Daily Archive: May 25, 2018

छिजारसी रेड लाईट के पास लाइट पोल nh-24 हाईवे प र गिरने से दोनों साइड की रोड पर ट्रैफिक हुआ जा म ।

नोयडा–छिजारसी रेड लाईट के पास लाइट पोल nh-24 हाईवे पर गिरने से दोनों साइड की रोड पर ट्रैफिक हुआ जाम । जानकारी के मुताबिक एक ऑटो भी इसकी चपेट में आ गया है।जिसमे करीब 4 से 5 लोग गंभीर रूप से घायल हो गये जिन्हें पास के SJM अस्पताल में भर्ती कराया गया है–

जिला गौतमबुध्द नगर के तीनों प्राधिकरण पर 60 0 करोड़ प्रतिकर बकाया

नोएडा के किसानो की जमीन तीनों प्राधिकरण धड़ल्ले से विकास कार्यों में बेच रहे हैं। आपको को बता दे कि इसका प्रतिकर अब तक जिला प्रशासन में जमा नहीं कराया। जिसके कारण प्राधिकरण के खातों की हालत खस्ता है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार तीनों प्राधिकरण पर करीब 600 करोड रुपए का बकाया है। इस धनराशि को वापस लेने के लिए जिला प्रशासन की ओर से तीनों प्राधिकरण को सुचना दे दी गयी है । दरसल आईजीआरएस सेल के जरिए पूछी गई एक शिकायत के निस्तारण के दौरान यह तथ्य निकल कर सामने आए हैं। ग्राम सभा की भूमि का संग्रहण करने के लिए तीनों प्राधिकरण द्वारा समय-समय प्रस्ताव दिए जाते रहे जिसका निरीक्षण कर सक्षम अधिकारी को स्वीकृत के लिए प्रेरित किया जाता है। सक्षम अधिकारी के स्वीकृत मिलने के बाद ही संबंधित प्राधिकरण को अपेक्षित धनराशि उपलब्ध कराने की मांग की जाती है। प्राधिकरण द्वारा धनराशि जमा कराने के बाद ही यह जमीन संबंधित प्राधिकरण को हस्तांतरित की जाती है नोएडा ग्रेटर नोएडा यमुना विकास प्राधिकरण द्वारा ग्राम सभा की जमीन का प्रयोग विकास कार्यों के लिए किया जा रहा है। लेकिन अब तक प्रतिकर नहीं दिया गया है। नोएडा प्राधिकरण पर 65 करोड़ 46 लाख 68 हज़ार 621 रुपये बकाया है। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण पर 5 अरब 34 करोड़ 92 लाख 22 हज़ार 334 रुपए बकाया है यमुना प्राधिकरण पर 39 करोड़ 53 लाख 85 हज़ार 285 रुपए बकाया है भूलेख विभाग द्वारा तीनो प्राधिकरण को अवगत कराया जा चुका है यह रकम जमा नहीं होने से सरकारी खजाने में राजस्व की हानि हो रही है।

जिला गौतमबुध्द नगर के तीनों प्राधिकरण पर 60 0 करोड़ पतिकर बकाया

नोएडा के किसानो की जमीन तीनों प्राधिकरण धड़ल्ले से विकास कार्यों में बेच रहे हैं। आपको को बता दे कि इसका प्रतिकर अब तक जिला प्रशासन में जमा नहीं कराया। जिसके कारण प्राधिकरण के खातों की हालत खस्ता है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार तीनों प्राधिकरण पर करीब 600 करोड रुपए का बकाया है। इस धनराशि को वापस लेने के लिए जिला प्रशासन की ओर से तीनों प्राधिकरण को सुचना दे दी गयी है । दरसल आईजीआरएस सेल के जरिए पूछी गई एक शिकायत के निस्तारण के दौरान यह तथ्य निकल कर सामने आए हैं। ग्राम सभा की भूमि का संग्रहण करने के लिए तीनों प्राधिकरण द्वारा समय-समय प्रस्ताव दिए जाते रहे जिसका निरीक्षण कर सक्षम अधिकारी को स्वीकृत के लिए प्रेरित किया जाता है। सक्षम अधिकारी के स्वीकृत मिलने के बाद ही संबंधित प्राधिकरण को अपेक्षित धनराशि उपलब्ध कराने की मांग की जाती है। प्राधिकरण द्वारा धनराशि जमा कराने के बाद ही यह जमीन संबंधित प्राधिकरण को हस्तांतरित की जाती है नोएडा ग्रेटर नोएडा यमुना विकास प्राधिकरण द्वारा ग्राम सभा की जमीन का प्रयोग विकास कार्यों के लिए किया जा रहा है। लेकिन अब तक प्रतिकर नहीं दिया गया है। नोएडा प्राधिकरण पर 65 करोड़ 46 लाख 68 हज़ार 621 रुपये बकाया है। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण पर 5 अरब 34 करोड़ 92 लाख 22 हज़ार 334 रुपए बकाया है यमुना प्राधिकरण पर 39 करोड़ 53 लाख 85 हज़ार 285 रुपए बकाया है भूलेख विभाग द्वारा तीनो प्राधिकरण को अवगत कराया जा चुका है यह रकम जमा नहीं होने से सरकारी खजाने में राजस्व की हानि हो रही है।