Monthly Archive: February 2017

एमिटी विश्वविधालय द्वारा संचालित पाठयक् रम को जानने पहुंचा आयरलैड के डबलिन सिटी विश् वविधालय का प्रतिनिधिमंडल

एमिटी विश्वविधालय द्वारा संचालित पाठयक्रम को जानने पहुंचा आयरलैड के डबलिन सिटी विश्वविधालय का प्रतिनिधिमंडल एमिटी विश्वविधालय द्वारा संचालित किये जा रहे पाठयक्रम एंव शोधार्थियों द्वारा किये जा रहे शोध की जानकारी प्राप्त करने आयरलैड के डबलिन सिटी विश्वविधालय के अध्यक्ष प्रो ब्रायन मैकक्रेथ के साथ डबलिन सिटी विश्वविधालय के विदेश मामलों के उपाध्यक्ष श्री ट्रेवोर होल्मस, एमिटी विश्वविधालय कैंपस नोएडा पहुंचे। इस अवसर पर एमिटी साइंस टेक्नोलाॅजी एंड इनोवेशन फांउडेशन के अध्यक्ष डा डब्लू सेल्वामूर्ती एंव इंटरनेशनल अफेयर डिविजन के वाइस प्रेसीडेंट विंग कंमाडर एस के गोयल ने अतिथियों का स्वागत किया। प्रतिनिधिमंडल के दोनों सदस्यों ने एमिटी यूनीवर्सीटी आॅनलाइन, सेंट्रल लाइब्रेरी, एमिटी स्कूल आॅफ कम्यूनिकेशन स्टूडियो, एमिटी इनोवेशन इंक्यूबेटर आदि का दौरा किया।

National Seminar Cum Training Programme on the theme “ Human Rights –Towards Equality” at Amity University

श्रीमती स्वाती मालीवाल ने कहा की समाज में बलात्कार की घटनाएं बढ़ती जा रही है, महिला के खिलाफ हो रहे अपराध के आंकडे तेजी से बढ़ रहे है। तीन पुलिस स्टेशनों पर अनुसंधान से यह आंकडे सामने आए है कि 2012 से लेकर 2014 के बीच 31,446 महिलाओं के साथ हो रहे अपराधों के मामले दर्ज हुए है जिनमें से केवल 1046 केसो की दोशसिद्धि हुई है। देखा जाए तो स्थिति कि सच्चाई यह है कि अपराध करने में किसी को डर नहीं लगता है क्योकि अपराधी के अनुसार देश की प्रणाली उसका कुछ नहीं बिगाड़ सकती है। यह समस्या केवल दिल्ली की नहीं यह समस्या पूरे देश की है। आप सभी लाॅ के छात्र है आप सभी इस बात को जानते है कि अगर जांच ही नहीं होगी तो किस प्रकार केस आगे बढ़ेगा। यह समस्या बड़ी है जिससे सुधारने कि जरूरत है जांच में ही समस्या है अगर नहीं होगी दोषसिद्धि भी नहीं हो पाऐगा। दिल्ली में केवल 1 फोरेंसिंक साइंस प्रयोगषाला है जिसमें 7500 नमूने विंलगित है जिसमें से 1500 नमूने खराब हो गए है यह नमूने सामूहिक बलात्कार, बच्चे के बलात्कार के हो सकते थे। नमूने खराब हुए क्योकि इतने सालों में किसी ने इस पर ध्यान नहीं दिया, हालाकि अब उच्च न्यायालय इस पर खास नज़र रख रही है। आज भी कठघरे में पीड़िता से प्रश्न किए जाते है इसके खिलाफ दिल्ली महिला आयोग लड़ाई लड़ रहा है।हम यह चाहते है कि महिला सुरक्षा पर किसी भी प्रकार कि राजनीती नहीं होनी चाहिए ताकी इन मुद्दों पर कुछ काम हो सके। राजधानी में रोजाना 6 बलात्कार होते ऐसे में क्या स्थिति है आप समझ रहे है। आप सभी लाॅ छात्रों पर खास जिम्मेदारी है कि आप जब वकील बनेगे तो इस प्रकार के मामलों पर खास ध्यान दे अगर आप इस जिम्मेदारी को सही प्रकार से निभाऐगे तो आप जीवन में खुश रहेगे। अगर पूरे दिन में एक काम भी आपने अच्छा किया होगा तो आपको सुकून मिलेगा। इस देश में महिला सुरक्षा पर कई कार्यक्रम होते है कई चर्चाओं का आयोजन होता है पर इन सब के अलावा जरूरत है कदम उठाने की। यह संबोधन दिल्ली महिला आयोग की चेयरपरसन श्रीमती स्वाती मालीवाल का एमिटी विश्वविधालय सैक्टर 125 नोएडा में था। एमिटी लाॅ स्कूल नोएडा, एमिटी लाॅ स्कूल सेंटर टू एंव नेशनल हयूमन राइटस कमीशन के सहयोग से आज ‘हयूमन राइटस -समानता की ओर’ विषय पर राष्ट्रीय संगोष्ठी सह प्रषिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया।
इस राष्ट्रीय संगोष्ठी का शुभारंभ दिल्ली महिला आयोग की चेयरपरसन श्रीमती स्वाती मालीवाल, लाॅ कमीषन आॅफ उत्तराख्ंाड के चेयरमेन जस्टिस राजेश टंडन, नेशनल लाॅ युनिवर्सिटी दिल्ली के वाइस चांसलर प्रोफेसर (डा) रणबीर सिंह, एमिटी लाॅ स्कूल के एक्टींग चेयरमैन डा डी के बंदोपाध्याय एंव एमिटी लाॅ स्कूल सेंटर टू के एडिशनल निदेशक डा आदित्य तोमर ने पारंपरिक दीप जलाकर किया।

NOIDA’s NAI PEHAL MARCHING AHEAD

नई पहल नोएडा का फ़रवरी माह का कवि सम्मेलन 25 फ़रवरी को नोएडा स्टेडियम में बहुत ही शानदार ढंग से संपन्न हुआ । सुप्रसिद्ध कवि एवं कादम्बिनी के पूर्व संपादक डॉ धनञ्जय सिंह जी की गरिमामय उपस्थिति में कई नवोदित एवं वरिष्ठ कवियों ने कवितापाठ कर आयोजन को यादगार बना दिया ।युवा हास्य कवि विनोद पांडेय के संयोजन एवं युवा शायर प्रभात चतुर्वेदी के सुन्दर सञ्चालन में सुप्रसिद्ध साहित्यकार एवं अंतर्राष्ट्रीय कवि सर्वश्री डॉ धनञ्जय सिंह,सुप्रसिद्ध गीतकार इंद्रजीत सुकुमार ,कवियित्री संगीता गोयल ,युवा कवि विक्रम प्रताप सिंह ,ब्रजनंदन पचौरी जी ने काव्य-पाठ किया । साथ ही साथ कार्यकम की उपलब्धि रही कि नवोदित शायर मुजम्मिल अयूब ,नवोदित कवि सूरज सिंह,उभरते हुए कवि दीपक शंखधार जी ने नई पहल से प्रथम बार काव्य-पाठ कर हमारे उद्देश्य को मजबूती प्रदान की । इस बार के कार्यक्रम का विशेष आकर्षण रहा कि युवा कवि ब्रजनंदन पचौरी जी संस्कृत भाषा में कविता पाठ कर सभी को चकित कर दिया । कार्यक्रम में मुख्य अतिथि सुप्रसिद्ध साहित्यकार श्री रामशरण गौड़ जी उपस्थित रहे और नवोदित कवियों को भरपूर आशिर्वाद दिए ।

कार्यक्रम की शुरुआत इंद्रजीत सुकुमार जी की मधुर वाणी में सरस्वती वंदना से हुई । तत्पश्चात मुख्य अतिथि सहित सभी गणमान्य अतिथियों एवं कवियों को सम्मानित किया गया । काव्यपाठ की श्रृंखला में युवा कवि विक्रम प्रताप जी ने अपनी कविता "खेतों में किसानों की मुहब्बत हल चलाती है " से शानदार शुरुआत की और सामाजिक कारोकारों की बात करते हुए महफ़िल में छा गए । नवोदित शायर मुजम्मिल अयूब ने " वो यूँ ही मेरे हिस्से नहीं आया ,मुद्दतों आँखों ने नींद का रोजा रक्खा है " जैसी कवितायेँ कर के सभी को शायराना कर दिया । नवोदित कवि सूरज जी ने "हूँ तुलसी के छंद समेटे ,क्या मेरी कोई कृति गायी है " पढ़कर सभी की खूब वाहवाही लूटी । नवोदित कवियों की इसी श्रृंखला में दीपक शंखधार जी ने भी बहुत सुन्दर कवितायेँ पढ़ी । जिनकी पंक्तियाँ "मैं दीवाली अली ,राम ,रमजान हूँ ,मैं हिंदुस्तान हूँ " खूब सराही गयी । मंच पर उपस्थित एकमात्र कवियित्री श्रीमती संगीता गोयल जी ने बहुत खूबसूरत अशआर पढ़े । उनके मुक्तक "न जाने कैसी हवा सी चली है ,यहाँ जिंदगी फड़फड़ाने लगी है " खूब पसंद किया गया ।कार्यक्रम का विशेष आकर्षण संस्कृत कविता वाचन जिसे ब्रजनंदन पचौरी जी ने बखूबी अंजाम दिया । उनकी संस्कृत की कविता "दमयन्ती शमयन्ति त्रिश्नामी मन मेव "सभी को आश्चर्य कर दी कि आजकल जहाँ संस्कृत भाषा की पकड़ आम आदमी पर कमजोर होती जा रही है वहां नई पहल के मंच से इतनी सुन्दर कविता पढ़ी जा रही है ।सभी ने संस्कृत कविता को खूब मन से सुना और नई पहल के इस प्रयोग को खूब सराहा ।हमेशा की तरह इंद्रजीत सुकुमार जी ने अपने मुक्तक वर्षा से सभी को प्रेम के रस में भिगो दिया । उनका गीत "किसी की आँख में आँसू छलकता छोड़ आया हूँ "सभी को खूब भाया । अंत में देश सुप्रसिद्ध कवि डॉ धनञ्जय सिंह जी ने कार्यक्रम को शिखर पर पहुंचा दिया । जब उनके मुक्तक "तुमको अपना कहकर मैंने अपना अपनापन दे डाला ,तन पर तो अधिकार नहीं था मैंने अपना मन दे डाला " प्रांगण में गूंजे तो अचानक से श्रोताओं की और भीड़ उमड़ पड़ी । उन्होंने बहुत सुन्दर-सुन्दर कविता पढ़ कर ,नई पहल के इस आयोजन को समृद्ध कर दिया । साथ ही साथ उन्होंने नई पहल के इस सराहनीय कदम की बहुत प्रशंसा की । उन्होंने कहा कि नए कवियों को मंच प्रदान करना और निखारना साहित्य और संस्कृति के विकास के लिए बहुत आवश्यक है जो नई पहल कर रही है ,जिसके लिए यह संस्था साधुवाद की पात्र है । उन्होंने संस्था का हर तरह से सहयोग करने की बात कही ।मुख्यअतिथि के रूप में पधारे वरिष्ठ साहित्यकार श्री राम शरण गौड़ जी ने सभी कवियों के काव्य-पाठ की खूब सराहना की और नई पहल के इस प्रयास के लिए बधाई दी । उन्होंने कहा कि आजकल समाज में को विसंगतियाँ उत्पन्न हो रही है उसे दूर करने के लिए साहित्यकार और कवियों का आगे आना बहुत आवश्यक है जिस कड़ी में नई पहल की भूमिका ऐतिहासिक हो चुकी है । गौड़ जी ने नोएडा को सांस्कृतिक शहर के रूप में पहचान दिलाने के लिए उपस्थित सभी साहित्यकारों के इस प्रयास की भूरी-भूरी प्रशंसा की साथ ही साथ उन्होंने उपस्थित श्रोताओं की भी प्रंशसा की और कहा कि आजकल लोग अच्छी बातों को सुनना कम चाहते हैं ऐसी स्थिति में समय निकाल कर कविताओं को सुनने के लिए उपस्थित श्रोताओं की बहुत तारीफ की ।

कार्यक्रम में नोएडा एवं आसपास के कई गणमान्य अतिथि उपस्थित होकर इस आयोजन को सफल बनाये । जिनमें सुप्रसिद्ध हास्य कवि सर्वश्री बाबा कानपुरी ,गीतकार डॉ अशोक मधुप,डॉ राजपाल सिंह यादव,लोकमंच के अध्यक्ष महेश सक्सेना, समाजसेवी त्रिलोक शर्मा,गुलशन शर्मा,उपदेश भरद्वाज,एस सी मिश्रा ,हास्य कवि विनोद पांडेय ,युवा कवि उदय द्विवेदी जैसे कई नाम प्रमुख हैं। एक और यादगार ,सफल आयोजन के लिए नई पहल का यह कार्यक्रम याद किया जायेगा ।

धन्यवाद
विनोद पांडेय
संयोजक ,नई पहल

नव ऊर्जा युवा मंच द्धारा नोएडा में चलाया स फाई अभियान

नव ऊर्जा युवा मंच द्धारा आज नोएडा में सफाई अभियान चलाया। इस दौरान आम लोगों ने भी अभियान में रूचि दिखाई और अपनी भागीदारी निभाई एवं वहा के निवासियों से गंदगी ना करने की अपील की और शपथ दिलाई कि हम सब अपने आसपास सफाई रखेंगे "ना गंदगी करंगे और ना करने देंगे"| नव ऊर्जा युवा मंच की तरफ से करन सिंह ने कहा कि आगे से सफाई अभियान अलग अलग इकाइयों द्धारा पूरे नोएडा और दिल्ली शहर में चलाया जायेगा। इस मौके पर एम आई जी काम्प्लेक्स निवासी गिरीश वर्मा जी ने मुख्य रूप से सहयोग किया और और नव ऊर्जा युवा मंच के कार्यो को भी सराहा।

इस मौके पर हरीश पाठक, संदीप पंडित, मनोज मित्तल, राकेश कुमार , राजकुमार, शेखरचंद, सुब्रत सिंह, सौरभ बैसोया, मोहन साह, दीपक कनोजिया, सनी कनोजिया, बिट्टू पांडेय, मनोज कुमार, पंकज तिवारी, अजब सिंह, रितेश मिश्रा, अमरपाल सिंह, दिलीप पाल, सुरेंद्र सिंह, किशन चोटले, गुरंग मंडल सहित कई युवक व गणमान्य लोग मौजूद थे।

पेटीएम ई- कॉमर्स ने नए ऑनलाइन बाजार एप्लिक ेशन की शुरूआत की- पेटीएम मॉल

पेटीएम ई-कॉमर्स ने एंड्रॉयड पर अपने नए पेटीएम मॉल एप्लिकेशन के शुभारंभ की घोषणा की है। उपभोक्ता अब फैशन,इलेक्ट्रॉनिक्स, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स और घर के सामान जैसे अन्य चीजों जैसी श्रेणियों में लाखों उत्पादों को 14 लाख विक्रेताओं से अपनी सुविधानुसार खरीद सकते हैं। टीएम मॉल भारतीय उपभोक्ताओं के लिए मॉल और बाजार कोंसेप्ट का युनीक संयोजन की पेशकश करेगा। केवल सख्त गुणवत्ता दिशानिर्देशों और योग्यता मानदंड से गुजरने वाले विश्वसनीय विक्रेताओं को ‘मॉल’ पर अनुमति दी जाएगी। उपभोक्ता के गेरंटिड विश्वास को सुनिश्चित करने के लिए मॉल पर सूचीबद्ध सभी उत्पाद पेटीएम प्रमाणित गोदाम और शिपिंग चैनलों के माध्यम से गुजरेंगे।

बाज़ार, पेटीएम पर बेहद लोकप्रिय असंरचित खरीदारी चैनल को भी नई एप्लिकेशन पर दिखाया जाएगा। यह उपभोक्ताओं को व्यापक घरेलू और अंतरराष्ट्रीय वर्गीकरण उपलब्ध कराएगा।

भारत भर में 17 से अधिक पूर्ति केन्द्रों के साथ, पेटीएम मॉल उपभोक्ताओं को सबसे अधिक विश्वसनीय और कुशल ऑनलाइन शॉपिंग अनुभव की पेशकश देने के लिए तैयार है। मंच विक्रेताओं को 40 से अधिक कूरियर भागीदारों के अपने विशाल नेटवर्क के माध्यम से व्यापक पहुंच की पेशकश भी करेगा।

शुभारंभ के अवसर पर बोलते हुए, पेटीएम के उपाध्यक्ष सौरभ वशिष्ठ ने कहा, "भारतीयों के लिए पसंदीदा ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म बनने की हमारी यात्रा में,पेटीएम मॉल एप्लिकेशन की शुरुआत एक महत्वपूर्ण कदम है क्योंकि यह ग्राहकों को भरोसेमंद विक्रेताओं के साथ जोड़ता है। पेटीएम मॉल के माध्यम से,हमारा उद्देश्य उपभोक्ताओं को सबसे भरोसेमंद खरीदारी अनुभव प्रदान करना है। पेटीएम मॉल पर बेचे जानेवाले उत्पादों के लिए हम भंडारण और शिपिंग पर सख्त नियंत्रण और विक्रेताओं के लिए गुणवत्ता के मापदंड परिभाषित किए है। उपभोक्ता पेटीएम बाज़ार के माध्यम से भी घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उत्पादों का सबसे बड़ा वर्गीकरण पा सकेंगे, जिसे नई एप्लिकेशन पर भी चित्रित किया जाएगा।"

पेटीएम मॉल पेटीएम विक्रेता एप्लिकेशन का सरल और सहज अन्ग्रदेद संस्करण लांच करेगी। देश के व्यापारी समुदाय के भीतर बड़ा हिट, नवीनतम संस्करण 7 क्षेत्रीय भाषाओं में उपलब्ध होगा और स्मार्टफोन वाले किसी भी व्यक्ति को पेटीएम मॉल पर ऑनलाइन दुकान स्थापित करने की अनुमति देगा।

पेटीएम मॉल वर्तमान में एंड्रॉइड और वेब पर उपलब्ध है। इसमें देश भर में फैले हुए 1000 शहरों और कस्बों में 14 लाख से अधिक विक्रेताओं के द्वारा बेचे जानेवाले 68 मिलियन से अधिक उत्पाद को सूचीबद्ध किया गया है। iOS एप्लिकेशन को जल्द ही शुरू करने की उम्मीद है।

स्कूल के पास तंबाकू उत्पाद बेचने पर होगी क ार्यवाही

डीटीसीसी ने एक अभियान चलाते हुए नोएडा के सेक्टर 40 में स्थित खेतान स्कूल के पास 300 मीटर के अंतर्गत में तंबाकू उत्पाद बेचने वाले दुकानदारों पर कार्यवाही की गयी आपको बता दे की स्वास्थ्य विभाग की एंटी टोबैको सेल के अनुसार, सभी विक्रेता विभिन्न तरह से कानूनों का उल्लंघन कर रहे थे वही किसी भी स्कूल के 300 मीटर के दायरे में तंबाकू उत्पादों को बेचना अपराध है जिसके अनुसार डीटीसीसी ने एक अभियान चलाया जिसमे तकरीबन 1 दर्जन से ज्यादा तंबाकू उत्पाद बेचने वाले दुकानदारों के खिलाफ कार्यवाही की गयी है वही धारा-4 : के तहत किसी भी सार्वजनिक स्थान जैसे- अस्पताल, स्कूल, रेलवे स्टेशन, रेस्टोरेंट, अदालत, बस स्टैंड, सरकारी भवन इत्यादि के पास तंबाकू उत्पाद बेचना या धूम्रपान करना अपराध है। वही अधिकारियो का जिला गौतम बुद्धनगर में ये अभियान चलाया जा रहा है अगर कोई भी स्कूल के पास तंबाकू उत्पाद बेचता दिखाई देगा उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाएगी

EXPRESS VIEW APARTMENT SECTOR 93 ELECTIONS

By Sujeet ,

In my society express view apartment ,sector 93 Noida elections were not holding for last three years. Yesterday elections was held, but once again three to four people played (property Dealers) the same trick by filing another writ. As per affidavit filed by these people the result of election can not be declared. Order of the court is not loaded at site but still ACDCO not declared the result and vote box was sealed. Thanks to Sh NP singh(DM), CM Sh Ramanuj singh, SP city Dinesh Yadav, SHO Rashid Alvi for their continuous support and instructions because of them we could hold elections and manage to change the security agency. I would like to mention that despite if the three holidays they give us enough time and executed all required measures. Thanks sir !!! Interim committee has been formed to run the society till court orders !!!

WATER SUPPLY NOIDA SECTOR 62 WOES

गंगाजल की supply बन्द हैँ और जो सेक्टर 62 मे जो पानी की टंकी है उसको जो tubewell भरते है वो भी खराब है क्या tubewell को सही कराने मे भी आचार संहिता बाधा है । मुझे आप के staff से ही पता चला । पानी तो जनता से जुड़ा ऐसा case है जिसमें आचार संहिता नही होनी चाइये । आप से अनुरोध है कि सेक्टर 62 मे जो 2 tubewell है उनको जल्दी से जल्दी सही करवाने का कस्ट करें । अन्यथा पूरे सेक्टर 62 मे बहुत problem होगी । ये नोएडा authority की lack of planning है । अगर NH 24 को wide करने के लिये गंगाजल की line shift करनी थी तो जो नोएडा authority के पास अपने संसाधन हैँ उनको पहले दुरुस्त करना चाइये था ।
धन्यवाद
सुखदेव शर्मा
सचिव(फोनरवा)
President RWA रजत विहार