Noida Latest News

पर्ल एकेडमी ने लाॅन्च किया कैनवास- द इंक्य ूबेशन सेल

देश में डिजाइन, फैशन और क्रिएटिव बिजनेस के अग्रणी संस्थान पर्ल एकेडमी ने एक अनूठी पहल ’कैनवास- द इंक्यूबेशन सेल’ लाॅन्च करने की घोशणा की है। यह मंच संस्थान के पूर्व और मौजूदा छात्रों को उनके कारोबारी विचारों को पोशित करने और उन्हें क्रियान्वित करने का अवसर प्रदान करेगा। पर्ल एकेडमी के नोएडा परिसर में स्थित ’कैनवास’ का उद्देष्य ऐसा पारिस्थिति की तंत्र उपलब्ध कराना है, जो पर्ल एकेडमी के मौजूदा एवं पूर्व छात्रों में इनोवेशन, रचनात्मकता और ज्ञान आधारित उद्यमिता को प्रोत्साहित करे। नोएडा के विधायक एवं उत्तर प्रदेश भाजपा के महासचिव श्री पंकज सिंह ने इस इंक्यूबेशन सेल का उद्घाटन किया।

625 वर्ग फुट क्षेत्र में फैली यह फैसिलिटी वाई-फाई, मीटिंग रूम्स, संसाधनों के लिए स्टोरेज स्पेस और लैबोरेटरी एवं लाइब्रेरी जैसी सुविधाओं तक पहुंच से युक्त दक्ष वर्कस्टेशन उपलब्ध कराएगी। ये जरूरी बुनियादी सेवाएं उपलब्ध कराने के अतिरिक्त पर्ल एकेडमी अपने पूर्व छात्रों को वर्कशॉप , डोमेन विषेशज्ञों द्वारा आॅनलाइन माॅड्यूल और निवेशकों के साथ रणनीतिक नेटवर्किंग में भी मदद करेगी, जिससे ये विचार कारोबारी वास्तविकता में तब्दील हो सकें। यह सेंटर उभरते हुए उद्यमियों को ऐंजल इन्वेस्टर्स, सीड फंडर्स इत्यादि से मिलवाकर छात्रों को फंडिंग दिलाने के लिए भी मदद करेगा।

नोएडा प्राधिकरण और नोएडा पुलिस ने हटाया अ वैध अतिक्रमण

नोएडा में सड़को पर लग जाम को देखते हुए आज नोएडा पुलिस के द्धारा अवैध अतिक्रमण हटाया गया | आपको बता दे की ये अभियान नोएडा पुलिस और नोएडा प्राधिकरण द्धारा चलाया जा रहा है | वही नोएडा के मुख्य सड़को पर रोजाना जाम की बजह से नोएडा की जनता को काफी ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ता था जिसको लेकर नोएडा प्राधिकरण और नोएडा पुलिस ने अपनी कमर कसनी शुरू कर दी है | आपको बता दे की काफी सालो से नोएडा की सड़को पर अवैध अतिक्रमण बना हुआ था जिसकी बजह से नोएडा की सड़को पर वाहनों की गति धीमी होती जा रही थी | लेकिन यूपी में बीजेपी सरकार बनने के बाद जिला प्रशासन और नोएडा प्राधिकरण हरकत में आया और अवैध अतिक्रमण हटाना शुरू कर दिया |

RWA Representatives To Discuss Society Issues With Authority Officials

FONRWA has called upon a meeting of all resident welfare association members on this Sunday.

Meeting scheduled for 10:30 am on upcoming Sunday in Federation of Noida Welfare Association Office and will be presided by senior Noida authority officials.

Residents of Noida have appreciated efforts of district government officials for attending a meeting even on Sunday. RWA representatives have been requested to come with two-three major society grievances that can be discussed at the meeting.

नोएडा – ग्रेटर नोएडा और जेवर की जनता को एयरप ोर्ट का तोहफ़ा

उत्तर प्रदेश में बीजेपी सरकार बनने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नोएडा – ग्रेटर नोएडा और जेवर की जनता को एक बड़ा तोहफ़ा दिया | आपको बता दे की रात एक बजे तक चली कैबिनेट मीटिंग के दौरान यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बड़ा फैसला लिया गया | जिसमे जेवर को एयरपोर्ट देने का फैसला लिया वही इस फैसले से नोएडा-ग्रेटर नोएडा और जेवर की जनता भी काफी ज्यादा खुश है | वही आपको बता दे की इसके साथ एनसीआर को एक और एयरपोर्ट मिल गया जिसकी मांग लोग सालों से कर रहे थे। नोएडा और ग्रेटर नोएडा में जिन योजनाओं में देरी हुई, योगी सरकार ने उसकी जांच के आदेश दे दिए हैं।

नोएडा – ग्रेटर नोएडा और जेवर की जनता को एयरप ोर्ट का तोहफ़ा

उत्तर प्रदेश में बीजेपी सरकार बनने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नोएडा – ग्रेटर नोएडा और जेवर की जनता को एक बड़ा तोहफ़ा दिया | आपको बता दे की रात एक बजे तक चली कैबिनेट मीटिंग के दौरान यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बड़ा फैसला लिया गया | जिसमे जेवर को एयरपोर्ट देने का फैसला लिया वही इस फैसले से नोएडा-ग्रेटर नोएडा और जेवर की जनता भी काफी ज्यादा खुश है | वही आपको बता दे की इसके साथ एनसीआर को एक और एयरपोर्ट मिल गया जिसकी मांग लोग सालों से कर रहे थे। नोएडा और ग्रेटर नोएडा में जिन योजनाओं में देरी हुई, योगी सरकार ने उसकी जांच के आदेश दे दिए हैं।

नोएडा – ग्रेटर नोएडा और जेवर की जनता को एयरप ोर्ट का तोफहा

उत्तर प्रदेश में बीजेपी सरकार बनने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नोएडा – ग्रेटर नोएडा और जेवर की जनता को एक बड़ा तोफहा दिया | आपको बता दे की रात एक बजे तक चली कैबिनेट मीटिंग के दौरान यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बड़ा फैसला लिया गया | जिसमे जेवर को एयरपोर्ट देने का फैसला लिया वही इस फैसले से नोएडा-ग्रेटर नोएडा और जेवर की जनता भी काफी ज्यादा खुश है | वही आपको बता दे की इसके साथ एनसीआर को एक और एयरपोर्ट मिल गया जिसकी मांग लोग सालों से कर रहे थे। नोएडा और ग्रेटर नोएडा में जिन योजनाओं में देरी हुई, योगी सरकार ने उसकी जांच के आदेश दे दिए हैं।

कुछ महीनो बाद बनेगा सेक्टर 18 नो पार्किंग जो न

नोएडा के सेक्टर 18 पार्किंग की व्यवस्था को लेकर काफी ज्यादा चर्चित में रहा है | आपको बता दे की नोएडा के सेक्टर 18 शहर के सबसे बड़े कमर्शियल हब और एकमात्र कामर्शियल सेक्टर के रूप में विकसित किया गया है | वही दूसरी तरफ सेक्टर 18 में सड़को पर पार्किंग से बहुत ज्यादा जाम लग जाता है | जिससे नोएडा की जनता को काफी परेशानी का समाना करना पड़ता है | जिसको लेकर नोएडा प्राधिकरण की तरफ से बहुमंजिला कार पार्किंग का निर्माण किया जा रहा है। 3996 कारों की क्षमता वाली इस पार्किंग को जून में लोगों के लिए खोल दिया जाएगा। इसके निर्माण में 450 करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं। वही अधिकारियो की माने तो तीन माह बाद सेक्टर-18 में पार्किंग की व्यवस्था को पूरी तरह से दुरुस्त करने के बाद सेक्टर को नो पार्किंग जोन घोषित कर दिया जाएगा। सेक्टर में निर्माणाधीन कार पार्किंग के चालू होने के बाद सेक्टर-18 की आंतरिक सड़कों पर वाहन खड़े नहीं हो सकेंगे। पूरे सेक्टर को नो पार्किंग जोन में तब्दील कर दिया जाएगा। जिन स्थानों पर अभी पार्किंग हो रही है, वहा नो पार्किंग के बोर्ड लगा दिए जाएंगे। नियमों का उल्लघन कर खड़े किए जाने वाले वाहनों को क्रेन से हटवाया जाएगा और जुर्माना भी लगाया जाएगा।

प्राधिकरण में प्रोजेक्ट इंजीनियर रहे राम ेन्द्र सिंह के घर पर ईडी की छापेमारी .

प्राधिकरण में प्रोजेक्ट इंजीनियर रहे रामेन्द्र सिंह के घर पर ईडी की छापेमारी ,4 सदस्यीय टीम ने की छापेमारी,यादव सिंह के बेहद करीब है रामेन्द्र सिंह

NMRC OFFICERS SHOULD CONSIDER NOIDA METRO BUS COMMUTERS SUGGESTIONS

मैंने भी अपना सुझाव दिया तो और helpline no से मुझे request no भी मिला था । राजेश पाठक जी इस group मे हैँ उन्होने मुझे बोला था कि उन्होनेँ agenda मे डाल दिया हैँ ।
लेकिन पता नही Bus का route किससे सलाह करके बनता हैँ और NMRC ने इतनी अच्छी बसे दी है noida को और वो खाली चलती हैँ और auto जो noida की image को खराब कर रहें हैँ उसमे इतनी सवारी रहती हैँ । मजे की बात हैँ की nmrc की बसे खाली चलती हैँ उसको देख के मुझे दुख होता हैँ लेकिन NMRC के अधिकारी जरा भी ध्यान नही देते की अगर बसे खाली चल रही है तो हम किस route मे सुधार करके सवारी मिल सकती हैँ । अगर NMRC के कर्मचारी और अधिकारी ये समझे की अगर ये बस उनकी खुद की होती तो क्या इन बसो को खाली चलते देख सकते थे । इस group मे अगर कोई senior NMRC के अधिकारी है तो कृपया ध्यान दे । अगर किसी सदस्य के पास NMRC के भाटिया जी या संतोष यादव जी का no हो तो कृपया मुझे दे क्योंकि राजेश पाठक जी डिपो manager को फोन किया तो बोला की आप की route change की request agenda मे डाल दी है लेकिन उसके बाद फोन ही pick नही करते और ना ही call back आया ।
सुखदेव शर्मा
सचिव(फोनरवा)
President RWA रजत विहार