Daily Archive: March 13, 2018

Day by day worsening traffic conditions at Smart City Noida.

Respected CEO Noida Authority/ DIG Love Kumar Ji /DM Noida /SP Traffic .

Subject : Day by day worsening traffic conditions at Smart City Noida.

Respected Sir,

As you must be aware Noida is planned and smart City ( on Papers only ) with a Population of Approx 8 lakhs ( 6.37 lakh as per 2011 census ) and day by day traffic volume is increasing and traffic Condition is getting worst and 130 days after 4th Nov 2017 traffic meeting no improvement at ground reality ,because of following reasons.
As per today’s news paper report in last one year 5.40 lakhs new vehicles got registered with RTO Noida ,out of which​ 1.94 lakhs are four vehicles,but there is not enough parking or road width for them now.

#1 Noida traffic police always short of resources : As mentioned during 4th November 2017 and at be various places,Noida traffic police is always short of resources be it men power or crane or Papers for printer.
A) NTP hardly have 150 resources for full Gautam budhnagar ( Population of Approx 16 lakhs ) and most of them are out for VVIP duties or on leave etc and at any given day, hardly 100 of them are available for duty.This issue was raised by MLA Pankaj Ji at assembly as well but no solution. On the other hand DTP have strength of 7000. This condition be handled using local police n PCR n Lots of suggestion were given for the same but all ignored.

B) NTP is always dependent on Noida Authority, be it cranes or paper for printers to send challans.
As a result of such short staff n dependency, NTP not able to give his best results despite having capacity n will power to do so.

#2 Poor planning of Noida Authority and delay working.

Majority of traffic bottle necks/ traffic issues are because of poor planning by Noida Authority specially traffic cell ,few examples.

A) Noida City center n Logix mall light traffic jam : Solution given not implemented.

B) Traffic jam below all metro station : Can be easily handled by placing security guards,which are placed at few station but either they don’t work or don’t have required infra to manage things.

C) Balak nath cut jam : Various letter written by different SP Traffic for U turn from years but not implemented yet.

D) New bottle necks​ of Mamura junction n below sec 59 Metro station due to missing FOB.

E) Sector 71 junction traffic jam ( NTP is mainly responsible for it ).

F) On road parking by NA on various roads of Noida , increasing traffic jam.

G) No action on illegal parking created outside commerical of various 7X Societies.

Time again and again , various organizations/Individuals have given suggestion to improve traffic issues across Noida but most of them are not implemented .

Till the time NTP staff is not increased and Noida Authority dnt fix basic infra /traffic problems things won’t improvement irrespective of fact,how many new underpass or Elevate road we create ,as they just shift traffic bottle neck ,perfect example is Sec 61 underpass which has shifted bottle neck below sec 59 Metro station or Sec 18-61 Elevated road which has shifted bottle neck at sec 71,67 road.

Have not talked about various other traffic bottle neck like Sec 16,18,01,MP1,Botanical Garden ,Mahamaya,DSC road ,Bhangel ,DND, Expressway, Labour Chowk ,Model town ,3 Tin murti etc etc.

Till the time NTP n NA don’t improve working, things won’t improve n we will keep wasting time in traffic jams.

Humbly ,I request you to please help on above issues n improve traffic condition across Noida.

Please ignore typo if any.

Thanks,
Amit Gupta

नॉएडा : रेहड़ी-पटरी दुकानदारों ने अपनी मां गो को लेकर नोएडा प्राधिकरण के खिलाफ किया प्र दर्शन

नॉएडा : फुटपाथ व् सडको पर

रेहड़ी-पटरी लगाकर अपनी जीविका चलाने वाले गरीब लोगो पर कुछ दिन से

प्राधिकरण व् पुलिस प्रशासन उनका उत्पीड़न कर रहे है , सड़को व् फुटपाथ पर हो रहे अतिक्रमण को लेकर रेहड़ी-पटरी दुकानदारों ने नोएडा प्राधिकरण के खिलाफ के प्रदर्शन किया। साथ ही दुकानदारों ने प्राधिकरण व् पुलिस प्रशासन पर आरोप लगाया की उनका उत्पीड़न कर रहा है।

दुकानदारों ने नोएडा रेहड़ी-पटरी, गरीब रक्षा वाहिनी मोर्चा के बैनर तले मुख्य कार्यपालक अधिकारी, को अपनी मांगो को लेकर एक

ज्ञापन भी एसीओ राजेश कुमार को दिया। मुख्य कार्यपालक ने प्राधिकरण के बहार

प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों को आश्वासन दिया आपकी जो भी मांगे है उनका शीघ्र ही समाधान किया जाएगा। इस मौके पर मोर्चा के संरक्षक गंगेश्वर दत्त शर्मा ने कहा कि पुलिस और प्राधिकरण के कर्मचारी नोएडा में कई साल से फुटपाथ पर रेहड़ी-पटरी लगाकर अपनी जीविका चलाने वाले विक्रेताओं का सामान जब्त कर रहे हैं। उनकी रेहड़ियां उजाड़ी जा रही हैं। वेंडर जोन बनने से पहले ही अट्टा बजार को जबरन बंद करना सरासर गलत है। नोएडा में 107 जोन बनाकर 1323 पथ विक्रेताओं को लाइसेंस देने की बात करना गैर संवैधानिक है।

नॉएडा : बेरहम डॉक्टरों ने मरीज को बांधकर कि या इलाज

नॉएडा :जिला अस्पताल में डॉक्टरों को एक मरीज का इलाज करना दुश्भर हो गया। डॉक्टरों ने एक का इलाज मरीज को बांधकर करना पड़ा। डॉक्टरों के इस मामले में काफी तूल पकड़ गया , जानकारी के अनुसार मामला सेक्टर 30 स्थित जिला अस्पताल का है जिसमे बिहार का रहनेवाला संजय नामक व्यक्ति जो फिलहाल हरौला में रहे रहा था पीड़ित संजय को घायल अवस्था में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। डॉक्टरों को मरीज का इलाज करने में काफी परेशानी हो रही थी ,क्योकि मरीज शराब के नशे में था , इसलिए डॉक्टर ने मरीज के दोनों हाथ बांधकर इलाज किया गया। सेक्टर-30 स्थित जिला अस्पताल की इमरजेंसी में सोमवार को एक घायल मरीज के दोनों हाथ बेड से बांध दिए गए। सोमवार को पुलिस उसे जिला अस्पताल लेकर आई थी। शराब के नशे में होने की वजह से वह घायल हो गया था। स्टाफ से इस बारे में पूछने पर उन्होंने बताया कि डॉक्टर के कहने पर मरीज को बांधा गया था। वहीं, डॉक्टरों ने कहा कि नहीं बांधते तो मरीज किसी को नुकसान पहुंचा सकता था। वही मामले को संज्ञान में लेकर सीएमएस डॉ. अजेय अग्रवाल का कहना है कि संबंधित ड़ॉक्टर और स्टाफ से इस बारे में जवाब तलब किया जाएगा।