Noida Latest News

अगले दस दिन झेलना पड़ेगा भीषण गर्मी का आतंक

Noida (25/0419)  : दिल्ली एनसीआर में लगातार तापमान बढ़ता ही जा रहा है , जिससे कारण लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है | वही चढ़ते पारे के बीच गर्म हवा से बचने की हर कोई कोशिश कर रह है। आज भी तापमान 41 डिग्री सेल्सियस के पार है । वही विशेषज्ञों का मानना है कि अब लू लगने का खतरा बढ़ गया है , साथ ही अगले 8-10 दिन गर्मी ऐसे ही परेशान करती रहेगी। इस बीच कल से 29 अप्रैल तक आंधी की संभावना बनी हुई है।

बता दे की पिछले दो महीने से तापमान काफी कम था। ऐसा माना जा रहा था मई से पहले गर्मी ज्यादा परेशान नहीं करेगी , लेकिन अब पिछले साल जैसा ही गर्मी का स्तर बन गया है। फिलहाल बारिश के आसार नजर नहीं आ रहे हैं।

सुबह से ही चिलचिलाती धूप ने असर दिखाना शुरू कर दिया था। दोपहर के वक्त तापमान 41 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंच गया। इसकी वजह से और भी ज्यादा गर्मी का अहसास बना रहा। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार, 29 अप्रैल तक तापमान इसी स्तर पर रहेगा और गर्मी हर रोज लोगों का पसीना निकालेगी। ऐसे में हीट स्ट्रोक व डायरिया का खतरा बना रहेगा। पिछले साल भी 24-25 अप्रैल को तापमान 40-41 के बीच ही था। गर्मी की वजह से सड़कों पर दिन में ट्रैफिक काफी कम नजर आया। बाजार में भी भीड़ काफी कम रही। वही इस मामले में स्वास्थ्य विभाग ने भयंकर गर्मी और दोपहर के समय चल रही गर्म हवाओं से बचने की सलाह दी है। सभी स्वास्थ्य केंद्रों के चिकित्सा अधीक्षकों को निर्देश जारी करने के साथ ही रेपिड रेस्पांस टीम का गठन कर दिया है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. अनुराग भार्गव ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग सतर्क है। विभाग ने कार्ययोजना बना ली है , अलग-अलग विभागों का सहयोग भी लिया जा रहा है। मलेरिया अधिकारी राजेश शर्मा ने बताया कि सभी सरकारी अस्पतालों में गर्मी संबंधी रोगों के उपचार के लिए जरूरी दवा व आईवी फ्लूड्स उपलब्ध करा दिये गए हैं। 13 नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों, जिला अस्पताल, ईएसआईसी अस्पताल, राजकीय चिकित्सा विज्ञान संस्थान, नव प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में ओआरएस कॉर्नर बनाए जाएंगे।

प्रत्येक सरकारी चिकित्सालय में ओआरएस पाउडर पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध करा दिया गया है। सभी मजदूरों के लिए मजदूरी वाले कार्य स्थलों पर स्वच्छ व ठंडे पानी की व्यवस्था की जाएगी। श्रमिक संस्थाओं से कहा गया है कि वे श्रमिकों के लिए शरण गृह की व्यवस्था करें और बेहद गर्मी वाले समय अंतराल 12 से 3 बजे तक कार्य को स्थगित रखें, ताकि मजदूरों को हीट स्ट्रोक से बचाया जा सके।

दो मजदूरों की मौत के मामले में डीएम ने गठित की जांच कमेटी

निर्माणाधीन बहुमंजिला इमारत से गिरकर हुई दो मजदूरों की मौत के बाद ने कार्यवाही करने की ओर पहला कदम बढ़ाया है। जिलाधिकारी बीएन सिंह ने इस मामले में चार सदस्यीय समिति गठित की है।
मंगलवार को सेक्टर-150 स्थित एटीएस प्रिस्टीन- दो की निर्माणाधीन बिल्डर परियोजना की 13 वीं मंजिल से गिरकर दो मजदूरों की मौत हो गई थी।
मामले में डीएम ने चार सदस्यों को नामित करते हुए मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए हैं। बिल्डर परियोजना की एक और साइट पर 29 अक्टूबर को भी दो मजदूरों की मौत हो चुकी है। जिलाधिकारी ने जांच समिति को 15 दिन में जांच कर रिपोर्ट सौंपने को कहा है।
जांच समिति में डिप्टी कलेक्टर अभय कुमार सिंह, लोकनिर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता विमल कुमार सिंह, सहायक जिला श्रमायुक्त हरिशचंद्र व सहायक निदेशक कारखाना रामबहादुर को नामित किया गया है।
ingh
नॉलेज पार्क कोतवाली प्रभारी अरविन्द पाठक ने बताया कि दोनों मृतकों में से किसी के भी परिजनों ने कोई तहरीर पुलिस को नहीं दी है।

स्वच्छ सर्वेक्षण-2020 में बेहतर रैंक हासिल करने के लिए नोएडा प्राधिकरण ने की तैयारियां शुरू

स्वच्छ सर्वेक्षण-2020 में बेहतर रैंक हासिल करने के लिए नोएडा प्राधिकरण ने अभी से अपनी तैयारी शुरू कर दी है | खासबात यह है की स्वच्छ सर्वेक्षण-2020 में बेहतर रैंक हासिल करने के लिए मशक्कत 7 महीने पहले ही शुरू हो गई है। दरअसल पहले इसकी कवायद अक्टूबर से शुरू होती थी। आपको बता दे की इस साल एक अप्रैल से ही शहर में हुए कार्यों के अंक स्वच्छ सर्वेक्षण में शामिल किए जाएंगे। इस साल 4000 अंकों की परीक्षा होगी।

नोएडा अथॉरिटी को रैंकिग में सुधार के लिए बड़े स्तर पर प्रयास करने होंगे। मिनिस्ट्री ने इसका ड्राफ्ट जारी कर दिया है। अथॉरिटी में इसके प्लानिंग के साथ लक्ष्य तय कर काम करना शुरू कर दिया है। इस बार के सिलेबस में शामिल कार्यों का सितंबर तक पूरा करना होगा। इसके बाद ही अच्छी रैंक की उम्मीद की जा सकती है।

स्वच्छता सर्वेक्षण लीग-1000

अप्रैल से सितंबर तक सिलेबस के हिसाब से कितने प्रतिशत काम अथॉरिटी कर पाती है। इसी के आधार पर 1000 अंक मिलेंगे। इसके लिए अथॉरिटी ने अभी से मशक्कत शुरू कर दी है।

3000 अंकों के लिए मशक्कत

पब्लिक को दी जा रही बेसिक सुविधाओं के स्तर में कितने प्रतिशत सुधार हुआ। इसी के आधार पर 3000 में से अंक मिलेंगे। शहर का मेट्रो सिटी के लेवल के आधार पर स्टैंडर्ड क्या है। निर्धारित मानकों के आधार पर कूड़ा कलेक्शन और निस्तारण हो रहा है या नहीं। इसके अलावा प्लास्टिक फ्री शहर, सीवरेज और मल का निपटरा, बायोमेडिकल वेस्ट, रिसाइक्लिंग वेस्ट की समस्या का समाधान, पानी की आपूर्ति और क्वॉलिटी, ओडीएफ प्लस-प्लस व 7 स्टार रेटिंग का स्टैंडर्ड के आधार पर अंक मिलेंगे। इसके अलावा पब्लिक फीडबैक महत्वपूर्ण होगा। हर काम के लिए नंबर तय किए गए हैं। प्लास्टिक फ्री शहर बनाने पर 50 अंक, मल निस्तारण पर 50 अंक, बायोमेडिकल वेस्ट की समस्या के समाधान पर 50 अंक पब्लिक फीडबैक से मिलेंगे। बनाना।

नोएडा प्राधिकरण के सामने चुनौतियां बहुत सी है जैसे की पानी की आपूर्ति और क्वॉलिटी को मानकों के आधार पर उपलब्ध कराना , शौचालयों का स्तर को बेहतर बनाए रखना , पब्लिक को कूड़ा कम पैदा करने और उन्हीं से निस्तारण कराने के लिए तैयार करना , प्लास्टिक फ्री शहर बनाना , कूड़े का सेगरीगेशन व अन्य प्रकार के वेस्ट का मानकों के आधार पर निस्तारण

वही इस मामले में नोएडा प्राधिकरण के ओएसडी राजेश सिंह का कहना है की मिनिस्ट्री ने स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 का ड्राफ्ट जारी कर दिया है। इसके आधार पर अथॉरिटी प्लानिंग और टारगेट तय कर रही है कौन से काम कब तक पूरे करने हैं ताकि अक्टूबर तक हम फाइट के लिए पूरा तरह तैयार रहें।

प्रेमी ने दहेज में मांगी कार, प्रेमिका ने चौथी मंजिल से कूदकर दी जान

नोएडा के वजीदपुर गांव में चौथी मंजिल से कूदी युवती।शिवालिक हॉस्पिटल में युवती की उपचार के दौरान हुई मौत।

नोएडा में ही रहने वाले युवक से करती थी प्रेम, 20 दिन बाद थी दोनों की लव मैरिज।

प्रेमी ने सुबह युवती से फोन पर दहेज में मांगी स्कॉर्पियो जिससे युवती आयी डिप्रेशन में और उसके बाद चौथी मंजिल से कूदकर कर ली आत्महत्या, थाना फेस थ्री की घटना।

पुलिस मौके पर पहुंच कर मामले कि जांच कर रही है। और युवक की तलाश जारी है।

नोएडा में बदमाशों का बढ़ता आतंक, दो थानों में दर्ज हुई अलग अलग लूट की वारदात

देश की राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा में बदमाश हुए बेखौफ। नोएडा में एक साथ दो थानों में दर्ज हुई अलग अलग लूट की वारदात।

एक्सप्रेस वे थाने में सेलरी बाटने जा रहे कैशियर से गन प्वाइंट पर 62 हजार नगद व मोबाइल की लूट।

वही सेक्टर 58 थाना क्षेत्र हनुमान मंदिर के पास बाइक सवार बदमाशों ने लूटी कार।

दोनो वारदातों पर पुलिस मौके पर। वारदात की जांच में जुटी है पुलिस। जल्द से जल्द लुटेरों को किया जाएगा गिरफ्तार।

नोएडा -: पार्क में पेड़ से लटका मिला युवक का श व

पार्क में पेड़ से लटका हुआ मिला युवक का शव, मॉर्निंग वॉक पर आए लोगो ने शव लटका हुआ देखकर दी पुलिस को सूचना, हत्या कर शव को लटकाए जाने की जताई जा रही है आशंका, पार्क में शव मिलने से सेक्टर में मचा हड़कंप, सेक्टर 58 थाना क्षेत्र के डी पार्क की घटना, पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा

नोएडा के सेक्टर 6 में स्थित कैनारा बैंक मे ं लगी आग, दमकल की गाड़ियां मौके पर पहुंची

नोएडा के सेक्टर 6 में स्थित कैनारा बैंक में लगी आग, दमकल की गाड़ियां मौके पर पहुंची। आग बुझाने की कोशिश जारी। अभी तक किसी हताहत की सूचना नहीं।

नोएडा सेक्टर 63 में स्थित फैक्ट्री का ताला तोड़ लाखों की बैटरी हुई चोरी।

नोएडा के सेक्टर 63 में चोरों ने एक फैक्ट्री से करीब ₹7,000,00 की बैटरी चोरी कर ली। इस संबंध में थाना फेस 3 को सूचना मिलते ही रिपोर्ट दर्ज कर ली गई।

मिली जानकारी के अनुसार सेक्टर 63 स्थित जी 127 में सुरेश कुमार महाजन इंटीग्रेटेड बैटरी इंडिया के नाम से कंपनी चलाते हैं। यह कंपनी अलग-अलग स्थान पर बैटरी सप्लाई करती है। 6 और 21अप्रैल के बीच फैक्ट्री से करीब ₹7,000,00 की बैटरी चोरी हो गई।

बताया जा रहा है कि फैक्ट्री का ताला तोड़कर चोरी की वारदात को अंजाम दिया गया। पुलिस को इस मामले में संदेह था इसलिए जांच पड़ताल के बाद रिपोर्ट दर्ज की गई है। थाना प्रभारी अखिलेश त्रिपाठी का कहना है कि इस मामले में कंपनी के कर्मचारियों के मिले होने की आशंका है।

सांसद व केन्द्रीय मन्त्री डा०महेश शर्मा क ो ब्लैक मेल करने के प्रयास में एक तथाकथित पत् रकार युवती गिरफ़्तार

-कैलाश अस्पताल में पुलिस की तैनाती का खुलासा,केंद्रीय मंत्री डॉ महेश शर्मा से ब्लैकमेलिंग का है मामला।

2 करोड़ की मांगी जा रही थी रकम, अस्पताल में पैसे लेने आयी युवती को पुलिस ने किया अरेस्ट। नोटबन्दी के समय बंद हुए निजी चैनल के अधिकारी कर रहे थे ब्लैकमेल।

एपीजे स्कूल के प्रधानाचार्य और प्रबंधन से जुड़े 5 लोगो को प्रशासन ने किया पाबंद।

एपीजे स्कूल के प्रधानाचार्य एके शर्मा और प्रबंधन से जुड़े एनएन नैयर व स्कूलों के बाहर प्रदर्शन में शामिल होने वाले तीन लोगों को पाबंद करने की तैयारी प्रशासन ने शुरू कर दी है।

नगर मजिस्ट्रेट शैलेन्द्र मिश्र ने बताया कि पांचों लोगों को पाबंद करने के लिए नोटिस भेजा जा रहा है। उन्होंने बताया कि एपीजे स्कूल के खिलाफ मध्य सत्र में फीस बढ़ाने की शिकायत आई थी। उस पर जिला फीस रेग्युलेटरी कमेटी ने निर्णय करते हुए उस फीस को वापस लेने और एक लाख का जुर्माना पहले लगाया था, लेकिन स्कूल ने आदेश का उल्लंघन किया था। शनिवार को हुई दूसरी बैठक में स्कूल प्रबंधन के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का निर्णय लेते हुए जिला फीस रेग्युलेटरी कमेटी द्वारा एक लाख रुपये के फाइन को पांच लाख करते हुए 24 घंटे के अंदर उस फीस को वापस लेकर सूचित करने का निर्देश दिया गया है।

साथ ही जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि स्कूल द्वारा आदेश नहीं मानने की वजह से शांति भंग हो रही है। इसकी वजह से स्कूल के प्रधानाचार्य और मैनेजमेंट को सीआरपीसी की धारा 107-116 के तहत पाबंद करने का निर्देश दिया था। उस निर्देश के बाद ही पाबंद करने की तैयारी शुरू हो गई है।

नगर मजिस्ट्रेट ने बताया कि इसके लिए नोटिस भेजा जा रहा है। उन्होंने बताया कि स्कूल के मालिक के संबंध में पता लगाकर उन्हें पाबंद करने की कोशिश होगी। साथ ही स्कूलों के बाहर लगातार प्रदर्शन में शामिल रहने वाले तीन लोगों को चिह्नित किया गया है। उन लोगों को भी पाबंद किया जाएगा।