Noida Latest News

स्कूलों की मनमानी और फ़ीस बढ़ोतरी को लेकर बा ल भारती स्कूल के खिलाफ अभिभावकों ने किया विरो ध मार्च

नोएडा के बाल भारती पब्लिक स्कूल में पढ़ने वाले छात्रों के अभिभावको ने विरोध मार्च निकाला । स्कूल की बढ़ती मनमानी ओर फीस हाइक को लेकर सिटी मजिस्ट्रेट कार्यलय पर किया प्रदर्शन, ओर मजिस्ट्रेट को भी ज्ञापन

सोपा

। आपको बता दे की नोएडा के बाल भारती पब्लिक स्कूल से लेकर सिटी मजिस्ट्रेट कार्यलय तक निकला पैदल मार्च। इस पैदल मार्च में स्कूलों के सेकड़ो अभिभावकों ने हिस्सा लिया ।

35 IAS UTTAR PRADESH OFFICERS ARE TRANSFERRED

उत्तर प्रदेश में 35 आईएएस अफसरों के तबादले

चंचल कुमार तिवारी अपर मुख्य सचिव राजस्व

राजेंद्र तिवारी अपर मुख्य सचिव पंचायतीराज

सुरेंद्र चंद्रा प्रमुख सचिव श्रम

अवधेश तिवारी सीईओ ग्रामीण सड़क

राजमणि यादव सचिव सिंचाई

शरद कुमार सिंह सचिव खेलकूद

श्रुति सिंह विशेष सचिव कृषि विभाग

नरेंद्र प्रसाद पांडेय विशेष सचिव दिव्यांग

शिवप्रसाद सचिव राज्य सूचना आयोग

ब्रह्मदेव तिवारी एमडी रोडवेज

कुशीनगर डीएम आंध्रा वाम्सी हटाए गए

विशेष सचिव इलेक्ट्रानिक बने आंध्रा वाम्सी

डॉ. अनिल कुमार सिंह डीएम कुशीनगर

बाराबंकी डीएम अखिलेश तिवारी हटाए गए

अखिलेश तिवारी विशेष सचिव गृह बने

उदयभान त्रिपाठी डीएम बाराबंकी बने

संगीता सिंह विशेष सचिव श्रम

डीएम सुल्तानपुर संगीता सिंह हटाई गई

विवेक जिलाधिकारी सुल्तानपुर बने

सुधेश ओझा मंडलायुक्त देवीपाटन बने

मिर्जापुर डीएम विमल दुबे हटाए गए

विमल दुबे एमडी सहकारी चीनी मिल

अनुराग पटेल डीएम मिर्जापुर बने

वैभव श्रीवास्तव विशेष सचिव परिवहन

अमित बंसल वीसी गोरखपुर प्राधिकरण

विवेक वार्ष्णेय एमडी यूपी एमडी सीएनडीएस

अनिल मिश्रा विशेष सचिव कार्यक्रम क्रियान्वयन

एस. राजलिंगम मिशन निदेशक ग्रामीण आजीविका

सुरेंद्र राम विशेष सचिव ग्राम्य विकास

अनुज झा जिलाधिकारी बुलंदशहर

उज्जवल कुमार निदेशक सूचना उत्तर प्रदेश

यशु रुस्तगी विशेष सचिव वित्त

अजय चौहान से एमडी पीसीएफ का काम हटा

सचिव सहकारिता बने रहेंगे अजय चौहान

नॉएडा : सेक्टर 18 मार्किट एसोसिएशन ने नॉएडा प्राधिकरण की कूड़ा प्रणाली पर उठाए सवाल

नॉएडा : कूड़े के निस्तारण के लिए राजनीतिक दलों से लेकर सामाजिक संस्थाओं ने अनेको बार सड़को पर उतरकर शासन व प्रशासन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया , लेकिन आज तक कूड़े का समाधान नही हो सका । वही कूड़े की समस्या आज भी नोएडा के हर सेक्टरों में ऐसी बनी हुई है। जिसकी वजह से आज सड़को व मार्किट के आसपास कूड़े के ढेर लगे हुए है । जिसका असर लोगो के साथ साथ व्यापार पर भी पड़ रहा है । इसी गंभीर मुद्दे को लेकर आज सेक्टर 18 मार्किट एसोसिएशन ने नोएडा प्राधिकरण द्धारा शहर से अचानक कूङा न उठाए जाने पर प्राधिकरण के खिलाफ आक्रोश जाहिर किया गया । इस मौके पर सेक्टर 18 मार्किट एसोसिएशन के अध्यक्ष सुशील कुमार जैन ने कहा कि सेक्टर 18 मे जगह-जगह कूङो के ढेर लगे होने पर अपनी आपत्ति एवं चिंता व्यक्त की ।

साथ ही प्राधिकरण से कुछ सवाल किए :– (1) क्या प्राधिकरण ने जब शहर की परिकल्पना की और समय समय पर नोएडा का मास्टर प्लान बनाया तब कूङा डालने के लिए ऐसे डम्पिंग यार्ड क्षेत्र की परिकल्पना क्यों नही की, कूड़ा डालने के लिए आबादी से दूर क्षेत्र की चिन्हित किया जाए , जिससे की बार बार जनता आन्दोलन कर सङक पर न उतरे।
(2) क्या नोएडा के बनने के इतने समय बाद भी आज तक कोई कूड़ा निस्तारण की आधुनिक तकनीक का सृजन नही हो सकता था।
(3) क्या शहर मे जगह जगह कूङा ना उठने की बजह से बीमारिया महामारी की तरहा नही फैलेगी।

वही उनका कहना है की नोएडा के सेक्टर 18 मार्किट की गंदगी की बजह से बाजार की प्रतिष्ठा को गहरा धक्का लग रहा है। नोएडा के सभी मार्किट की सफ़ाई ग्राहक के आने से पहले सुनिश्चित की जानी चाहिए , परन्तु एसा नहीं हो रहा है। हर मार्किट में लगातार दिन में तीन से चार बार कुंडा उठना चाहिए । साथ ही उन्होंने बताया की एक तरफ देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वक्छ भारत को बनाने के लिए अहम कदम उठा रहे है , इसके बावजूद सरकारी अधिकारी और कर्मचारी इस अहम कदम में सहयोग नहीं दे रहा है |

नॉएडा स्टेडियम को अन्तर्राष्ट्रीय स्तर प र लाने तैयारी में जुटा प्राधिकरण

नॉएडा : खेलो के जरिये अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने के लिए नॉएडा प्राधिकरण ने नई पहल की है ,और इसके लिए नॉएडा स्टेडियम को निजी हाथो में सौपने की तैयारी चल रही है ,आधिकारिक सूत्रों की जानकरी के अनुसार नॉएडा स्टेडियम में अन्तर्राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिता कराने के लिए इसका निजीकरण कराया जा रहा है ,इसके लिए एक गाइड लाइन भी गयी है गाइड लाइन के तहत ही अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर निविदांए आमंत्रित की जाएगी , जो भी कम्पनी इसे लेगी उसे तमाम खेलो व् विज्ञापन आदि का पूरा अधिकार दिया जायेगा।
बताते कि नॉएडा स्टेडियम के किर्केट ग्राउंड में में अभीतक अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर विदेशी टीमें अभ्यास मैच खेल चुकी है इसके साथ ही स्टेडियम में किर्केट के आलावा बैडमिंटन ,टेनिस। लॉन टेनिस ,गोल्फ , व् फुटबॉल आदि की अकैडमी चल रही है , इसी को ध्यान में नॉएडा प्राधिकरण भविस्य की संभावनाएं तलाश कर रहा है। अभी जानकरी के अनुसार नॉएडा स्टेडियम से सालाना 1 करोड़ के आसपास की आय बताई गयी है जिसको नॉएडा प्राधिकरण 1 करोड़ से बढ़ाकर 5 करोड़ करने की सोच रहा है ,और इसके लिए उनके अपने ससांधन कम पड़ रहे है। अगर नॉएडा स्टेडियम निजीकरण हो जाता है तो यहाँ पर भविष्ये अन्य खेलो के साथ साथ आईपीएल के आलावा अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के मैचों का आयोजन भी हो सकता है।

नॉएडा : ट्रैफिक पुलिस व् एआरटीओ ने संयुक्त अभियान चलाकर काटे 258 चालान

नॉएडा : सड़क पर रॉन्ग साइड चलने वाले वाहनों पर जल्द ही शिकंजा कसने जा रहा है और अगर कोई वाहन गलत दिशा में आता पाया जाता है तो उसका तुरंत चालान काटा जायेगा ,और इसके लिए अभियान भी शुरू हो चूका है ,इसके लिए ट्रैफिक पुलिस और परिवहन विभाग दोनों मिलकर इस अभियान को अंजाम दे रहे है , नॉएडा व् ग्रेटर नॉएडा के क्षेत्रों में रॉन्ग साइड व् ट्रैफिक नियमो की अवहेलना करने वालो पर सख्त कारवाई की जाएंगी। खास तोर से चालान काटने के साथ साथ लोगो को बिना हेलमेट ,बिना सीट बेल्ट,व् अन्य नियमो के प्रति जागरूक करना भी है। एसपी ट्रैफिक अनिल कुमार झा ने बताया कि नॉएडा ग्रेटर नॉएडा में 25% फीसदी हादसे ऐसे है जो रॉन्ग साइड के कारण से होते है और उन्ही से जयादा मौते होती है। हमने परिवहन विभाग के साथ मिलकर कल से ये अभियान शुरू किया है , नॉएडा ग्रेटर नॉएडा में यातायात पुलिस नियम तोडने वालो के खिलाफ अभियान छेड़ दिया है , साथ ही चालान प्रक्रिया भी शुरू कर दी है , जब तक जनपद के लोग नियमो का पालन करने की आदत नहीं डालते है जबतक ये अभियान चलाया जायेगा। परिवहन विभाग के एआरटीओ एके पांडये ने बताया कि यातायात पुलिस व्

एआरटीओ के अधिकारियो ने पुरे जनपद में अभियान चलाने की मुहीम शुरू की है। जो अभीतक 258 से ज्यादा वाहनों के चालान किय गए है और कॉलिजों व् स्कूलो के आसपास के एरियो को ज्यादा फोकस किया जा रहा है क्योकि ज्यादातर छात्र रॉन्ग साइड चलते है।

नॉएडा : चोरी के 800 किलो एलमुनियम के तारो के स ाथ तीन आरोपी हुए गिरफ्तार

नॉएडा : पुलिस ने देर रात चैकिंग के दौरान तीन शातिर चोरो को पकड़ने में कामयाबी पायी है और साथ ही इनके पास से 800 किलो एलमुनियम के तार व् ढाई किलो गांजा और एक तमंचा भी बरामद किया है
पुलिस प्रशासन के द्वारा चलाये जा रहे अपराधियों के खिलाफ विशेष अभियान के तहत थाना सेक्टर 58 पुलिस ने आज रात्रि में काला पत्थर अंडर पास के पास से मुखबिर की सूचना के आधार पर एक टाटा पिकप गाड़ी को तथा उसके साथ साथ चल रही सेंट्रो कार को चैकिंग के दौरान पकड़ा , और तलाशी लेने के दौरान पिकप गाड़ी के अंदर से करीब 8 कुंटल एलुमिनियम का तार जो कि समतल फैक्ट्री बादलपुर से चुराया गया था बरामद हुआ तथा सेंट्रो कार के अंदर से ढाई किलो ग्राम अवैध गांजा बरामद हुआ मौके से 2 अभियुक्त फरार हो गए और तीन अभियुक्तों को पकडने में कामयाबी हासिल की , अभियुक्तों के पास से पास से एक तमंचा 315 बोर दो जिंदा कारतूस,दो चाकू एवं सेंट्रो कार भी बरामद भी की गयी। जानकारी के अनुसार पकडे गए अभियुक्तों ने बताया कि एल्मुनियम का तार उनके द्वारा यह समतल फैक्टरी बादलपुर से चुराया गया है। और गांजा विजयनगर से खरीदकर खोड़ा बेचने जा रहे थे। तथा चोरी का तार हमारे भागे हुए साथियो को बेचने जा रहे थे उनकी खोड़ा में कबाड़े की दुकान है। ये तीनो आरोपी गाजियाबाद ,बुलंदशहर , हापुड़ जिले के रहने वाले है जो 2 आरोपी फरार हुए है वे भी हापुड़ के रहने वाले है। जिनकी पुलिस तलाश कारण रही है। पुलिस तीनो अभियुक्तों से और कड़ाई से पुछताछ कर रही है। कि कब से चोरी की वारदातों में शमिल थे। अबतक कितनी घटनाओ को अंजाम दे चुके है।

नॉएडा : खटारा बसों पर जल्द होगी सख्त कारवा ई , परिवहन विभाग

नोएडा : परिवहन विभाग शहर में चल रही 5300 खटारा बसों पर जल्द नकेल कसने जा रहा है , ये बसें शहर की आबोहवा खराब करने में जुटी है। और पर्यावरण पर भी काफी असर पड़ रहा है , यह चौकाने वाला तथ्य आने से परिवहन विभाग के अधिकारियों चौकना हो गए है और खटारा बसों पर सख्त कारवाई करने के लिए तैयार हो गए है ,ये रिपोर्ट ऐसे समय पर आयी है जब परिवहन विभाग अनफिट स्कूली बसों में सुप्रीम कोर्ट की गाइड लाइन को पूरा कराने का प्रयास कर रहे थे। अधिकारियो ने तत्काल प्रभाव से सभी 5300 खटारा बस आपरेटर्स को विभाग की ओर से नोटिस जारी किया गया है। इसमें बस आपरेटर्स से जवाब तलब किया गया है कि ये स्पष्ट करें कि इन खटारा वाहनों को कहा पर संचालित किया जा रहा है।और बस ऑपरेटरों ने विभाग के पास इनकी फिटनेस के लिए अब तक क्यों संपर्क नहीं किया गया। अगर इनका संचालन शहर में हो रहा है, तो यह पूर्णत: प्रतिबंधित है। यदि जिले के बार इन्हें भेजा गया है तो विभाग से एनओसी क्यों नहीं ली गई है। यदि बसें कटवा दी गई हैं तो विभाग के पास चेचिस नंबर क्यों नहीं जमा कराया गया है। इन सभी पहलुओं पर सख्त जाँच की जाएगी और कुछ भी लापरवाही निकलती है तो बस मालिकों के ऊपर कारवाई की जाएगी ,

नॉएडा : सरकारी बैठकों में पानी की बोतल पर बे न के बावजूद जिला प्रशासन कर रहा है आदेशों का उ लंघन

नॉएडा : स्वच्छ अभियान के तहत पुरे देश के सरकारी महकमों के अंदर होने वाली सेमीनार व् बैठकों पानी की बोतल का प्रयोग नहीं करने का आदेश दिया हुआ है लेकिन उसके बावजूद आदेश का पालन नहीं हो रहा है और धड़ल्ले से सरकारी कार्यकर्मो में पानी की बोतलों प्रयोग रहा है। पर्यावरण की अनदेखी कर जनपद गौतम बुध नगर में भी इन आदेशों का उलंघन हो रहा है। 2 अक्टूबर 2019 तक स्वच्छ भारत बनाने के मिशन के तहत पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालय भारत सरकार द्वारा 28 अप्रैल 2016 में अंतरराज्य सचिवालय को पत्र लिखा था। जिसमें सभी राज्यों में होने वाली सरकारी बैठकों एवम सेमिनारों में पानी की बोतल का प्रयोग नहीं करने का आदेश जारी किया गया था। लेकिन, मंत्रालय का यह आदेश सिर्फ फाइलों में ही है। बोतल बंद पानी के प्रयोग से ना सिर्फ पानी की बबार्दी होती है बल्कि खाली प्लास्टिक की बोतलें प्रदूषण का कारण भी बनती हैं। और स्वास्थ हानिकारक होती है। साथ ही बंद बोतल पानी सेवन करने से खतरनाक बीमारी फैलने आशंका रहती है। इन सभी बातो को ध्यान में रखकर भारत सरकार ने ये अहम कदम उठाया था , जिले के पर्यावरण कार्यकर्ता सरकार को दर्जनों बार पत्र लिख कर इस आदेश को लागू करवाने की मांग कर चुके हैं लेकिन कभी सुनवाई नहीं हुई। हाल ही में पर्यावरण कार्यकर्ता रामवीर तंवर के शिकायत पत्र के बाद प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने 5 अप्रैल को जिलाधिकारी को आदेश लागू करवाने हेतु पत्र लिखा है। पर्यावरण कार्यकर्ता रामवीर तंवर कहते हैं की मंत्रालय के आदेश का जिला प्रसाशन खुलेआम उलंघन कर रहा है। पर्यावरण के लिए यह आदेश लागू होना जरूरी है।