Noida Latest News

प्राधिकरण के करोड़पति इंजीनियर और कर्मचार ियों पर गिर सकती है गाज

देश के सबसे अमीर प्राधिकरण कहे जाने वाले नोएडा ग्रेटर नॉएडा प्राधिकरण के कर्मचारी और इंजीनियर करोड़पति की संख्या कम नहीं हैं। ऐसे तमाम इंजीनियर और कर्मचारी हैं, जो कुछ वर्ष पहले तक टूटे हुए स्कूटर से चलते थे। आज वे ऑडी, मर्सिडीज, बीएमडब्ल्यू जैसी कारों से सफर कर रहे हैं। अब योगी सरकार की नजर मे ये लोग आ गए है और नोएडा प्राधिकरण में पिछली सरकारों के द्वारा हुऐ घोटालो पर जाँच के आदेश दिए है। हालांकि आयकर विभाग द्वारा पूर्व प्राधिकरण कर्मी यशपाल त्यागी पर शिकंजा कसे जाने के बाद कई प्राधिकरण कर्मी और इंजीनियरों के माथे पर चिंता की लकीरें गहरा गई हैं नोएडा प्राधिकरण में कई इंजीनियर ऐसे हैं, जो न तो घर से मजबूत थे न ही उनके पास कार थी। आज वे शहर के पॉश सेक्टरों में दो-दो कोठियों के मालिक बनने के साथ लाखों रुपये कीमत की गाड़ियों में घूम रहे हैं। करोड़ों रुपये की कोठियां और लाखों की गाड़ियों का प्रतिमाह जितना मेटेनेंस खर्च है, उतनी तो कई इंजीनियरों की सैलरी भी नहीं है। कई इंजीनियर और प्राधिकरण कर्मी ऐसे हैं, जिन्होंने अपने बच्चों की शादी में दहेज के रूप में लग्जरी गाड़ियां दी हैं। वह भी एक नहीं, दो व तीन गाड़ियां एक शादी में दी गई हैं। मर्सिडीज टू-सीटर से लेकर बीएमडब्ल्यू तक शादी में दूल्हे और उसके पिता को दी गई हैं। इंजीनियर ऐसे भी हैं, जिन्होंने शहर में संपत्ति तो खूब बनाई, लेकिन कुछ अपने रिश्तेदारों के नाम पर और कुछ बेनामी। कई ऐसे हैं, जिनके रिश्तेदार भी करोड़पति बन चुके हैं। जबकि इनमें से अधिकांश के पास कोई काम तक नहीं है। कई प्राधिकरण कर्मियों की स्वयं की कंपनियां भी चल रही हैं तो कुछ ने बिजनेस कर रखा है। हालांकि यशपाल त्यागी के घर आयकर के छापे के बाद एक बात सभी के दिमाग में कौंध रही है कि सेवानिवृत होने के बाद भी अकूत संपत्ति मामले में कार्रवाई हो सकती है। ऐसे में कई इंजीनियर अब अपने पैसे को नोएडा व एनसीआर में खर्च करने के बजाय विदेश में लगाने की तैयारी में हैं।

गौतमबुद्ध नगर मे तैनात रिश्वतखोर अधिकारी पर गिरेगी गाज

नोएडा – जब से उत्तर प्रदेश में योगी सरकार आयी है जनता के लिए ख़ुशी की लहर है और शयद अब उत्तर प्रदेश उत्तम प्रदेश बन जाये , जिस तरह से योगी एक बाद एक नए नए फैसले ले रहे है और मंत्री से लेकर अधिकारी तक जनता को पूरा समय दे रहे है और काम कर रहे है। और जो भी घोटाले पिछली सरकार मे हुऐ है उनको भी जनता के सामने उजागर करने का आदेश दे दिया है आज योगी सरकार को एक महीना हो गया है आज भी योगी जी फूल एक्शन मे है ऐसा ही आदेश योगी जी ने दिया है मिलावटखोरों के खिलाफ , जो भी कोई व्यक्ति मिलावट करता पाया गया या नकली माल बेचता पाया गया। तो उस पर तुरंत करवाई करके जेल भेजा जाये। मिलावटखोरों के खिलाफ सख्त कानून बनाने जा रहे है ताकि मिलावटखोरों के सख्त सिंकंजा कसा जा सके। ऐसा ही एक मामला ग्रेटर नोएडा का आया है एक फूड इंस्पेक्टर द्वारा रिश्वत लेने और शिकायत खाद्य मंत्री अतुल गर्ग तक पहुंचने के बाद रकम वापस करने के मामले ने तूल पकड़ना शुरू कर दिया है। मंत्री तक घूसखोरी की शिकायत पहुंचने के बाद अब तक उसके विभाग में बने रहने पर भी लगातार सवाल उठाए जा रहे हैं। चर्चा है कि इंस्पेक्टर खाद्य विभाग के बड़े अधिकारियों के लिए भी वसूली का काम करता है, इसलिए वह इतने गंभीर मामले में फंसने के बाद भी विभाग में लगातार बना हुआ है।

मामले की गंभीरता को देखते हुए खाद्य मंत्री अतुल गर्ग ने उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा है। हालांकि इस मामले में अभी तक उनके पास कोई लिखित शिकायत नहीं पहुंचने से कार्रवाई में बाधा आ रही है। कि ग्रेटर नोएडा के जिस व्यापारी ने अपने एक परिचित भाजपा नेता के माध्यम से मंत्री के पास मौखिक शिकायत कराई थी, उनसे ली गई रिश्वत की 30 हजार रुपये की रकम को फूड इंस्पेक्टर ने वापस कर दिया था। इसलिए व्यापारी ने भी इस मामले में आगे लिखित शिकायत नहीं की। मामले के संज्ञान में आते ही खाद्य मंत्री ने विभाग के अधिकारियों से बातचीत कर कार्रवाई करने को कहा था। इसी के बाद अधिकारियों द्वारा फटकारे जाने पर फूड इंस्पेक्टर ने यह रकम वापस कर दी थी।

जानकारी के अनुसार फूड इंस्पेक्टर 30 हजार रुपये प्रतिमाह देने की मांग कर रहा था। अब ऐसे ही कुछ अन्य मामले में कई शिकायतकर्ता सामने आ रहे हैं। मेरे परिचित नवीन ग्रेनो के कालेज में कैंटीन चलाते हैं। उनसे भी 50 हजार रुपये की मांग की गई थी। पैसे नहीं देने पर सैंपल लेकर फंसाने की धमकी दी गई। मैं इसकी लिखित शिकायत मंत्री जी से करने जा रहा हूं। कई खाद्य व्यापारियों ने एक फूड इंस्पेक्टर द्वारा रिश्वत मांगे जाने की बात मुझसे की। इसकी लिखित शिकायत मैं जिला अधिकारी व डीओ एवं सिटी मजिस्ट्रेट तक को दे चुका हूं। नरेश कुच्छल, व्यापारी, हमारे पास किसी के माध्यम से मौखिक शिकायत आई थी, जिस पर तत्काल संज्ञान लेते हुए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया गया। बाद में मुझे जानकारी मिली की इंस्पेक्टर ने रिश्वत की रकम वापस कर दी है। इसके बाद हमें लिखित शिकायत नहीं मिली। फिर भी इस मामले में कार्रवाई की जायेगी

नोएडा – ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे पर हुआ बड़ ा हादसा , 1 की मौत 4 घायल

नोएडा – ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे पर एनएमआरसी के सिटी बस और अथॉरिटी के ट्रैक्टर में हुई भिड़ंत आपको बता दे की नोएडा सेक्टर 135 के पास ग्रेटर नोएडा से एनएमआरसी की सिटी बस आ रही थी अचानक से खड़े हुए अथॉरिटी का ट्रैक्टर में बस में टककर मार दी | जिसमे 1 की मौके पर मौत हो गयी वही 4 लोग घायल हो गए जिन्हे निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया वही बस ड्राइवर की हालात नाजुक बताई जा रही है | वही दूसरी तरफ दुर्घंट्ना होने के एक्सप्रेसवे पर जाम लग गया |

राष्ट्र जागरण समिति ने हिन्दुओ पर हमले के खिलाफ कलेक्ट्रट पर दिया धरना

ग्रेटर नॉएडा मे डीएम कार्यलय पर आज राष्ट्र जागरण समिति के लोगो ने केरल और पश्चिम बंगाल मे हिन्दुओ पर हमले रोकने मे विफल रही प्रदेशो सरकारों के सम्बध मे एक ज्ञापन दिया , डीएम कार्यलय पर आज राष्ट्र जागरण समिति के सैकड़ो लोगो ने धरना दिया और केरल व् पश्चिम बंगाल मे हिन्दुओ को ( विशेषकर राष्ट्रीय स्वेमसेवक संघ के कार्येकर्ताओ हमले हो रहे है ) राष्ट्र जागरण समिति के लोगो ने बताया। कि फिछले एक साल से लगातार हिन्दुओ की निर्मम तरीके हत्या हो रही है और जब से नई सरकार आई है तब से जायदा हिन्दुओ पर हमले हुऐ है और सबसे जायदा हिन्दुओ पर हमले कन्नूर जिले मे हुऐ है लेकिन वहा की सरकार खामोश बैठी है और वहा का राज्य पुलिस प्रशासन हर घटना पर आकर्मण अपराधिओं का साथ देता है और यही हाल पश्चिमबंगाल भी है यहां भी हिन्दू सुरक्षित नहीं है। और ज्ञापन के जरिये देश के प्रधानमंत्री मोदी जी अवगत कराने आये है। इसलिए हमने डीएम को ज्ञापन दिया है

सेल्स टैक्स ऑफिस आग में जली फाइलें, पाया गय ा आग पर काबू

नोएडा सेक्टर 18 स्थित सेलटेक्स ऑफिस पर लगी आग पर दमकल की 2 गाड़िओ ने आग पर पाया काबू। जानकारी के अनुसार सेलटैक्स ऑफिस पर कुछ कागज की फाइलों मे सॉर्ट सर्कीट से आग लगी थी ,मौके पर दमकल की 2 गाड़िओ ने पहुंचकर आग पर काबू प् लिया है और कोई जानमाल का नुकशान हुआ है।