Daily Archive: May 6, 2018

नॉएडा : डीएम ने बिल्डरों पर कसा शिकंजा ,धोख ाधड़ी ,गैंगस्टर जैसी धाराओं में जल्द होगा मुक द्दमा दर्ज

नॉएडा : उत्तर प्रदेश सरकार की पहल के बाद बेलगाम हो चुके बिल्डरों के खिलाफ धोखाधड़ी के मामले

पंजीकृति करने लिए जनपद के डीएम बीएन सिंह ने एसएसपी को दिया आदेश , जल्द मुकदमा दर्ज करके चार्जशीट दाखिल की जाए। और दोषी बिल्डरों को सलाखों के पीछे भेजा जाए। अभी नॉएडा ग्रेटर नॉएडा में सैकड़ो बिल्डर ऐसे है जिन्होंने अभीतक बायर्स को उनके फ्लैट्स नहीं दिए है और इनकी वजह से आज भी हज़ारो बायर्स सड़क पर अपने हक़ की लड़ाई लड़ रहे है। शासन प्रशासन से मिलीभगत के कारण आज भी बिल्डर बेखौफ आज़ादी से घूम रहा है। नोएडा के पुलिस कंट्रोल रूम में एसएसपी से मिलने पहुंचे लोटस पनचे फ्लैट बायर्स एसोसिएशन के लोगो और सैक्टर 58 में सुपरटेक पर प्रोटेस्ट करते लोग ये नज़ारा हर वीक एंड नियमित रूप से बिल्डरर्स कार्यालयो और प्रोजेक्ट्स पर नज़र आ जाता है। इस निवेशको ने नोएडा के विभिन्न थानो में इन बिल्डरर्स धोखाधड़ी का मुकदमा भी दर्ज कराया है। लेकिन कार्रवाही के नाम पर स्थित शून्य बनी हुई है। जिला प्रशासन ने अब सारे मामले को संज्ञान लेते हुए ऐसे बिल्डरों के विरुद्ध पुलिस प्रशासन को गैंगस्टर जैसी धाराओं मुकदमा दर्ज कर कार्रवाही करने के लिए निर्देश जारी किए हैं जिन्होंने सिर्फ अपना स्वार्थ देखते हुए निवेशकों के साथ धोखाधड़ी की हैं। प्रशासन की मंशा निवेशकों को उनका हक दिलाने की हैं और इसके लिए जो भी न्यायोचित होगा किया जाएगा।

वही गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी ने बताया कि जिन बिल्डरों द्वारा एक फ्लैट को कई जगह बेचा गया हैं या जिन बिल्डरों ने भूखंड पर प्राधिकरण द्वारा पास कराए नक्शो को प्रतिकूल भवनों का निर्माण किया हैं या प्रस्तवित फ्लैटों से अधिक फ्लैट बनाकर निवेशकों को अबैध तरीके से बेचे हैं। ऐसे बिल्डरों पर गैंगस्टर की धाराओं में मुकद्दमा दर्ज करने, जल्द से जल्द चार्जशीट दाखिल करने और दोषी बिल्डरो पर कार्यवाही करने के लिए एसएसपी को पत्र जारी किया कहा गया हैं कि अधिक से अधिक इस तरह के निबटारे थाना स्तर पर ही किए जाएं। इसी अधिनियम की धारा 14ए के तहत बिल्डर्स की संपत्तियों को कानूनी रूप से संबद्ध करने की कार्रवाई की जाएगी। जिले में बिल्डरों द्वारा लोगों को धोखा देने की प्रवृति पर रोक लगाने के लिए गैंगस्टर एक्ट लागू करना जरूरी था। शासन की मंशा है कि लोगों को ऐसे बिल्डरों की धोखाधड़ी से बचाया जा सके। अब देखना होगा की जिलाधिकारी के आदेश का कितना पालन होता है क्या बायर्स को उनके सपनो का घर मिले सकेगा , और कितने बिल्डरों को धोखाधड़ी व् गैंगस्टर की धाराओं में जेल भेजेंगे। या ये आदेश भी सिर्फ निवेशकों को लुभानेवाला होगा
ये समय ही बताएगा।

बस स्टॉप सैक्टर-34 का उद्घाटन श्री अमोल श्री वास्तव जिन्होने UPSC में 83 वीं रैंक हासिल की

धर्मेंद्र शर्मा

आपको बड़े हर्ष के साथ अवगत कराना है कि *आज बी-3 अरावली स्कूल बस स्टॉप सैक्टर-34 का उद्घाटन श्री अमोल श्रीवास्तव जिन्होने अभी जल्द ही UPSC में 83 वीं रैंक हासिल करके आईएएस बनकर नोएडा का नाम रोशन किया है* उनके द्वारा किया गया,उदघाटन के बाद काफी बच्चो द्वारा अमोल से उनकी कामयाबी के राज पुछे गये जिसका अमोल द्वारा बड़ी शालीनता के साथ जबाव दिया गया। इस दौरान धर्मेन्द्र शर्मा अध्यक्ष,अनमोल के पिताजी श्री राजेश श्रीवास्तव,श्री मुरारी श्रीवास्तव,श्रीमती सविता केदार,श्रीमती स्वपना गुहा उपाध्यक्ष,श्री आर पी प्रजापति कोषाध्यक्ष,श्री ए के श्रीवास्तव उप कोषाध्यक्ष,श्री रामकुमार संयुक्त सचिव एवँ काफी संख्या में निवासीगण उपस्थित रहे।

नॉएडा : टुडे होम्स बिल्डर के खिलाफ अपनी मा ंगो को लेकर बायर्स ने किया थाने का घेराव ,

नोएडा : आज भी जनपद में सूबे की योगी सरकार के दखल के बाद भी बायर्स अपनी हक़ की लड़ाई के लिए सड़क पर खड़ा है और शासन प्रशासन मुख दर्शक बना हुआ है। बेईमान बिल्डर लगातार बायर्स को ठग रह रहे है और परेशान बायर्स इतनी कङी धुप मे अपने हक की लङाई के लिए सड़क पर झुलसते नजर आ रहे है. अब नौबत ये आ चुकी है की पहले इन बायर्स को बिल्डर ने ठगा तो अब पुलिस इनको हर दिन थानो के चक्कर लगवा रही है..और ये बेचारे बायर्स पुलिस के अस्वाशन पर जिंदगी काट रहे है। सेक्टर-135 मे टुडे होम्स के खिलाफ आज 5 महिने से ज्यादा हो चुके है एफआईआर कराए हुए लेकिन कोई कार्यवाही नही हुई. आज बिल्डर के खिलाफ एक बार फिर बायर्स ने थाने का घिराव किया और पुलिस ने झूठा आश्वासन देकर इनको थाने से चलता कर दिया। आपको बतादे कि सेक्टर-135 मे स्थित टुडे होम्स सोसायटी 2009 मे लांच हुई थी ,शहर के बीचो बीच सोसायटी होने की वजह से अपने आशियाने के चाह रखने वालो ने इसमे अपनी खुन पसीने की कमाई लगा दी और फ्लैट्स बुक कर दिया ,लेकिन इनको क्या पता था की इनकी खुन पसीने की कमाई जाया चली जाएगी, बेईमान बिल्डर ने 2012 मे पजेशन देने का वादा किया लेकिन आज 2018 तक भी पजेशन नही मिला.है। परेशान बायर्स ने थाना एक्सप्रेस-वे मे सिंतबर 2017 मे टुडे होम्स के मालिक गुलशन गंभीर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई..बायर्स को लगा एफआईआर दर्ज हो गई है कम से कम अब उनको इंसाफ मिलेगा लेकिन यहा पर भी बायर्स ठगे गए सितंबर से लेकर अब तक बिल्डर पर कोई कार्यवाही नही हुई है जो की अपने आप मे बयान करती है की कही ना कही नोएडा पुलिस बिल्डर के साथ खङी है लेकिन पुलिस बायर्स के साथ आज भी सौतेला व्यवहार कर रही है परेशान बायर्स पिछले कई महीनो से बिल्डर के खिलाफ कारवाई करने मांग लेकर थाने का घिराव करने आते है लेकिन नॉएडा पुलिस बायर्स को झूठा आश्वासन देकर चलता कर देती है। बायर्स को केंद्र सरकार ,सूबे की सरकार से लेकर और पुलिस प्रशासन तक केवल आजतक आश्वासन पर आश्वासन ही मिला है।

नॉएडा : टुडे होम्स बिल्डर के खिलाफ अपनी मा ंगो को लेकर किया थाने का घेराव ,

नोएडा : आज भी जनपद में सूबे की योगी सरकार के दखल के बाद भी बायर्स अपनी हक़ की लड़ाई के लिए सड़क पर खड़ा है और शासन प्रशासन मुख दर्शक बना हुआ है। बेईमान बिल्डर लगातार बायर्स को ठग रह रहे है और परेशान बायर्स इतनी कङी धुप मे अपने हक की लङाई के लिए सड़क पर झुलसते नजर आ रहे है. अब नौबत ये आ चुकी है की पहले इन बायर्स को बिल्डर ने ठगा तो अब पुलिस इनको हर दिन थानो के चक्कर लगवा रही है..और ये बेचारे बायर्स पुलिस के अस्वाशन पर जिंदगी काट रहे है। सेक्टर-135 मे टुडे होम्स के खिलाफ आज 5 महिने से ज्यादा हो चुके है एफआईआर कराए हुए लेकिन कोई कार्यवाही नही हुई. आज बिल्डर के खिलाफ एक बार फिर बायर्स ने थाने का घिराव किया और पुलिस ने झूठा आश्वासन देकर इनको थाने से चलता कर दिया। आपको बतादे कि

सेक्टर-135 मे स्थित टुडे होम्स सोसायटी 2009 मे लांच हुई थी ,शहर के बीचो बीच सोसायटी होने की वजह से अपने आशियाने के चाह रखने वालो ने इसमे अपनी खुन पसीने की कमाई लगा दी और फ्लैट्स बुक कर दिया ,लेकिन इनको क्या पता था की इनकी खुन पसीने की कमाई जाया चली जाएगी, बेईमान बिल्डर ने 2012 मे पजेशन देने का वादा किया लेकिन आज 2018 तक भी पजेशन नही मिला.है। परेशान बायर्स ने थाना एक्सप्रेस-वे मे सिंतबर 2017 मे टुडे होम्स के मालिक गुलशन गंभीर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई..बायर्स को लगा एफआईआर दर्ज हो गई है कम से कम अब उनको इंसाफ मिलेगा लेकिन यहा पर भी बायर्स ठगे गए सितंबर से लेकर अब तक बिल्डर पर कोई कार्यवाही नही हुई है जो की अपने आप मे बयान करती है की कही ना कही नोएडा पुलिस बिल्डर के साथ खङी है लेकिन पुलिस बायर्स के साथ आज भी सौतेला व्यवहार कर रही है परेशान बायर्स पिछले कई महीनो से बिल्डर के खिलाफ कारवाई करने मांग लेकर थाने का घिराव करने आते है लेकिन नॉएडा पुलिस बायर्स को झूठा आश्वासन देकर चलता कर देती है। बायर्स को केंद्र सरकार ,सूबे की सरकार से लेकर और पुलिस प्रशासन तक केवल आजतक आश्वासन पर आश्वासन ही मिला है।

नॉएडा : बॉडी बोन कैमरे से मनचलों पर कसेगा श िकंजा , ऑपरेशन पिंक की हुई शुरुवात

नोएडा- उत्तर प्रदेश में मनचलों पर लगाम लगाने के लिए योगी सरकार ने पुलिस प्रशासन के साथ मिलकर एंटी रोमियो स्कॉयड के नाम से एक टीम का घट्न किया था जिसकी वजह से मनचलो की आफत आ गयी थी अब इसकी की तर्ज पर गौतमबुद्ध नगर में भी ऑपरेशन पिंक के नाम से शुरू जल्द शुरू करने जा रही है। जिसके जरिये जनपद के शहरों व् गाँवो साथ ही कस्बो में सरेराह महिलाओं और युवतियों पर अश्लील टिप्पणियां और पीछा करने वाले मनचलों की पुलिस अब क्लास लेने जा रही है। ऑपरेशन पिंक के दौरान पाया गया है कि चिह्नित 93 जगह में से करीब 35 पर महिलाएं हर दिन मनचलों की वजह से परेशान होती हैं। लिहाजा, उनकी पहचान के लिए बॉडी बोन कैमरे की मदद ली जाएगी। महिला पुलिसकर्मी बॉडी बोन कैमरे से मनचलों को कैमरे में कैद करेंगी और इसके बाद इनकी सूची तैयार कर काउसंलर और पकडे गए मनचलों को महिलाओ के प्रति सम्मानजनक रवैया अपनाने के लिए पुलिस अधिकारियो के जरिये इन्हें संस्कारी बनाने के लिए क्लास भी दी जाएँगी।

सोमवार को ऑपरेशन पिंक खत्म होने के बाद पुलिस एक हफ्ते के लिए मनचलों की पहचान करने का अभियान चलाएगी। अभी ऑपरेशन पिंक के तहत पुलिस की 21 टीमें देहात की 50 और शहर में 43 जगह पर सादी वर्दी में जाकर यह पता लगाएंगी कि कहां-कहां मनचले सक्रिय हैं और महिलाओं को क्या-क्या परेशानियां होती हैं। इसमें पाया गया है कि करीब 35 जगह पर मनचले युवतियों को परेशान करते हैं। इसमें 20 जगह देहात इलाके में हैं।

अगले हफ्ते से महिला पुलिस की 21 टीमें बॉडी बोन कैमरे के साथ सादी वर्दी में मार्केट, स्कूल, मॉल्स, पार्क जैसी जगहों पर घूमेंगी। इस दौरान महिलाओं को घूरने, छेड़ने, अश्लील टिप्पणी करने या पीछा करने वाले लोगों को कैमरे में कैद किया जाएगा। इस अभियान के जरिये पकडे गए मनचलों को पुलिस अधिकारी

काउंसलर की सहायता ली जाएंगी और उन्हें महिलाओ के प्रति अच्छे संस्कार देने के लिए प्रेरित किया जायेगा। जैसे अपने घर पर महिलाओ का सम्मान करते है ठीक उसी तरह बहार की महिलाओ का सम्मान करे।

नॉएडा : प्राइमरी स्कूली बच्चो को जल्द मिले गा आरओ का पानी

नॉएडा : स्वास्थ की तरफ धयान करते उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने एक नई पहल की है अब सूबे के सभी जनपदों में प्रथामिक स्कूलों में बच्चो को शुद्ध जल देने का वादा किया है और इस योजना पर काम भी चालू हो गया है। और साथ ही गौतमबुद्ध नगर जिले के प्राथमिक स्कूलों में बच्चों को अब शुद्ध पानी देने का काम शुरू हो गया है और इसके के लिए बीएसए बालमुकंद से प्रथमिक स्कूलों की सूचि भी मांगी गयी है। जनपद के सरकारी स्कूलों में 1.1 किलोवॉट का आरओ वॉटर संयंत्र लगने जा रहे हैं। यह संयंत्र उत्तर प्रदेश नवीकरणीय ऊर्जा विकास अभिकरण (नेडा) की ओर से लगाया जाएगा। इसके लिए शासन ने बजट जारी कर दिया है। लेकिन सरकार के कदम को सहारनीय बताया जा रहा है , तो वही दूसरी तरफ स्कूलों में बिजली न होने के कारण योजना के सफल होने पर संदेह जताया जा रहा है। क्योकि गौतमबुद्ध नगर के ज्यादातर प्राथमिक स्कूलों में बिजली तक नहीं है तो इस योजना का लाभ इन स्कूलों में कैसे मिलेगा। साथ ही काफी ऐसे स्कूल है जिनमे में शुद्ध पानी के लिए इंतजाम नहीं हैं। स्कूलों में सरकारी हैंडपंप लगे हुए हैं। हैंडपंप के पानी में टीडीएस इतना अधिक होता है कि इसे पीने से बच्चे बीमार हो जाते हैं। यहां तक की स्कूल टीचर भी अपने घर से आरओ का पानी भरकर लाते हैं। प्रथामिक स्कूलों में बिजली शुद्ध पानी की बेइंतजाम के बावजूद ये योजना किस तरह सफल होती है , ये समय ही बताएगा। बीएसए बालमुकुंद प्रसाद ने बताया कि प्रदेश सरकार बच्चों सेहत को देखते हुए प्राथमिक स्कूलों में पेयजल की सुविधा मुहैया कराने की योजना तैयार की है। सरकार ने संयंत्र लगाने के लिए बजट भी जारी कर दिया है। उनके यहां से स्कूलों की सूची मांगी गई है।