Noida Latest News

सांसद व केन्द्रीय मन्त्री डा०महेश शर्मा क ो ब्लैक मेल करने के प्रयास में एक तथाकथित पत् रकार युवती गिरफ़्तार

-कैलाश अस्पताल में पुलिस की तैनाती का खुलासा,केंद्रीय मंत्री डॉ महेश शर्मा से ब्लैकमेलिंग का है मामला।

2 करोड़ की मांगी जा रही थी रकम, अस्पताल में पैसे लेने आयी युवती को पुलिस ने किया अरेस्ट। नोटबन्दी के समय बंद हुए निजी चैनल के अधिकारी कर रहे थे ब्लैकमेल।

एपीजे स्कूल के प्रधानाचार्य और प्रबंधन से जुड़े 5 लोगो को प्रशासन ने किया पाबंद।

एपीजे स्कूल के प्रधानाचार्य एके शर्मा और प्रबंधन से जुड़े एनएन नैयर व स्कूलों के बाहर प्रदर्शन में शामिल होने वाले तीन लोगों को पाबंद करने की तैयारी प्रशासन ने शुरू कर दी है।

नगर मजिस्ट्रेट शैलेन्द्र मिश्र ने बताया कि पांचों लोगों को पाबंद करने के लिए नोटिस भेजा जा रहा है। उन्होंने बताया कि एपीजे स्कूल के खिलाफ मध्य सत्र में फीस बढ़ाने की शिकायत आई थी। उस पर जिला फीस रेग्युलेटरी कमेटी ने निर्णय करते हुए उस फीस को वापस लेने और एक लाख का जुर्माना पहले लगाया था, लेकिन स्कूल ने आदेश का उल्लंघन किया था। शनिवार को हुई दूसरी बैठक में स्कूल प्रबंधन के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का निर्णय लेते हुए जिला फीस रेग्युलेटरी कमेटी द्वारा एक लाख रुपये के फाइन को पांच लाख करते हुए 24 घंटे के अंदर उस फीस को वापस लेकर सूचित करने का निर्देश दिया गया है।

साथ ही जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि स्कूल द्वारा आदेश नहीं मानने की वजह से शांति भंग हो रही है। इसकी वजह से स्कूल के प्रधानाचार्य और मैनेजमेंट को सीआरपीसी की धारा 107-116 के तहत पाबंद करने का निर्देश दिया था। उस निर्देश के बाद ही पाबंद करने की तैयारी शुरू हो गई है।

नगर मजिस्ट्रेट ने बताया कि इसके लिए नोटिस भेजा जा रहा है। उन्होंने बताया कि स्कूल के मालिक के संबंध में पता लगाकर उन्हें पाबंद करने की कोशिश होगी। साथ ही स्कूलों के बाहर लगातार प्रदर्शन में शामिल रहने वाले तीन लोगों को चिह्नित किया गया है। उन लोगों को भी पाबंद किया जाएगा।

नोएडा में 17 वर्षीय किशोरी ने छत से छलाँग लगाकर की आत्महत्या , पुलिस जाँच में जुटी

नोएडा में 17 वर्षीय किशोरी ने छत से छलाँग लगाकर की आत्महत्या , पुलिस जाँच में जुटी

नोएडा सेक्टर 39 थाना इलाके के अंतर्गत गॉव सलारपुर में आज सुबह 17 वर्षीय एक किशोरी ने छत से छलाँग लगाकर जीवन लीला समाप्त कर ली है । आत्महत्या के कारणों का फिलहाल पता नही चल पाया है ।

वही इस मामले की सूचना पुलिस को दी गई , मौके पर पहुँची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है । साथ ही इस मामले में पुलिस को कोई सुसाइड नोट भी नही मिला है । जिसको देखते हुए पुलिस कई दृष्टिकोण से जाँच कर रही है ।

इस मामले में थाना प्रभारी प्रशांत कपिल का कहना है कि सूचना मिली थी कि एक किशोरी ने छत से छलाँग लगाकर आत्महत्या कर ली है । शव को पोस्टमार्टम के भेज दिया है , मौके पर कोई सुसाइड नोट नही मिला है । पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है ।

वही दूसरी तरफ उनका कहना है कि मृतक के परिजनों से पूछताछ की गई है , अभी जाँच चल रही है । किस कारण से किशोरी ने आत्महत्या की उसका जल्द ही खुलासा कर दिया जाएगा । इस सम्बंध में कोई भी दोषी पाया जाएगा , उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी ।

आपको बता दे कि मृतक किशोरी का नाम पूजा है , साथ ही पूजा के पिता मूलरूप से शाहजहांनपुर के रहने वाले है । वह नोएडा में एक निजी कंपनी में काम करते है ।

खासबात यह है कि पुलिस ने परिजनों से पूछताछ की है , जिसमे उन्होंने फिलहाल यही कहा है कि उसने छत से छलांग लगायी है , कारण क्या है यह उन्हें भी नही पता ।

साथ ही पुलिस प्रेम प्रसंग से लेकर कई अन्य दृष्टिकोण को लेकर जाँच कर रही है । वही पुलिस द्वारा मृतक युवती के मोबाइल कॉल डिटेल निकाली जा सकती है, जिससे कोई सुराग मिल सके ।

Passengers from Noida are in trouble after Jet Airways crisis

Noida : Passengers from Noida who booked to fly on Jet Airways (India) Ltd have been is trouble after the airline temporarily suspended operations on Wednesday night. Their travel plans are in a mess and no one knows if and when they will be refunded.

The woes of passengers were compounded as International Air Transport Association (IATA) suspended Jet’s membership of its payments gateway on Thursday, potentially affecting the process of refunds. As per the travel experts payment of passengers will only be get refunded till when some other invest or take over Jet Airways.

दिल्ली से नोएडा में शिफ्ट होते ही चोरों ने किया स्वागत , पुलिस जाँच में जुटी

दिल्ली से नोएडा सेक्टर-34 के अरावली अपार्टमेंट में शिफ्ट हुए एक परिवार के घर का ताला तोड़कर चोर सोने का मंगलसूत्र ले गए। आपको बता दे की यह परिवार हाल में ही नोएडा शिफ्ट हुए है , जिसका स्वागत चोरों ने चोरी करके किया |

खासबात यह है की चोरों ने अलमारी और लॉकर भी तोड़ दिया था, पर कीमती सामान यहां न होने से उनके हाथ और कुछ नहीं आया। चोरों ने इस दौरान पूरे घर को बिखेर दिया। सेक्टर-24 थाना पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर केस दर्ज कर लिया है। सोसायटी के सीसीटीवी फुटेज में 2 लोग घर में घुसते दिख रहे हैं।

पीड़ित कुलदीप चौहान केंद्र सरकार में सरकारी कर्मचारी हैं और सेक्टर-34 के अरावली अपार्टमेंट में रहते हैं। वह दोपहर करीब 2 बजे परिवार के साथ दिल्ली में अपने पिता से मिलने गए थे। कुलदीप ने पुलिस को बताया कि रात करीब 10 बजे किसी परिचित का फोन आया कि उनके घर का ताला टूटा हुआ है और लाइटें जली हुई हैं। वह रात करीब 12 बजे नोएडा पहुंचे तो देखा कि अलमारी के ताले और लॉकर टूटा हुआ है। चोरों ने पूरा घर अस्त-व्यस्त कर दिया था।

वही इस मामले में एसएचओ प्रदीप कुमार त्रिपाठी ने कहा कि पीड़ित की शिकायत पर मामले की जांच की जा रही है। जल्द ही आरोपियों को पकड़ लिया जाएगा |

डीएम और एसएसपी ने स्ट्रांग रूम में रखी EVM मश ीनों की सुरक्षा व्यवस्था के बारे में दी जानका री

जिलाधिकारी गौतमबुद्धनगर बीएन सिंह व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक वैभव कृष्णा द्वारा विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों को फूल मंडी स्थित स्ट्रांग रूम में सुरक्षित रखी हुई EVM मशीनों की सुरक्षा व्यवस्था के संबंध में जानकारी दी गयी तथा उन्हें उनकी पूर्ण सुरक्षा के बारे में आश्ववस्त किया गया।

सड़क पर यातायात ज्यादा होते ही हो जाएगा सिग्नल ग्रीन , नोएडा प्राधिकरण की नई पहल

नोएडा शहर में यातायात समस्या को खत्म करने के लिए नोएडा प्राधिकरण लगातार कार्य कर रहा है | जिससे लोगों को परेशानी का सामना न करना पड़े | आपको बता दे की नोएडा शहर में प्रमुख समस्या ट्रैफिक चल रही थी | जिसको लेकर नोएडा प्राधिकरण ने एक नई पहल शुरू की है , जी हाँ यातायात समस्या को व्यवस्थित करने के लिए यहां गूगल आधारित तकनीक पर काम किया जा रहा है। नोएडा प्राधिकरण ने इसे एडाप्टिव ट्रैफिक सिग्नल नाम दिया गया है। यह चिप आधारित तकनीक है।

इस तकनीक के जरिए जिस भी सड़क पर यातायात ज्यादा होगा। वहां सिग्नल स्वत: ही हरे रंग का हो जाएगा। इसका प्रयोग नोएडा में शुरू कर दिया गया है। वर्तमान में उद्योग मार्ग, एमपी-1 पर इसे लगाया गया है। छह माह के ट्रायल के बाद सात जगहों पर इस तकनीकी का प्रयोग किया जाएगा। जगह चिह्नित कर ली गई है।

वही इस मामले में नोएडा प्राधिकरण के महाप्रबंधक राजीव त्यागी का कहना है की अब तक किए गए प्रयासों में सकारात्मक परिणाम मिल रहे है। निरीक्षण में प्रमाण मिल रहे है कि पीक आवर के समय यहां यातायात जाम नहीं होता है। साथ ही इन चौराहों पर प्रदूषण का स्तर भी कम हुआ है। यह अध्ययन लगातार किया जा रहा है। इस नई व्यवस्था के लिए नोएडा प्राधिकरण ने दो कंपनियों के साथ करार किया था। जिस पर काम किया जा रहा है। साथ ही उनका कहना है की यह कार्य सीएसआर के तहत किया जा रहा है। इसके लिए प्राधिकरण ने दो कंपनियों के साथ एमओयू साइन किए थे।

पहले चरण में बीएसएनएल, इंडियन ऑयल (गोलचक्कर), टी-सीरीज यानी सेक्टर-19 रेड लाइट पर चिप आधारित इस ट्रैफिक लाइटों को प्रयोगात्मक रूप से इस्तेमाल किया जा रहा है। इस लाइटों में सेंसर आधारित एक चिप का प्रयोग किया गया है। जिसके जरिए यह यातायात के समय को समायोजित करती है। इन लाइटों के जरिए यातायात को नियंत्रित करने में काफी मदद मिली है।

उन्होंने बताया कि सबसे पहले बीसएनएल चौराहे पर एडाप्टिव सिस्टम को सात मार्च को लगाया गया। फिलहाल प्रयोगात्मक रूप से सफल होने के बाद इनको पूरे शहर में लगा दिया जाएगा , खासबात यह है की गूगल तकनीक पर करती है काम |

कंपनी के प्रवक्ता ने बताया कि यह पूरा सिस्टम गूगल तकनीक पर आधारित है। जैसे आप गूगल खोलकर यातायात को देखते हो जिस सड़क पर जाम होता है वह रोड लाल रंग में और जहां जाम नहीं होता वह हरे रंग में दिखती है। ठीक इसी तरह एडाप्टिव सिस्टम में सेंसर चिप के जरिए सड़क पर चलने वाला यातायात स्टोर होता रहता है। जाम की स्थिति में यह बिना किसी मानव संसाधन के स्वत: ही ग्रीन हो जाएगी। साथ ही समय के अनुसार ही इस सड़क पर अगली रेड लाइट भी ग्रीन हो जाएगी। ऐसे में यातायात जाम नहीं होगा। ठीक इसी तरह जहां यातायात सामान्य होगा वह नार्मल तरह से यह काम करेंगी।

नोएडा के एमिटी यूनिवर्सिटी के हॉस्टल सुपरवाइजर ने की आत्महत्या , पुलिस जाँच में जुटी

नोएडा के सेक्टर 125 स्थित एमिटी यूनिवर्सिटी में काम करने वाले एक हॉस्टल सुपरवाइजर ने सेक्टर 96 में एक पेड़ से फंदा लगाकर कथित तौर पर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने यह जानकारी दी। थाना सेक्टर 39 के प्रभारी निरीक्षक प्रशांत कपिल ने बताया कि सेक्टर 36 में रहने वाले मोहनन (55 वर्ष) सेक्टर 125 स्थित एमिटी यूनिवर्सिटी के हॉस्टल में सुपरवाइजर के पद पर कार्यरत थे।

थाना प्रभारी ने बताया कि आज सुबह पुलिस को सूचना मिली कि सेक्टर 96 के ग्रीन बेल्ट में स्थित एक पेड़ से फंदा लगाकर उन्होंने आत्महत्या कर ली है।

उन्होंने बताया कि घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मृतक के परिजनों को घटना की सूचना दे दी गई है।

थाना प्रभारी ने बताया कि मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। उन्होंने बताया कि पुलिस आत्महत्या के कारणों का पता लगा रही है। सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर मामले की जांच की जा रही है।

नोएडा पुलिस ने दो शातिर चोरों को किया गिरफ्तार , चोरी के वाहन किए बरामद

नोएडा पुलिस ने दो शातिर चोरों को किया गिरफ्तार , चोरी के वाहन किए बरामद

नोएडा  :– नोएडा पुलिस ने 2 शातिर वाहन चोरों को गिरफ्तार किया है , जिनसे चोरी के 5 वाहन बरामद किए है । दरअसल थाना फेस 3 पुलिस अपने इलाके में चैकिंग कर रही थी , तभी दो युवक के एक वाहन पर सवार जा रहे थे । चेकिंग के दौरान दोनों युवक भागने लगे । जिसको देख पुलिस ने पीछा कर दोनों युवकों को पकड़ लिया । वही पुलिस द्वारा कड़ी पूछताछ की तो पता चला कि ये शातिर चोर है , जो गौतमबुद्ध नगर में अब तक दो दर्जन से ज्यादा वाहन चोरी कर चुके है । वही इस मामले में सीओ सेकंड का कहना है ये कि शातिर चोर है उनका नाम हेमन्त और वसीम है । ये आरोपी चोरी के वाहन दूसरे राज्य में बेच दिया करते थे । वही इस गिरोह को लेकर पुलिस काफी दिनों तलाश में जुटी हुई थी , लेकिन ये गिरोह पुलिस को चकमा देकर फरार हो जाता था । वही इस मामले में मुखबिर को लगाया गया , जिससे उनकी गिरफ्तारी हो सके । कल रात इनकी गिरफ्तारी हुई है , इन दोनों आरोपी कड़ी पूछताछ की गई तो आधा दर्जन से ज्यादा वाहन बरामद हुए है ।

Noida Authority will begin work on Proposed Delhi-Noida flyover after IIT-Delhi approval

Greater Noida (17/04/2019) : The Uttar Pradesh State Bridge Corporation has proposed the construction of a 5.5km six-lane elevated road from Chilla area via Mayur Vihar Phase-1, the fly-over will go on till the Mahamaya flyover on Noida Expressway. The project is expected to remove daily traffic snarls on the 2km stretch between Noida Sector 14A, 15A and Mayur Vihar Phase-1.

The 650 crore project was approved by UP chief minister Yogi Adityanath on January 25. The designs have now been sent to IIT-Delhi for approval, following which the Noida Authority will begin construction.