Daily Archive: August 29, 2018

पूर्व सैनिकों का हस्ताक्षर अभियान ” नोएडा शहीद स्मारक ” सेक्टर 29 नोएडा में भाग लिया !

नॉएडा :,भारतीय थल सेना के पूर्व सैन्य अधिकारी कर्नल वीरेन्द्र प्रताप सिंह चौहान व् अन्य पर 14 अगस्त 2018 को झूठे SC,ST एक्ट व् अपहरण , छेड़छाड़ अन्य जघन्य धाराओ लगाने , उनके साथ मारपीट करने , अपमानित करने ,गिरफ्त्तार करने , 76 वर्ष की अवस्था में हथकड़ी लगाकर पुलिस द्वारा कोर्ट ले जाने व् जेल भेजने के बाद अभी तक कोई ठोस कार्यवाही न करने के कारण आज शाम 5 बजे सभी अरुण विहार ,जल-वायु विहार , विवेक विहार , नर विहार,राम विहार नोएडा तथा गुरजिंदर विहार , जल वायु विहार ग्रेटर नोएडा , मनोज विहार गाजिया बाद तथा दादरी , जेवर ,सिकंदराबाद आदि क्षेत्र के सेकड़ो लोगो ने हस्ताक्षर अभियान " नोएडा शहीद स्मारक " सेक्टर 29 नोएडा में भाग लिया ! जिसकी शुरुआत श्रीमती इंदु चौहान धर्मपत्नी कर्नल वीरेन्द्र प्रताप सिंह चौहान ने सबसे पहले हस्ताक्षर कर की इसके बाद सभी शामिल पूर्व सैन्य अधिकारी , परिवार तथा नोएडा वरिष्ठ नागरिक जनों ने इस हस्ताक्षर अभियान में हस्ताक्षर किया ! इस हस्ताक्षर युक्त पत्र को माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी को भेजा जायेगा ! इस अभियान में मुख्यरूप से कर्नल वीरेन्द्र प्रताप सिंह चौहान के परिवार , कर्नल सी पी सिंह अध्यक्ष RWA अरुण विहार , शशि वैद , ब्रिगेडियर अशोक हक , कर्नल वी एन थापर , कमांडर शार्दुल आहूजा , विंग कमांडर रमेश सेठ , सुनील चौधरी ,धर्म वीर प्रधान आदि शामिल हुये

नोएडा बायोडायवर्सिटी पार्क में किया सम्म ानित लोगों द्वारा पौधारोपण

नोएडा के सेक्टर 91 में स्थित 75 एकड़ भूमि पर बायोडायवर्सिटी पार्क के रूप में विकसित किया जा रहा है । यह भूमि अधिसूचित वन विभाग के अंर्तगत नही आती है । इस इलाके में लगभग 31 वर्ष पूर्व यूकेलिप्टस प्रजाति के पौधे लगाये गये थे। जो अब पूर्ण विकसित होकर अपनी आयु पूर्ण कर चुके थे। जिनमें से काफी यूकेलिप्टस के वृक्ष सूख भी गये थे और काफी वृक्ष तिरछे भी हो गये थे। इन वृक्षो को हटाकर लम्बी आयु के पारम्परिक प्रजाति के पौधो का नया पौधारोपण कराने की अत्यंत आवयश्कता को मद्देनज़र इन वृक्षो का पातन उत्तर प्रदेश वन निगम द्वारा किया गया है।

दरअसल नोएडा के सैक्टर-91 में 75 एकड क्षेत्र में नोएडा बायो डायर्वसिटी पार्क को वर्ष 2015 में विकसित किया जाना प्रस्तावित किया गया था एवं नोएडा बायो डायर्वसिटी पार्क के विकास कार्य को कराने हेतु दिनांक 14 मार्च 2016 को प्रस्ताव प्राधिकरण की 188 वी बोर्ड बैठक में अनुमोदित किया गया ।

साथ ही सैक्टर-91 में 75.00 एकड क्षेत्र में नौएडा बायो डायवर्सिटी पार्क में भूमि की किस्म के अनुसार छः प्राकृतिक खण्डो के अनुसार पौधो के रोपण की योजना तैयार की गई है । जिसमें मुख्य तौर पर कोही , बांगर , खादर , डाबर , ग्रासलेंड एवं वैटलेंड है।

जिसको लेकर नौएडा बायो डायर्वसिटी पार्क में नीम, शीशम, जामुन, ईमली , शीर्ष, बकायन , पिलखन , कचनार , अशोक , गुलर , गुलमोहर – पीला/नीला/लाल, हरड, बहेडा, आंवला, खिरनी, बोटल बु्रष ग्रीन, सैमल, अमरूद बरगद इत्यादि लगभग 600 संख्यक पौधे का रोपण किया गया जिनकी ऊॅचाई 10 से 15 फीट है ।

वही इस पौधारोपण में फोनरवा के अध्य्क्ष एनपी सिंह , सभी स्कूलों के प्रधानचार्य , सभी सेक्टरों के आरडब्ल्यूए के अध्य्क्ष समेत समाजिक नागरिकों ने हिस्सा लिया |

राष्ट्रीय खेल दिवस पर SSCA ने नोएडा स्टेडियम में किया आयोजन

5वीं इंटर स्कूल क्रॉस कंट्री चैंपियनशिप में महामाया और विश्वभारती बने चैंपियन

राष्ट्रीय खेल दिवस पर नोएडा स्टेडियम में आयोजित 5वी मेजर ध्यानचंद इंटर स्कूल क्रॉस कंट्री चैंपियनशिप महामाया और विश्वभारती स्कूल ने जीत ली। व्यक्तिगत श्रेणी में भी महामाया की नेहा और विश्वभारती स्कूल के कनिष्क तोमर को चैंपियन का खिताब दिया गया। कार्यक्रम के चीफ गेस्ट रहे अथॉरिटी के ओएसडी राजेश कुमार, जीएम राजीव त्यागी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर परविंदर अवाना ने खिलाड़ियों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया।

सोसायटी फ़ॉर स्पोर्ट्स एन्ड कल्चरल एडवांसमेंट (SSCA) की ओर से आयोजित प्रतियोगिता में दिल्ली एनसीआर के 25 स्कूलों के 400 खिलाड़ियों ने भाग लिया। कार्यक्रम में बालिकाओं के लिए 2 किलोमीटर और बालकों के लिए 4 किलोमीटर की रेस आयोजित हुई। बालिका वर्ग में महामाया बालिका इंटर कॉलेज की नेहा पहले और शिवानी कुमारी दूसरे स्थान पर रही। तीसरा स्थान इंडस वैली स्कूल की साम्या मलिक ने हासिल किया।

वहीं बालक वर्ग में पहला स्थान विश्वभारती स्कूल के कनिष्क तोमर ने हासिल किया। वे लगातार दूसरे साल बालक वर्ग के चैपियन बने। दूसरे स्थान पर उत्तराखण्ड पब्लिक स्कूल के स्वयम कुमार और तीसरे स्थान पर राहुल मेहरा रहे। इनके अलावा दोनों वर्गों में चौथे से दसवें स्थान तक पर आने वाले खिलाड़ियों को भी सर्टिफिकेट और मेडल देकर सम्मानित किया गया।

बालिका वर्ग में चैंपियन ट्रॉफी महामाया बालिका इंटर कॉलेज को दी गई। उसने लगातार चौथे साल ट्रॉफी पर कब्जा जमाया। उपविजेता की ट्रॉफी विश्वभारती स्कूल नोएडा को दी गई। इस वर्ग में तीसरे स्थान की ट्रॉफी कैम्ब्रिज स्कूल नोएडा ने जीती। बालक वर्ग में चैंपियन ट्रॉफी विश्वभारती स्कूल ने जीती। वहीं उपविजेता ट्रॉफी पर कैम्ब्रिज स्कूल ग्रेटर नोएडा ने कब्जा जमाया। तीसरे स्थान की ट्रॉफी इंडस वैली स्कूल ने जीती। कार्यक्रम में खिलाड़ियों के साथ ही उनके कोचों को भी पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।

प्रतियोगिता में ट्रॉफी का इंतजाम रोटरी क्लब नोएडा सिटी और अल्पाहार का इंतजाम श्री नारायण सांस्कृतिक चेतना न्यास की ओर से किया गया। इस मौके पर एससी मिश्र, राजन श्रीवास्तव, गुंजीत कौर, विकास सिंघल, शमीम अनवर, सोसायटी की कार्यकारी अध्यक्ष राजेश्वरी त्यागराजन, संयोजिका इंद्रा चौधरी, कोषाध्यक्ष नरेंद्र कुच्छल, खेल प्रभारी अशोक सैनी, सुनीता खटाना, प्रो मिर्जा बेग, अलका भट्ट, दिनेश भारद्वाज, कंचन श्रीवास्तव, चन्दन कुमार, सुनील, अंकुर शर्मा समेत तमाम लोग मौजूद रहे।

नोएडा : एडीएम हरीश चंद्रा व उनकी पत्नी की ग िरफ्तारी के लिए आज से हस्ताक्षर अभियान

नोएडा : कर्नल व् एडीएम के बीच जमीनी विवाद जब नहीं थमेगा जबतक पुलिस प्रशासन एडीएम व् उसकी पत्नी को गिरफ्तार नहीं करती है। , ये कहना है उन पूर्व फौजियों का जो सेक्टर 29 में रहते है ,अब सभी पूर्व फौजी ने सभी सेक्टरों में जनसम्पर्क अभियान चलाकर आम लोगो को भी अपने साथ साथ जोड़ेंगे , साथ ही आज से हस्ताक्षर अभियान भी चलाएंगे जो सेक्टर 29 शहीद स्मारक से शुरुवात होगी ,आपको बता दे कि रिटायर्ड कर्नल व एडीएम के बीच 14 अगस्त से विवाद चला रहा है। इस मामले में दोनों तरफ से मुकदमें दर्ज हैं।रिटायर्ड कर्नल वीएस चौहान के करीबी कैप्टन विकास गुप्ता ने बताया रिटायर्ड कर्नल वीएस चौहान अपने परिवार के साथ मंगलवार शाम को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलने के लिए दिल्ली पहुंचे। देर शाम तक उनकी मुलाकात मुख्यमंत्री से नहीं हो पाई। वही कर्नल चौहान के नौकर हरीश लाल की तरफ से सोमवार को पुलिस को शिकायत दी गई थी। इसमें एडीएम व अन्य लोगों पर एससी एसटी एक्ट लगाने की मांग की गई थी लेकिन पुलिस ने एफआईआर दर्ज नहीं की।

नोएडा : बच्चो से खिलवाड़ करने वाले निजी स्क ूलों पर शिक्षा विभाग ने कसा शिकंजा

नोएडा : बच्चो की सुरक्षा से खिलवाड़ करने वाले ऐसे निजी स्कूलों के खिलाफ शिक्षा विभाग ने कारवाई करने की ठानी है। और शिक्षा विभाग ने 40 प्राइवेट स्कूलों की लापरवाही की जानकारी जिला प्रशासन को भेजी है। इन स्कूलों ने दो बार नोटिस व् और समय दिए जाने के बावजूद विभाग को शपथ पत्र उपलब्ध नहीं कराए थे। जुलाई में जिला प्रशासन और शिक्षा विभाग ने जिले के 132 निजी स्कूलों के प्रबंधकों व प्रिंसिपलों को निर्देश दिया था कि स्कूल अपने यहां पर बरती जा रही सुरक्षा व्यवस्था की जानकारी लिखित रूप से उपलब्ध कराएंगे। इसके लिए 5 अगस्त को अंतिम तिथि घोषित की थी। इस तिथि पर भी 50 फीसदी स्कूलों ने शपथ पत्र उपलब्ध नहीं कराए थे।

स्कूलों के अनुरोध पर शिक्षा विभाग व जिला प्रशासन ने शपथ पत्र दिए जाने की अंतिम तिथि बढ़ाकर 20 अगस्त की थी। बावजूद इसके 40 निजी स्कूल ऐसे रहे जिन्होंने तय समय सीमा से पांच दिन बीत जाने के बाद भी शपथ पत्र उपलब्ध नहीं कराए। पूरे मामले पर जिला विद्यालय निरीक्षक पीके उपाध्याय ने कहा कि शपथ पत्र न देने वाले स्कूलों को शिक्षा विभाग यह मान रहा है कि उनके स्कूलों में सुरक्षा के उपाय नहीं किए जा रहे हैं। अब विभाग इन स्कूलों को असुरक्षित स्कूलों की श्रेणी में डालने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।