Noida Latest News

आबकारी विभाग ने छापा मारकर दूसरे राज्य की 1 35 पेटी शराब सहित तस्कर को किया गिरफ्तार

नोएडा – जिले मे शराब तस्करी का कारोबार थमने का नाम नही ले रहा है आज मौके पर करवाई करते हुए आबकारी अधिकारी श्री राकेश कुमार सिंह के निर्देशन में आज दिनांक 6 जुलाई को जनपद की आबकारी टीम द्वारा ग्राम मोहियापुर में दबिश कर राजू नामक व्यक्ति के किराए के मकान से *एक स्विफ्ट कार से 42 पेटी, तथा एक कमरे से 93पेटी बेस्टो ब्रांड विदेशी मदिरा (कुल 135 पेटी)हरियाणा राज्य में विक्रय हेतु मान्य बरामद की। मौके से 2 व्यक्ति ऋषभ गोयल व पुष्पेंद्र को गिरफ्तार किआ गया। गिरफ्तार दोनों व्यक्ति तथा राजू के विरुद्ध थाना सूरजपुर में FIR दर्ज कराई गई। तथा बरामद शराब एवं कार को जब्त कर अग्रिम कार्यवाई हेतु थाने के सुपुर्द किया गया।बरामद शराब की कीमत लगभग 7 लाख रु है

सपा ने लगाया बीजेपी सरकार पर सरकारी अस्पता लों में भर्ती शुल्क के नाम पर उगाही का आरोप

नोएडा – 1 जुलाई को ख़ामोशी से सूबे में राज कर रही बीजेपी की योगी सरकार का एक ऐसा फरमान लाया जिससे की आम आदमी और ख़ास तौर पे गरीब वर्ग के लोगों पर एक बहुत बड़ा प्रहार हुआ | जिला अस्पतालों में अब 34 रूपये भर्ती शुल्क मरीजों से वसूला जायेगा | आज से 17 साल पूर्व सत्ता में काबिज़ समाजवादी पार्टी की सरकार ने मात्र 1 रुपये का शुल्क वसूलने का आदेश दिया था| पिछली अखिलेश यादव जी की समाजवादी सरकार ने भी इस को न सिर्फ जारी रखा बल्कि 1 रूपये में ज़्यादा से ज़्यादा सुविधाएं देने का प्रयास किया | यह खर्च 34 रूपये से शुरू होक 167 रूपये तक अलग अलग श्रेणी में लिया जायेगा | गर्भवती महिलाओं को अखिलेश जी द्वारा दी जा रही आहार को भी बंद कर दिया गया है |
इस पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए समाजवादी पार्टी के नॉएडा के पूर्व प्रत्याशी सुनील चौधरी ने कहा की ये आम जनता को लूटने का नया हथियार है | स्वास्थ्य सेवाएं गरीबों को दिया जा रहा दान नहीं बल्कि लोकतंत्र मे उनका अधिकार है | पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश जी द्वारा किये गए कामो को बंद करने से इसका सीधा सीधा नुक्सान प्रदेश की भोली भाली जनता को होगा | पुराने समाजवादी नेता ओम पाल राणा जी ने भी कहा की गाँव गरीबों की बात करने वाली सरकार उन्ही के बीमार हो जाने पर मेहेंगे इलाज की व्यवस्था बना रही है | सरकार को यह सोचना चाहिए की वह कैसे उन् गरीबों को अच्छी सेवाएं प्रदान करें जिन्होंने वोट दे कर बीजेपी को सत्ता तक पहुँचाया |

नोएडा में चल रहा है ठगी का नया अंदाज, पढ़े औ र सावधान रहें आप

यूपी के हाईटेक शहर नोएडा में ठगी जैसी घटनाओ पर लगाम नहीं लग पा रहा है क्योकि थोड़े से लालच में लोग ठगी का शिकार हो जाते है | जी हाँ मामला है होशियारपुर गांव के पास एक युवक को बाइक सवार दो युवकों ने मोबाइल का खाली डब्बा थमा 10 हजार रुपये ठग लिए। युवक जबतक डब्बा खोलकर चेक करता, आरोपी फरार हो चुके थे। पीड़ित सुपौल बिहार के रहने वाले रमेश परिवार के साथ हिंडन विहार में रहते हैं। वह सुरजपुर स्थित एक बिल्डर साइट पर सुपरवाइजर हैं। उन्होंने बताया कि मंगलवार शाम वह होशियारपुर में दोस्त से मिलने गए थे। वह घर लौट रहे थे। तभी उन्हें सेक्टर 51 पुलिस चौकी से करीब 100 मीटर पहले बाइक सवार दो युवक मिले। युवकों ने उन्हें एचटीसी का एक महंगा फोन दिखाया। उन्हें डिब्बे से निकालकर फोन भी दिखाया। सौदा 10 हजार में तय हो गया। पास ही के एक एटीएम से पीड़ित ने 10 हजार रुपये निकाले और युवकों को दे दिया। रुपये लेने के बाद आरोपी डब्बा थमाकर तेजी से भाग गए। पीड़ित की शिकायत पर पुलिस मामले की जाच कर रही है।

एलिवेटेड रोड पर फर्राटा भरते वाहन बन रहे द ुर्घटना का कारण आधा दर्जन लोग हो चुके हैं अब त क घायल

नोएडा में ट्रैफिक से निजात और लोगों की सुविधाए के लिए सेक्टर 27 से सेक्टर 60 तक प्राधिकरण द्धारा एलिवेटेड रोड बनाया गया लेकिन ये एलिवेटेड रोड दुर्घटनओं में तब्दील होता जा रहा है | आपको बता दे की एलिवेटेड रोड का 28 जून को उद्घाटन हुआ था। उद्घाटन के बाद से अब तक एलिवेटेड रोड पर पांच दुर्घटनाएं हो चुकी हैं। जिसमें आधा दर्जन लोग घायल हो चुके हैं। वही मंगलवार की रात को फॉ‌र्च्यूनर कार ने डंपर ने टक्कर मार दी। दुर्घटना में कार के परखच्चे उड़ गए, जबकि उसमें सवार फैक्ट्री संचालक राजन तोमर (30) गंभीर रूप से घायल हो गए।

नोएडा निवासी खुद निभा रहे हैं पुलिस की जिम ्मेदारी, सारे सबूत देने पर भी नहीं पकड़ पा रही नोएडा की लाचार पुलिस

यूपी के मुखिया योगी प्रदेश में पुलिस विभाग की फेरबदल तो कर रही है जिससे लॉ एंड आर्डर और वारदात जैसी घटनाओ पर अंकुश लग सके लेकिन नोएडा पुलिस इसका सबक नहीं ले पा रही है | आपको बता दे की कुछ दिन पहले मोबाइल लूट के मामले में कार शोरूम प्रबंधक ने पहले तो जान की बाजी लगाकर दो बदमाशों को पकड़कर पुलिस को सौंपा। फिर मोबाइल लेकर फरार हुए तीसरे बदमाश को गूगल ड्राइव की मदद से खोज निकाला। साथ ही जीपीएस की मदद से अपने मोबाइल की लोकेशन भी तलाश ली। मोबाइल खोड़ा गाजियाबाद में चल रहा है। सवाल ये खड़ा होता है की पुलिस प्रशसन अभी तक तीसरा बदमाश को क्यों नहीं गिरफ्तार कर पाई ? क्या लोगों को खुद पुलिस का काम करना चाहिए ? शायद ऐसी घटनाओ से ये प्रतीत हो रहा है की अगर आपके साथ कोई लूट हो जाए तो खुद बदमाशों को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया जाए |

प्राधिकरण की लापरवाई से सेक्टर 18 की मार्क िट बनी अतिक्रमण का अड्डा

नोएडा – नॉएडा का दिल कहे जाने वाले सेक्टर 18 में प्राधिकरण ने सौंदर्यकरण के लिए करोडो रूपए खर्च कर दिए लेकिन अतिक्रमण जस का मस बना है इतना ही नहीं जिन लोगो ने यह दुकाने ले राखी है वे अब पछ्ता रहे है क्योकि करोडो रूपए खर्च कर उन्होंने जमीन ली है मगर कुछ ऐसे है जो सड़को पर ही दुकान बनाकर काम कर रहे है इस संबंध में प्राधिकरण अधिकारी सख्त रुख अपना रहे है। वर्क सर्किल 2 प्रभारी एससी मिश्रा का कहना है कि किसी भी सूरत में अतिक्रमण नहीं करने दिया जायेगा , खास बात यह है की यहां कुछ ऐसे माफिया सक्रिय है जो सड़को को फुटपाथों और पार्को को घेर कर पुलिस और प्राधिकरण से अपनी साठगांठ बनाते है और लोगो से रूपए वसूलते है और पुलिस प्रशासन व् प्रधिकरण आँख मूंद कर चुप बैठा रहता है।

डीएम आवास के पास बदमाशों ने व्यापारी से की लूटपाट

नोएडा – शहर की कानून व्यवस्था का क्या हाल है इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि डीएम आवास से चंद कदमो की दुरी पर ही बदमाश सरेआम लूट की वारदात को अंजाम दे रहे है और खास बात ये है कि शाम होते ही दो तीन पीसीआर सुरक्षा के लिए कड़ी हो जाती है मिली जानकारी के अनुसार टाइल्स व्यापारी रमेश गोयल सेक्टर 9 से अपनी दुकान बंद करके घर लौट रहे थे तभी डीएम चौराहे से पुलिस कालोनी की तरफ मुड़े तभी बदमाशो ने उन्हें घेर कर उनसे बैग लूट लिया और हथियार लहराते हुए भाग निकले, रमेश गोयल के अनुसार बैग में 3 हज़ार रूपए नकद व् अन्य कागजात थे कोतवाली सेक्टर 20 प्रभारी अनिल कुमार शाही ने बताया कि शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर लिया है।

करोड़ों की लागत से बने कॉलेज में पहले दिन दर ी पर बैठे छात्र

नोएडा सेक्टर 51 में करोड़ों की लागत से तैयार राजकीय कन्या इंटर कॉलेज में सोमवार को पठन-पाठन शुरू हुआ। डेस्क-बेंच के अभाव में पहले दिन दरी पर बैठकर छात्राओं ने पढ़ाई की। कॉलेज प्रशासन का कहना है कि जल्द ही डेस्क-बेंच का इंतजाम कर लिया जाएगा। सेक्टर 51 होशियारपुर में इसी साल राजकीय कन्या इंटर कॉलेज बनकर तैयार हुआ है। शनिवार को कॉलेज का पहला सत्र शुरू हो गया था, लेकिन औपचारिक तौर पर सोमवार को पढ़ाई शुरू हुई। कॉलेज में डेस्क-बेंच की व्यवस्था न होने से पहले ही छात्राओं को फर्श पर बिछी दरी पर बैठकर पढ़ाई करनी पड़ी। प्रिंसिपल हेमलता शर्मा का कहना है कि डेस्क-बेंच की व्यवस्था की जा रही है। इसके लिए अथॉरिटी से बातचीत चल रही है। जब तक ये नहीं आ जाते हैं तब तक इसी तरह कक्षाएं लगेंगी। आनन-फानन आधी-अधूरी सुविधाओं के साथ शुरू हुए कॉलेज में शिक्षकों की भी कमी है। यहां कुल 15 पीजीटी शिक्षकों की जरूरत है, लेकिन अभी तक सिर्फ नौ शिक्षकों की नियुक्ति हो पाई है। शहर के निजी और सरकारी स्कूलों में सोमवार से औपचारिक तौर पर पठन-पाठन शुरू हो गया। प्राथमिक व जूनियर हाईस्कूल में पचास फीसद से ज्यादा उपस्थिति रही। वहीं निजी स्कूलों में 100 फीसद तक छात्र पहुंचे। कई स्कूलों के बाहर छुंट्टी के बाद ट्रैफिक रेंगता नजर आया।

100 डायल की तरह महिलाओं के लिये। एक हेल्प लाइ न वाहन की डीएम ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

नोएडा – डीएम बीएन सिंह ने आज कलेक्ट्रट से 100 डायल की तरह महिलाओ की सुरक्षा के लिए एक सेफ्टी वाहन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया , उतर प्रदेश सरकार ने महिलाओ लिए एक योजना लागु की है जिसमे महिलाओ की सुरक्षा व् सम्मान के लिए सुविधा प्रदान की जाती है ,हम सब के लिए सरकार ने एक छत के नीचे महिलाओ को उनका हक़ व् पहचान दिलवाने के लिए प्रदेश के सभी जिलों में 181 हेल्प लाइन शुरुवात की गयी है जहा विधिक सहायता ,परामर्श चिकित्सा की सुविधा पुलिस सहयता आदि की सुविधा प्रदान की जायेगी ,

उत्तर प्रदेश सरकार की फसली ऋण माफी योजना क ा मिलेगा किसानों को लाभः डीएम बीएन सिंह

नोएडा – उत्तर प्रदेश सरकार की किसानों के फसली ऋण को माफ करने के लिए चलाई जा रही फसली ऋण योजना का लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से जिलाधिकारी गौतम बुद्ध नगर बृजेश नारायण सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट के सभागार में महत्वपूर्ण बैठक संपन्न हुई। आयोजित होने वाली बैठक में जिलाधिकारी ने सभी संबंधित अधिकारियों एवं बैंक के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि किसानों को फसली ऋण का लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से सभी बैंकर्स के द्वारा तथा संबंधित अधिकारियों के द्वारा अपनी तैयारी पूर्ण कर ली जाए ताकि पात्र किसानों को इस योजना का लाभ पूर्ण रूप से प्रदान हो सके।
उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत लघु एवं सीमांत किसानों को 2 हेक्टेयर भूमि से कम वाले किसानों को इस योजना का लाभ प्रदान किया जाना है संबंधित किसान को उत्तर प्रदेश का मूल निवासी होना आवश्यक है और ऐसे किसानों को इस योजना का लाभ प्राप्त होगा जिनके द्वारा 31 मार्च 2016 को फसली ऋण लिया गया है, ऐसे किसानों को 100000 रुपए की धनराशि तक उनका ऋण माफ किया जाएगा। जिलाधिकारी ने बताया कि ऐसी सभी बैंक शाखाएं जिनके द्वारा किसानों को फसली ऋण प्रदान किया गया है उनके द्वारा योजना के लिए उत्तर प्रदेश सरकार के पोर्टल पर 5 जुलाई से 15 जुलाई के बीच सभी किसानों के खातों का वेरिफिकेशन किया जाएगा।
उन्होंने बताया कि जो किसान भाई इस योजना से लाभ प्राप्त करना चाहते हैं उनके द्वारा अपना आधार कार्ड संबंधित बैंक शाखा में तत्काल प्रभाव से उपलब्ध करा दिया जाए, ताकि इस महत्वपूर्ण योजना का लाभ उन्हें प्राप्त हो सके। उन्होंने बताया कि योजना के तहत सर्वप्रथम आधार कार्ड से लिंक किसानों को लाभ प्रदान किया जाएगा जिन किसानों के लोन अकाउंट आधार कार्ड से लिंक नहीं होगे उन्हें बाद में कंसीडर किया जाएगा। अतः सभी ऐसे किसान जो फसली ऋण माफी योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं अपना आधार कार्ड संबंधित शाखा को आवश्यक रूप से उपलब्ध करा दें। उन्होने सभी बैंकर्स को यह भी निर्देश दिये है कि 15 जुलाई तक सभी फसली ऋण खाताधारक किसानों के खाते पोर्टल पर आवश्यक रूप से वेरिफिकेशन कर दिये जाये और यदि कोई किसान छूटेगा तो सम्बन्धित बैंक अधिकारी पर आवश्यक कार्यवाही की जायेगी।
आयोजित होने वाली महत्वपूर्ण बैठक में अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व घनश्याम सिंह, जिला कृषि रक्षा अधिकारी तनवी शर्मा, उपनिदेशक कृषि ए0के0 बिश्नोई, लीड बैंक ऑफिसर तथा अन्य बैंक के अधिकारीगण तथा संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।