Daily Archive: August 30, 2018

इंडिया पोस्ट पेमेंटस् बैंक – शाखाएं देशभर के सभी जिला मुख्यालयों पर शुरु

केंद्र सरकार देश में 01 सितंबर 2018 से *इंडिया पोस्ट पेमेंटस् बैंक (India Post Payments Bank*) की शाखाएं देशभर के सभी जिला मुख्यालयों पर शुरु करने जा रही है। इसके साथ ही 3250 उप/शाखाडाकघर ऐक्सेस पोइंट के रूप में भी इसी दिन operation में आ जायेंगे। कालांतर में सभी 1.55 लाख डाकघरों से इंडिया पोस्ट पेमेंटस् बैंक की सेवाएं आमजन को मिलेंगी।

इंडिया पोस्ट पेमेंटस् बैंक (IPPB) के शुरू होने के बाद से post office के खाताधारकों (account holders) के लिए DOOR STEP BANK जैसी सुविधा शुरू होने जा रही है, जिसमें *घर बैठे ही एक कॉल* पर आपको पैसे पोस्टमैन द्वारा डिलीवर हो जाएंगे।

इसके लिए खाताधारकों को बैंक जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी, घर बैठे नगद/जमा करने की भी सुविधा होगी। आइपीपीबी आपको एसएमएस की सुविधा देता है, जिसके जरिए आप आसानी से अपने अकाउंट की डिटेल मोबाइल पर जान सकते हैं। इसके लिए आपको आइपीपीबी के एसएमएस बैंकिंग नंबर 7738062873 पर मैसेज करना होगा। ग्राहक को आइपीपीबी पर अपना मोबाइल नंबर दर्ज कराना होगा, ताकि उन्हें आसानी से मिस्ड कॉल बैंकिंग की सुविधा मिल सके। इसके बाद बैंक की तरफ से एक मैसेज आएगा, जिसमें पोस्टमैन के आने की जानकारी होगी।

एक कदम डाकघर की ओर बढ़ाएं। अपनी समुचित वित्तीय निदान पाएं।

*आप अपने खाते खुलवाने हेतु जल्द अपने नजदीकी डाकघर से संपर्क करें।*

जब आपका डाकघर आ गया आपके द्वार तो क्यूँ करें इंतजार। इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक आपके द्वार…..

मुख्य आकर्षणः

1. पोस्टमेन और ग्रामीण डाक सेवक द्वारा बैंकिंग सेवाएं आपके द्वार तक।

2. निःशुल्क बचत खाता और चालू खाता खुलवाने की सुविधा।

3. आपके द्वार पर विभिन्न बिलो के भुगतान की सुविधा।

4. आईपीपीबी के *पब्लिक ऐप से मोबाइल और नेट बैंकिंग की सुविधा।*

5. अपनो को *IMPS/NEFT/RTGS से पैसा ट्रांसफर* करने की सुविधा।

6. *QR कार्ड* से सरल और सुरक्षित बैंकिंग सुविधा।

7. सब्जी वाले/दूध वाले/रिक्शा वाले/चाय वाले/किराना दुकान वाले एवं अन्य छोटे एवं बड़े व्यापारियों के लिए चालू खाता एवं चेक बुक की सुविधा।

8. *व्यापारी सभी तरह का पेमेंट QR code से प्राप्त कर सकते है।*

9. बचत खाते में *न्यूनतम बैलेंस रखने की कोई बाध्यता नही।*

10.बचत खाते में 4% वार्षिक ब्याज दर।

11.आईपीपीबी खाते के साथ डाकघर बचत बैंक खाते को लिंक करने की सुविधा।

12.एक लाख से अधिक राशि डाकघर बचत बैंक में ऑटो स्वीप।

13. *किसी भी बैंक के खाते में पैसा स्थानांतरण की सुविधा*

नॉएडा : एडीएम को परिवार सहित इलाहाबाद हाई कोर्ट से मिला स्टे

नोएडा : कर्नल व एडीएम के बीच बड़े विवाद में नोएडा पुलिस को एक बार फिर लगा झटका । जहा कल एडीएम के गिरफ्तारी को लेकर कर्नल के साथ पूर्व फौजी हस्ताक्षर अभियान चला रहे थे शहर के लोगो को एक साथ जोड़ने की कोशिश कर रहे थे।तो दूसरी तरफ एडीएम व उनकी पत्नी बेटे सहित चार लोगों को इलाहाबाद हाई कोर्ट से स्टे मिल गया । अब उनकी गिरफ्तारी पर रोक लग गयी है। एडीएम ने जल्द ही शासन प्रशासन व जनता के सामने अपना पक्ष रखेंगे। वही इस मामले में सेक्टर 27 स्थित डीएम कैम्प ऑफिस पर बैठक कर एसएसपी अजयपाल शर्मा अपनी जाँच रिपोर्ट मेरठ मंडल कमिश्नर अनिता मेश्राम व आईजी रामकुमार को सौप दी है ।

नोएडा : सीएमएस ने जिला अस्पताल के बहार लगन े वाली पान गुटका की दुकानों को हटाने के दिए नि र्देश

नोएडा : स्वास्थ व स्वछता को लेकर जिला अस्पताल जागरूक हो गया है जिसको लेकर जिला अस्पताल के सीएमएस डॉ अजय अग्रवाल ने परिसर व बाहर का दौरा कर अवैध रूप से चल रहे वैंडर और अस्पताल के बाहर पान गुटका की दुकान चलाने वालों पर कारवाई करने के निर्देश दिए।
वही सीएमएस डॉ अजय अग्रवाल ने बताया कि उन्हें काफी दिन से शिकायत मिल रही थी अस्पताल के परिसार में एक वैंडर ने अवैध अधिकृत रूप से स्टाल लगा रखा है । जिसको लेकर उसको कई बार स्टाल हटाने के बोला गया था । लेकिन वो हर बार अनसुना कर देता था । आज कारवाई करने के उद्देश्य से आज परिसर का दौरा किया और स्टाल लगाने वाले दुकानदार का सारा सामान हमने मरीजो व तीमारदारों को बाट दिया । और उसे तुरंत परिसर से बाहर जाने के निर्देश भी दिया। और अस्पताल के बाहर लगने वाली पान गुटके की दुकानों को जल्द से जल्द हटने के निर्देश दिए है। अगर ये गंदगी अस्पताल के नाजदीक रहेगी तो मरीज के साथ साथ तीमारदार भी बीमारी के लपेटे में आ जाएंगे । और हमारी पहली प्रथमिकता है कि जहा स्वछता होगी वही स्वास्थ होगा ।

नोएडा के सेक्टर 2 में स्थित एक कंपनी में लग ी भीषण आग , आधा दर्जन से ज्यादा मौक़े पर पहुँची दमकल विभाग की गाड़ियां

नोएडा के सेक्टर 2 में स्थित एक कम्पनी में अचानक से भीषण आग लग गयी है । सूचना मिलते दमकल की गाड़ियां मौके पर पहुँची । फिलहाल अभी भी कंपनी में आग लगी हुई है । जिसको लेकर और दमकल गाड़िया मौक़े पर पहुचने जा रही है । आपको बता दे कि आग इतनी भयानक लगी है की पूरी कम्पनी को अपनी चपेट में ले लिया है । साथ ही इस कंपनी में काम रहे कर्मचारियों को बाहर निकाल दिया है। वही इस आग से लाखों रुपये का सामना जलकर खाक होने की सम्भावना हो सकती है ।

ग्रेटर नोएडा : राशन घोटाले में जिलापूर्ति विभाग ने 16 डीलरों भेजा नोटिस

ग्रेटर नोएडा : गरीबो को मिलने वाले राशन वितरण में हो रही धांधले बाजी को लेकर जिलापूर्ति विभाग ने डीलरों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया । जिसको लेकर 16 राशन डीलरों के खिलाफ नोटिस भेजकर जवाब मांगा है। लेकिन 14 राशनडीलरों ने नोटिस रिसीव करने से इनकार कर दिया है ।
बतादे ग्रेटर नोएडा व दादरी क्षेत्रों में आधार कार्ड से छेड़छाड़ करके आधार नंबर बदल कर राशन वितरण कर रहे थे । शिकायत के आधार पर जिलापूर्ति विभाग ने तुरंत जांच के आदेश दिए , और इस मामले में दादरी के एआरओ दादरी कोतवाली में छह लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया गया। इस घोटाले में और भी राशनडीलर की भूमिका संधिक लग रही है । जो भी लोग जांच के दायरे में आ गए है उन सब को नोटिस भेजा गया था 24 अगस्त को राशनडीलरों को जवाब दाखिल करना था। मगर कुछ डीलरों ने नोटिस लेने से मना कर दिया है , उनको दोबारा नोटिस भेजा जाएगा । अगर जवाब नही देते है तो उन पर कारवाई की जाएगी।

नोएडा : जली हुई बच्ची के इलाज के नाम पर ठगे 80 हजार रुपये

नोएडा : जली हुई बच्ची के इलाज के नाम पर 80 हजार रुपए ठग लिए। ठगो ने व्यक्ति को विश्वास में लेने के लिए वाट्सएप का सहारा लेना पड़ा , वाट्सएप पर बच्ची की फेक डिटेल और फोटो सेंड की, व्यक्ति को इमोशनल व् ब्लैकमेल कर पीड़ित से एक बैंक खाते से 80 हजार रुपए डलवा लिए। अपने आपको ठगा महसूस होने पर पीड़ित ने मामले की शिकायत सेक्टर-6 स्थित साइबर सेल पुलिस से की है। जानकारी के अनुसार पीड़ित ब्रजेश ओझा परिवार के साथ ग्रेटर नोएडा में रहते हैं। वह एक निजी कंपनी में काम करता हैं। ब्रजेश ने बताया उनके पास एक कॉल आया। कॉल करने वाले शख्स ने कहा कि एक मानवी नाम की बच्ची 80 प्रतिशत जल गई है। बच्ची दिल्ली स्थित इंडिया रिहाब सेंटर में भर्ती है। इलाज के लिए कुछ रुपए की जरुरत है। ठग ने ब्रजेश का भरोसा जीतने के लिए उन्हें वाट्सएप पर बच्ची की जली हुई फोटो और कुछ डिटेल डाली। इसके बाद ठग उन्हे इमोशनल ब्लैकमेल करने लगा। इस पर ब्रजेश कुछ मदद करने को तैयार हो गए। ठग ने उन्हें एक बैंक खाते कर डिटेल सेंड करते हुए उन्हें पैसा डालने को कहा। ब्रजेश ने दो बारी में 50 हजार रुपए खाते में डाल दिए। पैसा खाते में पहुंचने ठग ने दोबारा ब्रजेश को कॉल कर कुछ पैसा और डालने की गुहार लगाई। इस पर ब्रजेश ने 30 हजार रुपए ओर खाते में डाल दिए।पीड़ित का कहना है कि इसके बाद आरोपित ने मोबाइल नंबर ही स्विच आॅफ कर लिया।वही साइबर सेल पुलिस फोन no के जरिये जाँच करने में लगी है