Monthly Archive: November 2018

नोएडा सेक्टर-75 गोल्फ़ सिटी प्लॉट में बाउं सरों ने जम कर मचाया उत्पात

शुक्रवार रात नोएडा की एक हाउसिंग सोसाइटी में बाउंसर्स का उपद्रव देखने को मिला।

जानकारी के अनुसार बुलमैन वेंचर्स कंपनी के मालिक विकास शर्मा के आफिस के कुछ लोग बी-2 टावर के फ्लैट नंबर 302 में रहती हैं। लोगों का कहना है कि बिल्डर विकास शर्मा ने यहां अय्याशी का अड्डा बना रखा है।

कल रात विकास शर्मा अपने बाउंसर्स के साथ इस फ्लैट पर आया। टावर के सिक्योरिटी गार्डों ने जब उससे रजिस्टर में एंट्री के लिए बोला तो वो भड़क गया और उसने अपने साथ चल रहे 6 बाउंसर्स से गार्ड को मारने का आदेश दिए। बाउंसर्स ने पिस्तौल निकाल ली और गार्ड को पीटने लगे।

उन्होंने सोसाइटी के गार्डों को पिस्टल की नोक पर जमकर मारा पीटा। मारपीट के दौरान जब सोसायटी के रेसिडेंट्स बीच बचाव करने पहुँचे तो उन्हें धमकाया। पीसीआर को जब कॉल की गई तो बाउंसर बाउंडरी कूद कर भाग निकले। वो अपनी मर्सेडीज़ और सफारी स्टॉर्म कार छोड़कर भाग गए। पुलिस ने सफारी स्टॉर्म में 2 राइफल बरामद की है।

जानकारी के मुताबिक ये बाउंसर विकास शर्मा के हैं जो बुलमैन वेंचर्स नाम की कंपनी का मालिक है जिसका आफिस नोएडा के सेक्टर-75 में है। विकास शर्मा के बाउंसर्स 3-4 बार पहले भी मारपीट कर चुके हैं। मौके पर पहुंचे सब इंस्पेक्टर नीरज यादव ने बताया कि हमे कार में 2 राइफल मिली हैं। मामले की जांच कर रहे है और पुलिस उचित कार्रवाई करेगी। पुलिस को दो शिकायतें दी गईं हैं। एक शिकायत पीड़ित गार्ड कुलदीप यादव की और से दी गयी है। दूसरी शिकायत सोसाइटी के फैसिलिटी मैनेजर देवाशीष की तरफ से दी गई है।

देवाशीष ने बताया कि विकास शर्मा के ये बाउंसर्स अक्सर फ्लैट में पार्टी करते हैं। शोर शराबे का विरोध करने पर रेसिडेंट्स को धमकाते रहते है। जिसके चलते 3-4 बार पहले भी पुलिस में इनके शिकायत की जा चुकी है।

एसपी अशोक कुमार के साथ उधमियों ने की बैठक, अ पराध के मुद्दों पर की चर्चा

सेक्टर 6 स्थित नोएडा एंटरप्रिनियोर्स एसोसिएशन (एनइए) कार्यालय में उद्योगों की सुरक्षा को लेकर बैठक का आयोजन किया गया। इस दौरान गौतमबुद्ध नगर के पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार सह व अग्निशमन अधिकारी कुलदीप कुमार मौजूद रहे।

बैठक में एनइए अध्यक्ष विपिन मलहन ने बताया कि औद्योगिक सेक्टरों में शाम 6 बजे के बाद चेन, पर्स, मोबाइल झपटमारी की घटनाएं अधिक होती हैं। ऐसे में शाम को पेट्रो¨लग बढ़ाई जाए। इसके अलावा शहर में कई प्लेसमेंट व फर्जी कॉल सेंटर चलाए जा रहे हैं जो नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी कर रहे हैं। अधिकतर समय 100 नंबर डायल पर फोन दिल्ली में मिलता है। एटीएम के जरिए फर्जी तरीके से पैसे निकाल लिए जाते हैं।

कई बार उद्यमियों को आयकर विभाग के नाम पर फोन कर इकाई में आयकर सर्च के लिए आने की बात की जाती है। इन नंबरों को साइबर क्राइम आज तक ट्रेस नहीं कर सकी है। इस पर एसपी क्राइम अशोक कुमार ¨सह ने कहा कि 100 नंबर डायल करने पर फोन लखनऊ में मिलता है, जिसका फीड बैक लिया जाता है। सभी कॉल की जांच भी की जाती है। साइबर क्राइम को रोकने व उद्यमियों को जागरूक करने के लिए जल्द ही बैठक की जाएगी।

इस दौरान महासचिव वीके सेठ, वरिष्ठ उपाध्यक्ष धर्मवीर शर्मा, उपाध्यक्ष मोहम्मद इरशाद, किशोर कुमार, सचिव कमल कुमार, कोषाध्यक्ष शरद चंद्र जैन, सहकोषाध्यक्ष नीरू शर्मा, सहसचिव पियूष मंगला, मीडिया प्रभारी सुधीर श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे।

Government May Gift Aqua Line Metro To The Commuters On 25 December.

If everything goes well, people travelling between Noida and Greater Noida may receive a gift from the government.

The Aqua Line Metro is on the verge of getting started. The government has decided to inaugurate the Aqua Line Metro on December 25.

Prime Minister Narendra Modi and UP Chief Minister Yogi Adityanath will be inaugurating the new metro line.

Management has informed NMRC and both the centre and state governments about this. Yet no official announcements have been made.

Official sources have confirmed that the state government has sent a letter to the centre government for the appointment of Prime Minister for that day.

25 December is also the birthday of former Prime Minister, Late Atal Vihari Bajpayee, that’s why the government decided to inaugurate the metro line on this day.

The Aqua Line covers almost 30 kilometres and have 21 stations in between.

Earlier the cost of the project is decided to be 5500 crores but later NMRC reduced the cost to 4300 crores.

The trial process is in the last stage and would be given green signal in the first week of December after the inspection done by Commissioner of Metro Rail Safety.

The metro will bring more people to Greater Noida and will increase the mobility between the two cities.

न्यूज़ चैनल के मेकअप आर्टिस्ट ने फांसी लगाक र की आत्महत्या

रणहौला इलाके में एक न्यूज चैनल के मेकअप आर्टिस्ट ने फांसी लगाकर जान दे दी। मृतक की पहचान 27 वर्षीय रमन दास के रूप में हुई है। जानकारी के अनुसार, रमन नोएडा फिल्म सिटी स्थित एक न्यूज चैनल में मेकअप आर्टिस्ट और हेयर डिजाइनर के तौर पर कार्यरत थे। बुधवार को घर पर रमन से मिलने के लिए उसका दोस्त आया, लेकिन घर के दरवाजे पर सेंट्रल लॉक लगा था। उसने रमन को आवाज दी, लेकिन कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली।

इस पर दोस्त ने रमन के छोटे भाई को फोन कर सारी बात बताई। फिर रमन का छोटा भाई घर आया और आपात स्थिति में पड़ोसी के पास रखी गई चाभी से ताला खोला तो उन्होंने देखा कि रमन पंखे से लटका हुआ है। इसके बाद छोटे भाई ने किसी तरह रमन को पंखे से नीचे उतारा और दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

पुलिस के अनुसार, मृतक रमन के मोबाइल पर सुबह एक ही नंबर से कई बार फोन कॉल्स आई थीं। इसलिए पुलिस ने मृतक के मोबाइल को फारेंसिक जांच के लिए भेज दिया है।

टीबी के मरीजों की खोज के लिए डीएम ने रवाना क ी वैन, स्लम क्षेत्रों में जाकर टीबी के मरीजों की करेगी खोज

जिलाधिकारी गौतम बुद्ध नगर बी एन के सिंह के निर्देशन में जनपद का स्वास्थ्य विभाग विभिन्न सरकार की जन स्वास्थ्य योजनाओं का जन-जन तक लाभ पहुंचाने के लिए समय-समय पर विभिन्न गतिविधियां संचालित कर रहा है, ताकि सरकार की सभी स्वास्थ्य योजनाओं का लाभ जन-जन तक पहुंच सके।

इसी कड़ी में आज जिलाधिकारी के द्वारा अपने कैंप ऑफिस नोएडा से टीबी के मरीजों की खोज करने के उद्देश्य से एक मोबाइल वैन रवाना की गई। यह वैन आधुनिक उपकरणों से लैस है और वैन झुग्गी झोपड़ी तथा ग्रामीण क्षेत्रों में पहुंचकर टीबी के मरीजों की खोज करेगी। इस क्रम में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर अनुराग भार्गव ने जानकारी देते हुए बताया कि यह आधुनिक उपकरणों से लैस बैन 30 तारीख तक जनपद में संचालित रहेगी तथा विगत 26 नवंबर से बैन का जनपद में संचालन हो रहा है। इसके माध्यम से टीबी के मरीजों की खोज की जा रही है। इस अवसर पर अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर श्रीश जैन तथा अन्य चिकित्सा अधिकारी तथा गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

Relief For The Homeless, Night Shelter Facility To Start From 1 December

NOIDA, (29/11/2018) : As the temperature started to fall, the problems and the misery of the homeless people rise.

Without having an option, they only have the roadsides or open areas to sleep.

In Noida, these people can be seen in various parts, sleeping in the open area including sector 15 and 16 and Atta Peer Chowk.

Seeing the misery of these people Noida Authority plans to set up temporary 60 bed shelter in Noida Stadium in sector 21A.

This shelter will open from 1 December 2018 in which the homeless can spend their nights.

Talking to different NGO’s we came to know about the problem of lack of information and awareness among the poor and homeless.

Mala Bhandari, founder of Social and Development Research and Action Group (SADRAG) said, ”these facilities are not availed properly as many homeless people have no information, the authorities should involve NGO’s to reach out to the people whom these homes are meant”.

NGO’s can also help in arranging basic necessities like woollen clothes, blankets etc for them.

Rajesh Kumar Singh an officer of Noida Authority said that, “the structure of the shelter is almost complete with basic facilities like drinking water, blankets, bonfire facilities and some toilets in the premises, and will start from 1 December to 28 February

“The night shelter can accommodate around 60 persons at a time. The authority will monitor the shelter home and maintain its maintenance”, he added.

Noida On The Verge of Getting 179 Bus Shelters After 12 Years

NOIDA (29/11/2018) : A survey has been done by Noida Metro Rail Corporation (NMRC) about the bus shelter’s requirements and their condition in the city. The survey came to conclusion, that Noida needs 179 bus shelters at some 99 locations along the 10 bus routes in the city.

As of now Noida has only 25 bus shelters built in 2006, most which are not in a very good condition.

Noida Authority’s senior project engineer SC Mishra said that “they had asked NMRC to conduct a survey to know about the locations where the bus shelters are required and provide us with the list of the locations that should be given priority”.

“E-tendering will start in phases on the build-operate transfer (BOT) from December”, he added.

According to the survey 25 bus shelters are needed along the Botanical Garden-Greater Noida Authority route, 17 along sector 15 to 62 route, 12 along Botanical Garden- Kasna route, 7 along Botanical Garden- KPMG-Advant route and several at other routes.

Assistant regional manager (ARM) Satyendra Verma said that “the last time bus shelters were built in Noida was in 2006, and most of them are damaged now".

An official said that this issue has been discussed in a recent cabinet meeting of UP government, after which thus project has been given importance.

Noida Traffic Police To Increase Patrolling To Catch The Evaders

The height barrier installed at the Atta Peer Chowk to prevent the entry of heavy vehicles has been broken 10 to 12 times in past few weeks.
The route has become a get away for the large vehicles due to lack of patrolling by the Noida Traffic Police.
On Sunday the height barrier was removed by the authorities after it was totally knocked down by a truck on Saturday night.
This incident highlighted the lack of traffic cops overseeing the city routes at night, due to which the truck drivers took advantage and uses this route to evade the Police checks.
After the allegations imposed on the traffic police, they closed the entry to Sector 18 on Maharaja Agrasen Marg. This entry was closed earlier also but opened after the protest of Sector 18 market association.
Today a meeting at MLSS was held regarding this issue between the association.
Sushil Jain, president of the sector 18 market association said that “today’s meeting was very successful and it was decided to open the blocked cut between J block and P block”.
Mr. Anil Kumar Jha S P Traffic joined them at the site to oversee the situation and agreed on the proposals of the association.
S.K Jain thanked all the members of the association for this success.

नोएडा में फिर हुई पुलिस और बदमाशों के बीच म ुटभेड

नोएडा के सेक्टर 127 में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़।
एक बदमाश को गोली लगी दूसरा बदमाश मौके से फरार।
50 हज़ार का इनामी बदमाश पुलिस की गोली का हुआ शिकार। पिछले 12 साल से दादरी से फरार चल रहा था।
ताज मोहदमद नाम का यह बदमाश अभी कुछ दिन पहले ग्रेटर नोएडा पुलिस के साथ मुठभेड़ में फरार हो गया था ।
मुठभेड़ नोएडा के थाना एक्सप्रेस वे इलाके में सेक्टर 127 में हुई दूसरे फरार बदमाश की तलाश जारी ।

नवरत्न फाउंडेशन्स के 32 वां महिला सिलाई प् रशिक्षण का उद्घाटन 4 दिसम्बर को.

ग्रेटर नोएडा।सामाजिक विकास में सक्रिय सामाजिक संस्था नवरत्न फाउंडेशन्स द्वारा महिला सशक्तिकरण अभियान "अस्तित्व" के तहत चल रहे महिला सिलाई प्रशिक्षण केंद्रों की कड़ी को आगे बढ़ाते हुए अगला केन्द्र गौतमबुद्धनगर की दादरी तहसील स्थित बादलपुर गांव में खोलने का निर्णय लिया गया है।

आगामी 4 दिसम्बर को बादलपुर के कु मायावती महिला पोस्ट ग्रेजुएट कालेज में इस नवरत्न महिला सिलाई प्रशिक्षण केंद्र का उद्घाटन किया जाएगा।

गौरतलब है कि महिलाओं के आर्थिक विकास के लिए हुनरमंद बना कर उन्हें सशक्त बनाने की परिकल्पना को साकार करते हुये नवरत्न फाउंडेशन्स ने अब तक राष्ट्रीय राजधानी व उसके आसपास इलाको में 31 सिलाई प्रशिक्षण केंद्रों की स्थापना की है।

इन केंद्रों से हजारो महिलाएं प्रशिक्षित होकर रोजगार व स्वरोजगार में सक्रिय होकर अपने परिवारों के लिए महत्वपूर्ण आर्थिक जिम्मेदारी निभा रही है।शिक्षा की ललक लिए बालिकाएं प्रशिक्षित होकर आर्थिक स्वावलम्बी व शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ रही हैं।

"अस्तित्व" अभियान की इस कड़ी को आगे बढ़ाते हुए अगला 32वां महिला सिलाई प्रशिक्षण केंद्र बादलपुर के कु मायावती महिला पीजी कालेज में खोला जा रहा है।जिसका उद्धाटन 4 दिसम्बर को किया जाएगा।

आप से आग्रह है कि आर्थिक रूप से कमजोर महिलाओं को हुनरमंद बनाने के लिए प्रयासरत प्रतिभा विकास समर्पित सामाजिक संस्था नवरत्न फाउंडेशन्स के महिला सशक्तिकरण अभियान अस्तित्व अभियान में सहयोग कर इस मुहिम का हिस्सा बने।अस्तित्व अभियान के तहत अब तक 31 महिला सिलाई प्रशिक्षण केंद्र स्थापित किये जा चुके हैं।नवरत्न के खुलने वाले अन्य केन्द्रों सहयोग देकर महिलाओं, बालिकाओं को सबल बनाने में सहयोग करें।आपके द्वारा किये गए सहयोग से सुचारू रुप से खुलने वाले इस प्रशिक्षण केन्द्र से महिलाएं प्रशिक्षित होकर अपनी गृहस्थी की गाड़ी चला सकेंगी।

आप से पुनः निवेदन है कि महिला सशक्तिकरण के अभियान में अपना योगदान देने की कृपा करें ताकि आपके दिए गए योगदान से सिलाई में प्रशिक्षित होकर आर्थिक रूप से कमजोर महिलाएं अपने गृहस्थी की गाड़ी सुचारू रूप से चला सकें।सिलाई मशीन, आर्थिक मदद या किसी प्रकार अन्य सहयोग के लिए आप दिए गए नम्बर पर सम्पर्क कर सकते हैं।

अशोक श्रीवास्तव(अध्यक्ष, नवरत्न फाउंडेशन्स), मोबाइल : 9818700814