Daily Archive: October 23, 2018

उत्तर प्रदेश हाइकोर्ट के चीफ स्टेडिंग कॉ उंसिल रमेश पांडेय ने आत्महत्या की

लखनऊ। उत्तर प्रदेश हाइकोर्ट के चीफ स्टेडिंग कॉउंसिल रमेश पांडेय ने आत्महत्या की हाई कोर्ट के अंदर ही अपने चेम्बर से कूदकर की आत्म हत्या

उत्तर हाइकोर्ट के चीफ स्टेडिंग कॉउंसिल रम ेश पांडेय ने आत्महत्या की

लखनऊ। हाइकोर्ट के चीफ स्टेडिंग कॉउंसिल रमेश पांडेय ने आत्महत्या की हाई कोर्ट के अंदर ही अपने चेम्बर से कूदकर की आत्म हत्या

नोएडा वासियों को प्राधिकरण की ओर से मिला द िवाली का तोहफा

दीपावली के शुभ अवसर पर प्राधिकरण ने नोएडा वासियों के लिए आवासीय योजना निकाल कर बड़ा तोहफा दिया है। नोएडा प्राधिकरण ने 5 अलग-अलग सेक्टरों में ऐसे प्लॉटों को चिन्हित किय था जिनका आवंटन नहीं किया गया था या रद्द कर दिया गया था। इन प्लॉटों का क्षेत्रफल 200 वर्गमीटर से लेकर 400 वर्ग मीटर तक होगा।

योजना के तहत कुल 442 प्लॉटों को लांच किया गया है। इन प्लॉटों को पंजीकृत करने के लिए 13 नवंबर से 28 नवंबर तक ऑनलाइन आवेदन करना होगा। 24 अक्टूबर को आरक्षित वर्ग के लिए सेक्टर-6 स्थित इंदिरा गाँधी कला केंद्र में ड्रा निकाले जायेंगे। इस योजना के तहत 264 प्लाट ऐसे जो 200 वर्गमीटर या उससे कम के होंगे। इन प्लॉटों को ग्रामीण, इंडस्ट्रियल, नोएडा एंप्लाइ, सामान्य व कमर्शियल की श्रेणियों में 216 प्लॉटों को बांटा गया है। जबकि 48 प्लॉटों को आरक्षित वर्ग के रखा गया है। वहीं, 200 से लेकर 400 वर्गमीटर के 178 प्लॉटों में से 145 श्रेणी के हिसाब से और 33 प्लाट आरक्षित वर्ग के लिए रखे गए हैं।

नॉएडा : शहर में बिना ड्रग लाइसेंस चल रहे दव ाई स्टोरों पर लगेगा अंकुश

नॉएडा : शहर के अस्पतालों व् डाक्टरों के क्लीनिकों में चल रहे दवाइयों की दुकानों को बिना ड्रग लाइसेंस के चलने नहीं दिया जायेगा ,और जो मौजूदा समय पर बिना ड्रग लाइसेंस के दवाई की दुकान चल रहे है। उनको भी जल्द बंद किया जायेगा। कैमिस्ट एसोशिएसन के पत्र पर संज्ञान लेते हुए मेरठ के औषधि अधिकारी मेरठ मंडल राजेश श्रीवास्तव ने सभी औषधि निरीक्षकों को ये निर्देश दिए है।

वही गौतमबुद्ध नगर कैमिस्ट एसोशिएसन के अध्यक्ष अनूप खन्ना ने बताया कि शहर में कई डॉक्टर अपने क्लीनिक में मेडिकल स्टोर खोले हुए हैं। सभी थोक विक्रेता डॉक्टर के पंजीकरण नंबर के बिना दवा का बिल न दें। बगैर जीएसटी नंबर के बिल न दिया जाए। उन सभी डॉक्टरों को डॉक्टरों को चिंहिंत किया जाए, जिनके पास रिटेल का लाइसेंस नहीं हैं। इस को संज्ञान लेते हुए हमने औषधि अधिकारी को 11 अक्तूबर को पत्र भेजा गया था। और

कैमिस्ट एसोसिएशन औषधि विभाग को समय समय पर ऐसे डॉक्टरों की सुचना उपलब्ध करता रहेगा।

नोएडा में अवैध पार्किंग में संलिप्त 11 लोगो ं पर गुंडा एक्ट की कार्यवाही करते हुये 6 माह के लिए किया गया जिला बदर

ज़िले में अपराध पर शिकंजा कसने के लिए डीएम बीएन सिंह के द्वारा लगातार व्यापक स्तर पर कार्रवाई की जा रही है। जिला मजिस्ट्रेट के द्वारा नोएडा में अवैध रूप से वाहन पार्किंग चलाने वाले जनपद के 11 गुंडों को गुंडा नियन्त्रण अधिनियम के प्राविधानों के तहत छः महीनों के लिए जिला बदर किया गया है।

जिला मजिस्ट्रेट गौतमबुद्धनगर बीएन सिंह ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि बिहार के दरभंगा निवासी बजरंगी सहाय पुत्र रामदयाल निवासी हाल निवासी फिल्मसिटी नोएडा, बिहार के सहरसा निवासी सोनू कुमार झा पुत्र जयराम झा, बिहार निवासी सिंटू कुमार झा पुत्र बचनेश्वर झा, श्याम बिहारी उर्फ पूरन पुत्र शक्तिदीन निवासी जिला बांदा, निरंजन झा पुत्र दिनेश झा, मुकेश कुमार राय पुत्र प्रमोद राय, निवासी गंगुली थाना बेनी पट्टी जिला मधुबनी बिहार हाल निवासी फिल्मसिटी नोएडा जिला गौतमबुद्धनगर, मंटू कुमार झा पुत्र दिनेश झा निवासी जिला सहरसा बिहार, चंदन कुमार झा पुत्र लाला झा निवासी सहरसा बिहार, रमेश यादव पुत्र हल्के यादव निवासी मध्य प्रदेश, महेन्द्र पुत्र लल्लू निवासी जिला बांदा तथा प्रमोद पुत्र कल्लन निवासी ग्राम मोहनपुरवा थाना भटोना बांदा को 6 महीनों के लिए जिला बदर किया गया है। ये सभी अपराधी हाल में नॉएडा के अलग अलग जगहों पर रहकर अवैध पार्किंग का धंधा चला रहे है।

आपको बता दें कि इन सभी अपराधियों पर जिला मजिस्ट्रेट के न्यायालय में गुण्डा एक्ट का मुकद्मा चल रहा है, जिसमें जिला मजिस्ट्रेट के द्वारा यह कार्यवाही की गई है।

जिला मजिस्ट्रेट ने इस संबंध में बताया कि जनपद में अपराधियों के खिलाफ लगातार कड़ी से कड़ी कार्यवाही करने के लिए जिला प्रशासन कदम उठाएगा। भविष्य में भी इसी प्रकार की कार्रवाई जाएगी और जो आपराधिक प्रवृत्ति के व्यक्ति हैं उन पर गुंडा एक्ट एवं गैंगस्टर तथा जिला बदर करने की कार्यवाही करने के साथ-साथ अन्य सख्त से सख्त कार्यवाही की जाएगी।