Daily Archive: June 12, 2017

पाकिस्तान के रोहान को नोएडा में मिलेगी नई जिंदगी

नोएडा -पाकिस्तान निवासी चार माह का मासूम रोहान सोमवार को इलाज के लिए परिवार के साथ भारत आएगा। नोएडा के जेपी अस्पताल में बच्चे के दिल का ऑपरेशन किया जाएगा। डॉक्टरों ने उसके दिल में छेद होने की बात बताई है। पाकिस्तान में इलाज संभव नहीं होने की वजह से बच्चे के परिजन भारत में इलाज कराना चाह रहे थे।

इसके लिए कई माह से वीजा लेने की कोशिश कर रहे थे। आखिरकार विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के हस्तक्षेप से वीजा मिल गया। इसके साथ ही बच्चे का इलाज भी सुनिश्चित हो गया।
पाकिस्तान निवासी चार माह का मासूम रोहान सोमवार को इलाज के लिए परिवार के साथ भारत आएगा। नोएडा के जेपी अस्पताल में बच्चे के दिल का ऑपरेशन किया जाएगा। डॉक्टरों ने उसके दिल में छेद होने की बात बताई है। पाकिस्तान में इलाज संभव नहीं होने की वजह से बच्चे के परिजन भारत में इलाज कराना चाह रहे थे।

इसके लिए कई माह से वीजा लेने की कोशिश कर रहे थे। आखिरकार विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के हस्तक्षेप से वीजा मिल गया। इसके साथ ही बच्चे का इलाज भी सुनिश्चित हो गया।
पाकिस्तान के लाहौर में रोहान परिवार के साथ रहता है। वहां इलाज संभव नहीं होने की वजह से रोहान के पिता कनवाल सादिक ने बच्चे का इलाज भारत में कराने की सोची। इसके लिए उन्होंने भारत का वीजा लेने की कोशिश शुरू की। भारत-पाकिस्तान के बीच बढ़ते तनाव के कारण बच्चे को भारत लाने के लिए वीजा मिलने में बाधा आ रही थी। इसे देखते हुए परिजनों ने सुषमा स्वराज के ट्विटर हैंडल पर भारत में रोहान के ऑपरेशन के लिए मदद मांगी। इसमें वीजा सहित अन्य अपील की गई थी। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर बच्चे के इलाज में मदद का भरोसा दिलाया था। उन्होंने बच्चे के माता-पिता को पाकिस्तान स्थित भारतीय दूतावास में संपर्क करने की सलाह दी।
इसके बाद भारत आने के लिए उन्हें वीजा मिल गया। बच्चे को लेकर परिवार वाले सोमवार को भारत आएंगे। नोएडा पहुंचने पर उसका इलाज शुरू हो जाएगा। जेपी अस्पताल के डॉक्टर आशुतोष मारवाह रोहान की जांच करेंगे। इसके बाद डॉ. राजेश शर्मा और उनकी टीम ऑपरेशन करेगी। अस्पताल के सीईओ डॉ. मनोज लूथरा ने बताया कि रोहान को जिस तरह की बीमारी है, उसका समय पर इलाज कराना जरूरी है। विदेश मंत्री ने दोनों देशों के बीच तनाव को पीछे छोड़कर बच्चे के इलाज के लिए मानवता दिखाई है। उनके ही प्रयासों से बच्चे का इलाज संभव हो पाएगा।

तेजाब बिक्री करने वाले विक्रेताओं पर कसा शिकंजा ,डीएम – बीएन सिंह

नोएडा – जिलाधिकारी गौतम बुद्ध नगर ब्रजेश नारायण सिंह के निर्देशन में तहसील जेवर में उप जिला मजिस्ट्रेट शुभी सिंह काकन के द्वारा एंटी भू माफिया कार्यक्रम के तहत निरंतर रूप से कार्रवाई करते हुए सरकारी भूमि का चिन्हीकरण कर उसे खाली कराने की कार्रवाई की जा रही है । इसी कड़ी में आज उपजिलाधिकारी जेवर शुभी सिंह काकन एवं उनकी तहसील टीम के द्वारा राजस्व ग्राम लोधाना में गाटा संख्या 218 तालाब का चिन्हीकरण करते हुए उसके सौंदर्यकरण का कार्य आरंभ करा दिया गया है। इसी प्रकार उनके द्वारा राजस्व ग्राम फलेंदा बांगर में गाटा संख्या 32 इसका रखवा है 7 पॉइंट 98 हेक्टेयर भूमि जो चरागाह की भूमि है उसका भी चिन्हीकरण कराया गया है ।

राशन कार्ड सत्यापन के लिए दिए निर्देश – डीए म बी एन सिंह

नोएडा -जिलाधिकारी गौतमबुद नगर बी एन सिंह के निर्देशानुसार नगर नोएडा में गेझा तिलपताबाद के प्राइमरी स्कूल में राशन कार्ड सत्यापन के लिए आँगनबाडी द्वारा छूटे हुए पात्र गृहस्थी के आवेदन पत्र भरने तथा सत्यापन के लिए कैम्प का आयोजन किया गया । आयोजित कैंप में आपूर्ति विभाग के ए आर ओ नोएडा विजय बहादुर सिंह ने उपस्थित होकर जन सामान्य को शासन के निर्देशों से अवगत कराते हुए पात्र गृहस्थी के कार्ड बनाए जाने के सम्बन्ध निर्धारित मानकों की जानकारी दी। सभी उपस्थित कार्ड धारको को यह भी कहा कि जो मानक के अनुसार पात्र नहीं है वह स्वयं कार्ड समर्पण कर दें इस पर एक महिला ने अपनी आय 3 लाख से अधिक बताते हुए अपना कार्ड ए आर ओ सिंह को सौंप दिया जिसे मौके पर निरस्त कर दिया गया। इस कैम्प में 12 आँगनबाडी इस सेक्टर एवं गाँव के 1167 कार्डो का सत्यापन कर रहीं हैं अब तक यहाँ 700 कार्डो का सत्यापन हो चुका है तथा 214 छूटे हुए पात्र गृहस्थी के नये आवेदन पत्र जमा हुए हैं जिनकी जांच करके आन लाइन फीडिग कराई जाएगी। राशन कार्ड का यह कार्य 30 जून तक पूरा किया जाना है। जिला पूर्ति अधिकारी आर एन यादव ने बताया कि जनपद में आँगनबाडी अच्छा कार्य कर रहीं हैं और निर्धारित समय में कार्य पूर्ण कराये जाने का प्रयास है। आँगनबाडी को राशन दुकानों पर गठित सतर्कता समिति में सदस्य भी नामित कर दिया गया है जो प्रत्येक माह होने वाले राशन वितरण पर भी नजर रखेगी । आयोजित कैंप में आपूर्ति विभाग के अधिकारीगण अन्य स्टाफ क्षेत्र की आंगनवाड़ी कार्यकत्री तथा अन्य गणमान्य व्यक्तियों के द्वारा भाग लिया गया