Daily Archive: September 16, 2018

डा. अनिता सक्सेना जी ने लगाया होमियोपैथी च िकित्सा शिविर

नवरत्न फाउंडेशन्स द्वारा सेक्टर 8 नोएडा में संचालित नवरत्न ज्ञानपीठ में दिल्ली की प्रसिद्ध होमियोपैथ डॉक्टर अनीता सक्सेना ने ज्ञानपीठ के बच्चो एवं निकट स्लम बस्ती के लोगों के लिए पूर्णतया निशुल्क होमोपथी चिकित्सा शिविर लगाया जहां 100 से ज्यादा लोगों ने इसका लाभ उठाया. डॉ. अनीता सक्सेना जी ने सभी आये मरीजों का भीषण गर्मी एवं बिजली की अनुपस्थिति में बहूत ही आराम से निरिक्षण कर निशुल्क दवाईयों भी प्रदान करीं. डॉ. अनीता जी की अनुसार अनेक मरीज़ मौसमी बिमारियों जैसे मियादी बुखार, डारिया,खांसी जुकाम, बदन दर्द के साथ काफी लोग खासकर महिलाएं पुरानी चली आ रही बिमारियों से ग्रस्त पाये गये. डॉ. अनीता के अनुसार इन सब के लिए दो सप्ताह की दवाईयों दी गयीं हैं और जल्द जी दो सपताह पुन: शिविर लगा कर इनको दुबारा परिक्षण किया जायेगा ताकि बिमारी में सुधार के अनुसार और आगे इलाज़ किया जा सकें. नवरत्न के अध्यक्ष ने डॉ. अनीता का ह्रदय से आभार प्रकट किया उनके इस उच्च कोटि के सामाजिक कार्य के लिए. श्रीवास्तव जी ने कहा की स्लम बस्तियों में अधिकांश लोग अपने सेहत का ध्यान अपनी रोज़ी रोटी के संघर्ष में रख पाते हैं अत: इसको ध्यान में रखते हुए डॉ. अनीता सक्सेना एवं उनके पतिदेव श्री अजय कान्त सक्सेना की यह पहल उनके लैंडमार्क प्रोजेक्ट के अंतर्गत सराहनीय है और आशा है की यह शिविर हर दो सप्ताह में यहाँ लगता रहेगा.

इस शिविर को सफल बनाने में डॉ. अनीता सक्सेना जी के पूरे परिवार के साथ ज्ञानपीठ के संचालक रमाकांत सिंह एवं अजय मिश्र का योगदान रहा.

नॉएडा : कलयुगी बाप ने 12 वर्षीय बेटी को बनाय ा अपनी हवस का शिकार

नॉएडा : समाज के साथ साथ घरो में भी सुरक्षित नहीं रही है बेटिया , ये इंसानियत को शर्मसार करने वाले वहशी लोग समाज के साथ साथ अपने घरो में किसी ना किसी रूप में मिल जायेंगे , लेकिन हम समय रहते इनको पहचान नहीं पाते है , और हम पुलिस प्रशासन व् देश के कानून को दोष देते है। ऐसा ही एक घटना समाज परिवार व् देश को शर्मसार करने वाली नॉएडा शहर में घटी।
जहा एक कलयुगी बाप ने अपनी ही 12 वर्षीय बेटी को हवस का शिकार बनाया , और विरोध करने पर बेटी के साथ मार पीट भी की। आखिर पीड़िता ने थाने में शिकायत दर्ज करा दी , वही पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस जानकारी के मुताबिक मूलरूप से संभल निवासी आरोपी पिता परिवार के साथ नोएडा के एक गांव में रहता है। गुरुवार रात वह शराब पीकर घर आया था। आरोपी ने पत्नी के साथ गाली-गलौज की। इससे पति-पत्नी में कहासुनी हो गई। इसके बाद परिवार के सभी सदस्य सो गए। रात 12 बजे पिता ने बेटी के साथ दुष्कर्म किया। शोर मचाने पर उसके मुंह में कपड़ा ठूंस दिया जिस कारण मां को घटना का पता नहीं चल सका। आरोपी ने घटना के बारे में किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी। शुक्रवार सुबह बेटी की तबीयत बिगड़ी तो मां ने उससे पूछताछ की। बेटी ने मां को आपबीती सुना दी। इसके बाद जब मां ने पिता से घटना के बारे में पूछा तो आरोपी ने पूरे परिवार के साथ मारपीट करनी शुरू कर दी। आरोपी ने पत्नी और बेटी को कमरे में बंद कर दिया। किसी तरह शनिवार को मां बेटी को लेकर फेज थ्री थाने पहुंची। पीड़िता ने पिता के खिलाफ थाने में तहरीर दी। एसपी सिटी अरुण कुमार ने बताया कि पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने पिता के खिलाफ दुष्कर्म, मारपीट, पॉक्सो एक्ट समेत विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। पीड़िता को मेडिकल के लिए भेजा गया है।

नॉएडा : 17 सितम्बर से शुरू होगा जनपद में स्व ास्थ मेला

नॉएडा : लोगो के सही स्वास्थ की जाँच हो सके , और साथ ही लोगो के अंदर स्वास्थ के प्रति कैसे सचेत रहे , इसके लिए स्वास्थ विभाग ने हेल्थ कैम्प का आयोजन करने जा रहा है जो नॉएडा शहर में 10 दिन तक कस्बो व् गाँवो में लगाया जायेगा ,
जानकारी देते हुए सीएमओ डॉ अनुराग भार्गव ने बताया कि इस हेल्थ कैम्प की शुरुवात 17 सितम्बर से जो 26 सितम्बर तक चलेगा , ये कैंप शहर के 6 अन्य जगहों पर भी लगाए जाएंगे। दरअसल स्वास्थ्य विभाग 17 सितंबर से लेकर 26 सितंबर तक जिले में मेगा हेल्थ आउटरीच कैंप लगाएगा।
इसका उद्देश्य लोगों को घर के नजदीक बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराना है। प्रत्येक कैंप में 6 विशेषज्ञ डॉक्टरों के साथ ही 12 पैरामेडिकल स्टॉफ की टीम भी तैनाती की गई। कैंप में एक महिला रोग विशेषज्ञ भी होगी।
साथ ही कैंप में एक वेन भी तैनात होगी जो लोगों को इलाज के साथ ही दवा की सुविधा भी मिलेगी। इस दौरान नॉन कम्यूनिकेबल डिजीज से ग्रस्त रोगियों को भी स्वास्थ्य सुविधा प्रदान की जाएगी। कैंप में लगने वाले शिवरो में हर बीमारी जैसे डायबिटीज, हाइपरटेंशन, मानसिक रोग, कुष्ठ रोग, टीबी रोग, सरवाईकल, ओरल हाइजीन और ब्रेस्ट कैंसर की जांच से जुड़ी विशेषज्ञों की टीम होगी। सीएमओ ने बताया कि कैंप में गर्भवती महिलाओं व बच्चों के टीकाकरण एवं कुपोषित बच्चों के उपचार की भी सुविधा मिलेगी।कैंप की शुरुआत 17 सितंबर को सेक्टर-93 स्थित एसआइसी से होगी होगी। जहां पहले दिन बरौला में ये स्वास्थ्य कैंप लगेगा। तो वहीं 18 को सेक्टर-34 के बरात घर, 19 को सेक्टर-11 स्थित धवल गिरी अपॉर्टमेंट, 20 को बसई गांव के पहलवान फार्महाउस, 23 को सदरपुर के आरके पब्लिक स्कूल, 26 को सेक्टर-19 स्थित नोएडा मंदिर में ये कैंप लगाया जाएगा।सभी शिविर में एएनएम के द्वारा टीकाकरण लगाने की भी सुविधा मिलेगी।

नॉएडा : 14 वर्षीय बच्ची के साथ पडोसी ने किया द ुष्कर्म , पुलिस जाँच में जुटी

नॉएडा : देश में सरकार भले ही महिलाओं की सुरक्षा को लेकर काफी संजीदा नजर आती है सरकार की ओर से तमाम दावे पेश किए जाते हों लेकिन उत्तर प्रदेश के हालात कुछ और बयान करते हैं । उत्तर प्रदेश की सबसे हाई टेक सिटी माने जाने वाले नोएडा में पिछले 2 दिनों से सरकार के दावों की पोल खोलती घटनाएं सामने आ रही हैं जहां पिछले दो दिनों में 2 नाबालिग बच्चीयों को दरिन्दों द्वारा दरिन्दगी का शिकार बनाया गया है । 2 दिन पहले पिता बेटी के रिश्ते को कलंकित करती घटना के बाद आज 14 वर्षीय नाबालिग मंदबुध्दि बच्ची को उसके ही पड़ोसी ने दुष्कर्म का शिकार बनाने की घटना सामने आई है । वहीँ पुलिस अधिकारियों का कहना है कि बच्ची की माँ ने बताया है कि उसकी बेटी के साथ 2 दिन पहले एटा का रहने वाला उसके पड़ोसी ने दुष्कर्म को अंजाम देने के बाद फरार हो गया है । फिलहाल पुलिस ने 376 व पास्को एक्ट में मामला दर्ज बच्ची को मेडिकल के लिए भेज दिया है ।वहीँ एक टीम बनाकर आरोपी को पकड़ने के लिए टीम को एटा रवाना कर दिया गया । जल्दी ही आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया जाएगा ।

डाॅ. अनिता सक्सेना जी ने लगाया होमियोपैथी चिकित्सा शिबिर

नवरत्न फाउंडेशन्स द्वारा सेक्टर 8 नोएडा में संचालित नवरत्न ज्ञानपीठ में दिल्ली की प्रसिद्ध होमियोपैथ डॉक्टर अनीता सक्सेना ने ज्ञानपीठ के बच्चो एवं निकट स्लम बस्ती के लोगों के लिए पूर्णतया निशुल्क होमोपथी चिकित्सा शिविर लगाया जहां 100 से ज्यादा लोगों ने इसका लाभ उठाया.

डॉ. अनीता सक्सेना जी ने सभी आये मरीजों का भीषण गर्मी एवं बिजली की अनुपस्थिति में बहूत ही आराम से निरिक्षण कर निशुल्क दवाईयों भी प्रदान करीं. डॉ. अनीता जी की अनुसार अनेक मरीज़ मौसमी बिमारियों जैसे मियादी बुखार, डारिया,खांसी जुकाम, बदन दर्द के साथ काफी लोग खासकर महिलाएं पुरानी चली आ रही बिमारियों से ग्रस्त पाये गये. डॉ. अनीता के अनुसार इन सब के लिए दो सप्ताह की दवाईयों दी गयीं हैं और जल्द जी दो सपताह पुन: शिविर लगा कर इनको दुबारा परिक्षण किया जायेगा ताकि बिमारी में सुधार के अनुसार और आगे इलाज़ किया जा सकें. नवरत्न के अध्यक्ष ने डॉ. अनीता का ह्रदय से आभार प्रकट किया उनके इस उच्च कोटि के सामाजिक कार्य के लिए. श्रीवास्तव जी ने कहा की स्लम बस्तियों में अधिकांश लोग अपने सेहत का ध्यान अपनी रोज़ी रोटी के संघर्ष में रख पाते हैं अत: इसको ध्यान में रखते हुए डॉ. अनीता सक्सेना एवं उनके पतिदेव श्री अजय कान्त सक्सेना की यह पहल उनके लैंडमार्क प्रोजेक्ट के अंतर्गत सराहनीय है और आशा है की यह शिविर हर दो सप्ताह में यहाँ लगता रहेगा.

इस शिविर को सफल बनाने में डॉ. अनीता सक्सेना जी के पूरे परिवार के साथ ज्ञानपीठ के संचालक रमाकांत सिंह एवं अजय मिश्र का योगदान रहा.