Monthly Archive: September 2018

An awareness programme on “Solid Waste Management ” at community center, Sector-51 Noida.

The programme was organised by BIS( Ministery of consumer Affairs, Govt of India) and Noida authority . BIS and Noida authority has signed MOU last year for awareness programme .

Shri. Rajesh kumar Singh, OSD of Noida Authority representing Noida Authority elaborated the scheme of Solid Waste Management proposed to be implemented in Noida in details and the role of RWAs, Resident’s and the contractor.

Shri Binod Kumar Sinha, Sr. Director and head BIS(NITS) under Ministry of Consumer Affair, Govt of India explained that there is a need to follow the objectives of the program and to involve the residents to participate in the cleanly ness drive as well as Solid Waste Management program which has to be followed in Noida by all the residents.

Sh. N P Singh ji, President, Sh. A N Dhawan ji Secretary General & Sh. K K Jain ji Vice-President from FONRWA participated

The RWA sector 51 Noida has coordinated this programme where about 60 residents from all the RWAs of sector-51 participated in addition to office bearers of FONRWA , Noida as well as of RWA sector-51, Noida.

Sanjeev Kumar
General Secretary
RWA-51, Noida

नॉएडा : आवारा कुत्तो पर लगाम लगाने के प्राध िकरण जल्द करेगा एनजीओ का गठन

नॉएडा : शहर में आवारा कुत्तो से बढ़ती घटनाओ को संघन में लेते हुए नॉएडा प्राधिकरण ने पहल की है। जल्द ही प्राधिकरण आवारा कुत्तो की नसबंदी व् उन पर लगाम लगाने के लिए एनजीओ की सहायता लेगा। साथ ही एक पशु चिकित्सक को टीम में शामिल किया जायेगा ,

इस के लिए प्राधिकरण ने इच्छुक एनजीओ से आवेदन भी मांगे है जो 17 अक्टूबर तक कर सकते है। शहर के सेक्टरों में आवारा कुत्तों का आतंक चरम पर है। प्रत्येक सप्ताह कोई न कोई कुत्ता काटने का मामला सुनने को मिलता है। जिला अस्पताल में प्रतिदिन करीब 80 से ज्यादा मरीजों को वैक्सीन दी जा रही है।

इसके चलते प्राधिकरण ने यह फैसला लिया है। प्राधिकरण एबीसी (एनिमल बर्थ कंट्रोल) के तहत यह कार्यक्रम चलाएगा। इसकी जिम्मेदारी एक एनजीओ को सौंपी जाएगी। साथ ही एक पशु चिकित्सक को भी रखा जाएगा। जिसका कार्य कुत्तों की नसबंदी करना होगा। फोन करने पर एनजीओ की गाड़ी सेक्टर व गांव में पहुंचेगी और कुत्तो की नसबंदी का कार्य करेगी। लेकिन लगातार मिल रही शिकायतों के बाद प्राधिकरण नए एनजीओ को नियुक्त करना चाहती है। फिलहाल आवेदन करने वाले एनजीओ को प्रस्तुतीकरण के बाद ही स्थान दिया जाएगा।

नॉएडा : पुलिस ने येलो ऑपरेशन के तहत 60 शराब म ाफियाओ को किया गिरफ्तार

नॉएडा : जनपद पुलिस ने शराब तस्करो के खिलाफ सख्त अभियान चलाया गया है। जिसके चलते पुलिस ने अभियान के तहत 48 घंटे में 17 हजार लीटर शराब बरामद की है। साथ ही इस में करीब 60 तस्करो को भी गिरफ्तार किया है। सबसे जयादा अवैध शराब पकड़ने में थाना 24 पुलिस ने अहम भूमिका निभाई है ,वही एसएसपी डॉ अजयपाल शर्मा ने बताया कि पूरे जनपद में अवैध शराब की लगातार सुचना मिल रही है , और इस अभियान में 21 थानों की पुलिस ऑपरेशन येलो वाटर्स में लगी है। इस दौरान नोएडा से करीब 16 हजार लीटर अंग्रेजी और देसी अवैध शराब जब्त करते हुए 33 लोगों को गिरफ्तार किया गया। जबकि ग्रेटर नोएडा और ग्रामीण थाना क्षेत्रों से करीब 900 लीटर अवैध शराब जब्त कर 27 लोगों को पकड़ा गया। आगे बताया कि गिरफ्तार हुए आरोपी दिल्ली और हरियाणा से भी शराब तस्करी कर प्रदेश में लाकर बेच रहे थे। उन्होंने बताया कि अपराध पर रोकथाम के लिए यह पहल की गई है। आगे भी इस तरह के अभियान जारी रहेंगे। सबसे ज्यादा बरामदगी सेक्टर 24 पुलिस ने की ऑपरेशन येलो वाटर्स के पहले दिन 24 सितंबर की रात कोतवाली सेक्टर-24 प्रभारी पंकज पंत ने गाजियाबाद के थाना ट्रानिका सिटी क्षेत्र में छापा मारकर करीब 15 हजार लीटर देसी शराब और 48 लीटर अंग्रेजी शराब पकड़ी थी। अभियान के दौरान ही कोतवाली दादरी पुलिस ने भी करीब 500 लीटर अवैध शराब जब्त कर नौ लोगों को गिरफ्तार किया है।

नॉएडा : 52 लाख का कर नहीं जमा कराने पर आयकर वि भाग ने डेढ़ करोड़ के फ्लैट को किया सील

नॉएडा : एक शख्स को पॉश एरिये में फ्लैट लेना महंगा पड़ गया अब उसके पीछे आयकर विभाग की टीम पीछे पड़ गयी है , और आयकर विभाग की टीम ने बार बार नोटिस देने के बाद भी फ्लैट मालिक ने जवाब नहीं दिया ,तो हारकर विभाग ने फ्लैट को सीज कर दिया , साथ ही विभाग ने फ्लैट पर सेल आउट का नोटिस भी लगा दिया। कि जबतक विभाग का 52 लाख से अधिक का कर जमा नहीं करा देता है , इस फ्लैट को नहीं बेच सकते है। और रजिस्ट्री कार्यालय को भी पत्र जारी करके संबंधित फ्लैट की खरीद फरोख्त पर रोक लगा दी है।

आयकर विभाग की जानकारी के अनुसार प्रबीर कुमर आदित्य ने सेक्टर-93ए पार्श्वनाथ प्रेस्टीज सोसाइटी में वर्ष 2013 में डेढ़ करोड़ से अधिक कीमत का फ्लैट खरीदा था। सोसाइटी के जे-3 टावर में फ्लैट नंबर जी-टू खरीदा था। उस फ्लैट को खरीदने के लिए आयकर विभाग को रकम का ब्योरा नहीं दिया गया था। सोसाइटी के जे-3 टावर में फ्लैट नंबर जी-टू खरीदा था। उस फ्लैट को खरीदने के लिए आयकर विभाग को रकम का ब्योरा नहीं दिया गया था। इसके लिए आयकर कार्यालय द्वारा कई बार नोटिस भेजकर जानकारी प्राप्त करनी चाही। इसके बाद भी प्रबीर ने कोई जवाब नहीं दिया।

जिसके कारण जवाब नहीं मिलने पर विभाग ने बीते महीने 52 लाख 13 हजार बीस रुपये का कर जमा करने का आदेश जारी कर दिया। उसके बाद भी प्रबीर ने टैक्स जमा नहीं कराया। उसके बाद रिकवरी अधिकारी राम अवतर ने फ्लैट को अटैच कर लिया और सोसाइटी में ढोल और डुगडुगी बजवाकर ऐलान किया गया, कि बकाया न मिलने तक उक्त फ्लैट को किसी भी हालत में बेचा नहीं जा सकेगा। अब भी यदि इस बकाये का भुगतान नहीं हुआ तो फ्लैट को नीलाम करके पैसा वसूला जाएगा। मूल मालिक इसे किसी भी हालत में बेच नहीं सकेगा। बताया जा रहा है कि मालिक कोलकत्ता में रह रहा है।

नॉएडा : कम्पनी मालिक को 4 लाख की चपत लगाकर कर ्मचारी हुआ रफूचक्कर

नॉएडा : सेक्टर 63 में एक कम्पनी मालिक को उसकी के कर्मचारी ने लाखो रूपए की चपत लगाकर रफूचक्कर हो गया। अब कंपनी के मैनेजर ने फेस-3 कोतवाली पुलिस से शिकायत की है। कंपनी के मैनेजर का कहना है कि आरोपित एचआर विभाग में काम करता था। पांच सितंबर को वह कंपनी का चार लाख रुपया लेकर बैंक में जमा करने गया था। लेकिन उसने पैसे जमा नहीं किये और लेकर फरार हो गया। कई दिनों तक आरोपित की तलाश की गई, कुछ पता नहीं चलने पर उसके खिलाफ शिकायत की गई है। पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है।

नॉएडा : प्राधिकरण ने शुरू किया शहर को 2 अक्ट ूबर तक खुले में शौच मुक्त बनाने का अभियान

नॉएडा : स्वछता मिशन को लेकर शहर को खुले में शौच मुक्त बनाने के लिए नॉएडा प्राधिकरण और सामाजिक संस्था मिलकर अभियान शुरू कर दिया है। साथ ही प्राधिकरण की कोशिश है कि इस अभियान को 2 अक्टूबर तक सफल कर दे ,
खुले में शौच वाले स्थान से अभियान की शुरुवात की गयी, सेक्टर 5 ,8 ,16 ,17 ,18 ,42 ,43 ,72 ,73 ,इस जगह पर 100 ज्यादा वॉलेंटियर्स ने मॉर्निंग ट्रिगरिंग में हिस्सा लिया।
आपको बता दे सुबह चार बजे नोएडा प्राधिकरण के सेक्टर-39 कार्यालय में प्राधिकरण द्वारा चयनित एनजीओ के वॉलेंटियर्स जमा हुए। सेक्टर-39 से सभी वॉलेंटियर्स को अलग-अलग सेक्टर्स में टीम के साथ खुले में शौच वाले स्थानों पर भेजा गया। सेक्टर-8 में शौच के लिए जा रहे लोगों से सामुदायिक शौचालयों का प्रयोग किए जाने का अनुरोध किया गया। शौच के लिए जा रहे लोगों ने बिना किसी आपत्ति के सामुदायिक शौचालयों का प्रयोग किया।

वही वरिष्ठ परियोजना अभियंता जन स्वास्थ्य विभाग एसके गुप्ता के मुताबिक नोएडा को दो अक्टूबर तक खुले में शौच मुक्त किया जाना है। लोगों से अपील है कि वे खुले में शौच के बजाए सामुदायिक व सार्वजनिक शौचालयों का प्रयोग करें। प्राधिकरण के अभियान में स्थानीय लोगों ने भी भरपूर सहयोग किया। यही नहीं प्राधिकरण की ओर से सभी सेक्टर्स में माइक के साथ शौच के लिए जा रहे लोगों को सामुदायिक शौचालयों का प्रयोग किए जाने का संदेश दिया गया।