुट गयी है।

नॉएडा : प्राधिकरण ने अपनी वेबसाइट को जीआईए स सिस्टम से किया लिंक, अब घर बैठे मिलेगी शहर की जानकारी

नॉएडा : नॉएडा शहर के लोगो को किसी भी जानकारी लेने के लिए प्राधिकरण में चक्कर लगाने की जरुरत नहीं पड़ेगी , अब घर बैठे ही आपको अपने मोबाइल फ़ोन पर प्राधिकरण की साइड खोलने पर ही हर तरह की जानकारी मिल जाएगी। अब बेहद आसान हो गया है। प्राधिकरण ने अपनी वेबसाइट को जीआईएस सिस्टम से लिंक कर दिया है। यह एक प्रकार का भौगोलिक सूचना तंत्र है जिसे खोलते ही नोएडा शहर की पूरी जानकारी आपको मोबाइल व कंप्यूटर पर मिल जाएगी। इसके अगले चरण में इस सिस्टम में खाली व उन सभी भूखंडों की जानकारी अपलोड की जाएगी, जिसमें प्राधिकरण की आवासीय, औद्योगिक व व्यवसायिक योजनाएं प्रस्तावित की जाएंगी।प्राधिकरण अधिकारियों ने बताया कि यहां वेबसाइट पर अपलोड किया गया जीआईएस सिस्टम तीन तरीकों से देखा जा सकता है। पहला डेटाबेस एक तरह से यह भूज्ञान की सूचना प्रणाली है। जोकि संरचनात्मक डाटाबेस पर आधारित होती है। शहर की भौगोलिक स्थिति को दिखाता है। दूसरा मानचित्र यह ऐसे मानचित्रों का समूह है जो सतह सबंधी बातें विस्तार से बताते है। यह डेटाबेस के लिये इंटरफेस का कार्य भी करते हैं और इनके जरिये स्थानिक जानकारी मिल सकती है। तीसरा प्रतिरूप यह सूचना परिवर्तन उपकरणों का समूह होता है, जिसके माध्यम से वर्तमान डाटाबेस द्बारा नया डाटाबेस बनाया जाता है। फिलहाल इन तीनों को मिलाकर ही प्राधिकरण ने अपना जीआईएस सिस्टम बनाया है। जिसे प्राधिकरण की वेबसाइट से लिंक किया गया है।

नॉएडा : मैनेजर ने अपनी ही कंपनी में की लाखो ं रुपये की ठगी

नॉएडा : मैनेजर ने अपनी ही कम्पनी के मालिक के साथ धोखा धड़ी करके पिछले कई सालो से कम्पनी को लाखो रुपये का चुना लगा रहा था। जब आरोपी मैनेजर को पोलपट्टी खुली तो धोखाधड़ी का मामला सामने आया है है कम्पनी मलकी ने आरोपी मैनेजर के खिलाफ थाना फेस 3 में केस दर्ज करा दिया है , पुलिस शिकायत के आधार पर मामले की जाँच कर रही है। पुलिस के मुताबिक सेक्टर-63 की एक स्पोटर्स कंपनी में काम करने वाले मैनेजर ही कंपनी से ठगी करते रहे। ग्राहकों को कंपनी के माल की जगह नकली माल बेचते रहे। वहीं कंपनी को स्पोटर्स सामान का टेंडर दिलाने के नाम पर भी ठगी कर ली गई। वहीं कंपनी का सामान आदि भी लेकर फरार हो गए। कंपनी के एमडी ने कोतवाली फेस-3 में केस दर्ज कराया है। पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है और मामले की जांच में जुटी है डी-247/3 सेक्टर-63 में एसोटेक स्पोटर्स कंपनी प्राइवेट लिमिटेड के नाम से कंपनी है। कंपनी के एमडी दिनेश कपूर है। वे फिटनेस प्रोडक्ट बनाते है। इसी कंपनी में सचिन शर्मा बतौर मैनेजर, निखिल शर्मा जनरल मैनेजर कॉरपोरेट सेल्स, सतवीर सिंह एसिसटेंट जनरल मैनेजर कॉरपोरेट सेल्स, व रोहित दत्ता ब्रांच मैनेजर हैदराबाद कार्यरत थे। चारों मैनेजर कंपनी से माल बेचने की एवज की मोटी सैलरी लेते रहे और माल किसी दूसरी कंपनी को बेचते रहे। चंद दिनों पहले शालिनी सिंह, आॅथोराइज्ड रिप्रिजेंटेटिव तपिंडू होटल एंड रिसोर्ट प्राइवेट लिमिटेड ने कंपनी में शिकायत दी की कंपनी ने जो उन्हें माल दिया है, वह नकली है। इस पर कंपनी के एमडी दिनेश ने पता किया तो पता चला की कंपनी के पुराने कस्टमर को ये मैनेजर नकली माल बेच रहे थे। इस माल को बेचने में मैनेजर ने उन्हें करीब 50 लाख रुपए का चूना लगा दिया। वहीं कपंनी द्वारा मैनेजरों को जो लैपटॉप, मोबाइल आदि दिए गए थे उन्हें भी आरोपी नहीं दे रहे है। सामान मांगने पर मैनेजर कंपनी के एमडी को ही जान से मारने की धमकी दे रहे है। एसएचओ फेस-3 अमित कुमार सिंह ने बताया कि, केस दर्ज कर लिया गया है। मामले की जांच की जा रही है। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।सेल्स मैनेजर सचिन शर्मा ने कंपनी के एमडी को टेंडर दिलाने का भी झांसा दिया। जिस पर वे अमल हो गए। इस दौरान सचिंन ने अनुराग ठाकुर नामक व्यक्ति के एकाउंट में 3 लाख 86 हजार 882 व 16 लाख 67 हजार 737 रुपए दो बार में ट्रांसफर करवाएं। जब कोई टेंडर नहीं मिला तोे उन्होंने दो डेटिड चेक भी दिलवाएं। ये दोनों चेक भी बाउंस हो गए। इस मामले में कंपनी द्वारा पहले ही अनुराग ठाकुर के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई जा चुकी है

Son got Father killed in Noida – Love Affair

नोएडा । 13 मार्च को हुई
थाना सेक्टर 49 इलाके के सेक्टर 76 में कबाड़ी की हत्या का पुलिस ने किया खुलाशा ।

बेटा ही निकला पिता का क़ातिल । दस लाख रुपये देकर सुपारी देकर कराई थी हत्या । लव मैरिज करने से रोकने पर पिता की करा दी हत्या ।नोएडा सेक्टर 49 पुलिस ने बेटे सहित तीन शूटरो को किया गिरफ्तार।