Daily Archive: April 5, 2019

नोएडा के इस गांव में नहीं था रास्ता , मतदान करने के लिए जिला प्रशासन ने किया ये इंतजाम

नोएडा के इस गांव में नहीं था रास्ता , मतदान करने के लिए जिला प्रशासन ने किया ये इंतजाम

नोएडा :– गौतमबुद्ध नगर में 11 अप्रैल को लोकसभा के चुनाव होने वाले है , जिसको लेकर हर प्रत्याशी अपनी तैयारियों में जुटा हुआ है | वही दूसरी तरफ जिला प्रशासन भी गौतमबुद्ध नगर में ज्यादा मतदान हो उसके लिए पूरी कोशिश कर रहा है | आपको बता दे की गौतमबुद्धनगर प्रशासन ने यमुना पार के दलेलपुर गांव के मतदाताओं को मतदान केंद्रों तक पहुंचने में मदद के लिए एक मोटरबोट किराए पर ली है। इस संबंध में जारी एक आधिकारिक बयान में यह जानकारी दी गई है।

दरअसल गौतमबुद्धनगर निर्वाचन क्षेत्र में दलेलपुर एकमात्र ऐसा गांव है जो यमुना नदी पार कर हरियाणा की ओर स्थित है। लेकिन यह हिस्सा उत्तर प्रदेश के लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के तहत आता है। गांव के लोगों में इस बात को लेकर गुस्सा है कि इलाके में बेहतर संचार एवं संपर्क व्यवस्था नहीं है । इसी के चलते उन्होंने हाल ही में लोकसभा चुनाव का बहिष्कार करने की घोषणा की थी। जिसको लेकर चुनाव आयोग ने नाव का इंतजाम किया |  एक मोटरबोट के मालिक को भेजे गए एक सरकारी पत्र में कहा गया है कि मतदान के दिन 11 अप्रैल को मतदाताओं की सुविधा के लिए उसकी बोट किराए पर ली गई है।

बोट मालिक को भेजे गए आधिकारिक पत्र में कहा गया है, ‘मतदान के दिन यमुना पार स्थित दलेलपुर से मतदाताओं को लाने ले जाने के लिए आपकी बोट की सेवाएं ली गई हैं । 11 अप्रैल को मोटरबोट सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक नदी के फेरे लगाएगी।’ पत्र में कहा गया है, ‘इसमें किसी प्रकार की लापरवाही नहीं होनी चाहिए।’

खासबात यह है की मतदान केंद्र 12 किलोमीटर दूर स्थित है  , दलेलपुर गांव के लोग मतदान केंद्र 480 और 481 में अपने वोट डालेंगे जो कि करीब 12 किलोमीटर दूर गुलावली गांव में बनाए गए हैं । दलेलपुर गांव में करीब 250 परिवार रहते हैं और यहां वर्ष 2014 में करीब 200 मतदाता थे जिनकी संख्या इस बार घटकर मात्र 28 तक रह गई है। गांव के हाल के दौरे में पाया था कि यहां पर न तो पक्की गलियां हैं, न ही बिजली । जल मल निकासी व्यवस्था भी ठीक नहीं है । अधिकतर जरूरी सुविधाओं की व्यवस्था गांववालों को अपने आप करनी पड़ती है। गांव के बाशिंदों का दावा है कि उनके पास न तो आधार कार्ड है और ही राशन कार्ड ।

दल्लेपुर पुहंचने में छूट जाते हैं पसीने
दलेलपुर राष्ट्रीय राजधानी के बाहरी इलाके में स्थित है लेकिन यहां पहुंचने में पसीने छूट जाते हैं ।गांव को नोएडा से जोड़ने के लिए कोई पुल नहीं है। गांववालों का कहना है कि नोएडा तक पहुंचने का एकमात्र रास्ता है सडांध मारती प्रदूषित यमुना नदी को बोट से पार करना और उसके बाद कच्चे धूलभरे रास्ते पर तीन किलोमीटर पैदल चलना । या सड़क मार्ग से यहां पहुंचने के लिए दिल्ली और फरीदाबाद की एक ओर की करीब 70 किलोमीटर की दूरी तय करनी पड़ती है।

नोएडा में दो नाबालिग बच्चियों समेत एक महिला के साथ हुआ बलात्कार , आरोपी फरार

नोएडा में दो नाबालिग बच्चियों समेत एक महिला के साथ हुआ बलात्कार , आरोपी फरार

नोएडा (05/04/19 ) :– नोएडा में दो नाबालिग बच्चियों समेत एक महिला के साथ बलात्कार का मामला सामने आया है , वही इस मामले में आरोपी फरार है | आपको बता दे की नोएडा के सेक्टर-20 थाना पुलिस ने दो नाबालिग बच्चियों के साथ बलात्कार के आरोप में एक व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

थाना सेक्टर-20 प्रभारी राजवीर सिंह चौहान ने शुक्रवार को बताया कि पीड़ित बच्चियों की उम्र सात और पांच साल है। पड़ोसी चंद्रिका उर्फ कबाड़ी ने गुरुवार रात उनके घर में घुस कर दोनों के साथ बलात्कार किया। पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज कर दोनों बच्चियों को मेडिकल परीक्षण के लिए जिला अस्पताल भेजा है। आरोपी फिलहाल फरार है। पुलिस उसकी तलाश में जुटी है।

वहीं दूसरी तरफ थाना फेस-3 के प्रभारी अखिलेश त्रिपाठी ने बताया कि ममूरा गांव निवासी एक महिला ने लोनी निवासी संजीव के खिलाफ शादी का झांसा देकर बलात्कार का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया है।

थाना प्रभारी ने बताया कि घटना की रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस मामले की जांच कर रही है। उन्होंने बताया कि आरोपी फरार है उसकी तलाश की जा रही है।

नोएडा पुलिस ने दो शातिर वाहन चोरों को किया गिरफ्तार , चोरी के 5 वाहन बरामद

नोएडा (05/04/19)  :– नोएडा पुलिस ने दो शातिर वाहन चोर को गिरफ्तार कर चोरी की पाँच मोटरसाइकिल बरामद की है , साथ ही इन दोनों आरोपियों से अवैध शस्त्र भी मिले है । दरअसल नोएडा के सेक्टर थाना 20 पुलिस सेक्टर 6 में स्थित संदीप पेपर मिल चौराहे पर चेकिंग कर थी , तभी अचानक से बाइक सवार दो लोग भागने की कोशिश कर रहे थे , तभी पुलिस को इन दोनों पर शक हुआ , जिसके बाद उनका पीछा किया गया ।

थोड़ी दूर जाकर पुलिस ने इन दोनों शख्स को पकड़ लिया । वही इन दोनों से पुलिस द्वारा गहन पूछताछ की गई , जिसमे पता चला कि ये दोनों शातिर वाहन चोर है । जिन्होंने अभी तक 2 दर्जन से ज्यादा वाहन चुराए है ।

वही दूसरी तरफ उनसे कड़ी पूछताछ की , जिसके कारण चोरी की पाँच मोटरसाइकिल बरामद हुई । वही इस मामले में पुलिस के अधिकारियों का कहना है कि थाना 20 पुलिस ने दो वाहन चोरों को गिरफ्तार किया है , जिनसे पाँच चोरी के वाहन समेत अवैध शस्त्र बरामद हुए है ।

साथ ही उन्होंने बताया कि जिन आरोपियों को गिरफ्तार किया है उनका नाम रवि कुमार और अनुज कुमार है , ये दोनों हापुड़ के रहने वाले है । वाहन चोरी करने के लिए ये दोनों दूसरे जिले में घुसते है , उसके बाद अपने जिले में चले जाते है , जिसके कारण आज तक इनकी गिरफ्तारी नही हो पाई थी ।

वकील ने लगाया मारपीट का आरोप , नोएडा पुलिस जाँच में जुटी

वकील ने लगाया मारपीट का आरोप , नोएडा पुलिस जाँच में जुटी

नोएडा (05/04/19 ) :– नोएडा -दिल्ली बॉर्डर के पास एक वाक्य समाने आया है , जहाँ एक वकील को पुलिस ने जमकर पिटाई की है , लेकिन यह साफ नहीं हो पाया है की आखिर वो पुलिस नोएडा की थी या फिर दिल्ली की | दरअसल  दिल्ली से नोएडा में दोस्त की पार्टी में जा रहे एक वकील को पुलिस ने दिल्ली बॉर्डर पर रोक लिया। आरोप है कि वकील के पास शराब की बोतल मिलने पर पुलिस ने उसके साथ जमकर मारपीट की। जिसमें पीड़ित घायल हो गया।

आरोप है कि पीड़ित से पुलिस ने माफीनामा लिखवाकर उसे छोड़ दिया। पीड़ित ने यूपी और दिल्ली पुलिस को ट्वीट कर कार्रवाई की मांग की है। हालांकि, अभी यह पुष्टि नहीं हो सकी है कि मारपीट करने वाली पुलिस नोएडा की थी या दिल्ली की।

दिल्ली के बसंत विहार निवासी आयुष गुप्ता वकील हैं। वह ठेकेदारी का भी काम करते हैं। नोएडा में रहने वाले एक दोस्त के घर पर पार्टी थी। 30 मार्च को वह अपनी गाड़ी में शराब की बोतल लेकर दोस्त के घर जा रहे थे।

कालिंदी कुंज से जब वह दिल्ली बॉर्डर पर पहुंचे तो उन्हें पुलिस ने रोक लिया। पुलिस ने उनकी गाड़ी चेक की तो उसमे शराब की बोतल रखी हुई थी। पुलिस ने अचार संहिता के उल्लंघन का हवाला देकर कार्रवाई करने को कहा।

वकील ने इसका विरोध किया। इस पर पुलिस और वकील के बीच नोकझोंक हो गई। इस दौरान ककील ने पुलिस को यार शब्द से संबोधित कर दिया। पुलिस को यार शब्द कहने पर गुस्सा आ गया।

आरोप है कि यहां पुलिस ने वकील को चौकी में बंद कर पीटा। जिसमें वह घायल हो गया। पुलिस ने वकील को गंभीर धाराओं में जेल भेजने की भी धमकी दी। काफी देर बाद पुलिस ने वकील से माफीनामा लिखवाकर छोड़ दिया। इस मामले में एसएसपी वैभव कृष्ण का कहना है कि अभी ये पता नहीं कि मामला दिल्ली पुलिस का है या नोएडा पुलिस का। इसकी जांच कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।